Due to the indifference of monsoon,

मानसून की बेरुखी से सूखे की आहट, क्षेत्र को सूखाग्रस्त घोषित करने यहां के किसानों ने खोला मोर्चा, उग्र प्रदर्शन की दी चेतावनी

Edited By: , July 21, 2022 / 08:02 PM IST

 warned of a fierce demonstration : उत्तरप्रदेश- जिला हमीरपुर जिला प्रशासन कार्यालय में गुरूवार को किसान यूनियन ने अपनी आवाज बुलंद कर दी है। किसानों ने प्रदर्शन करते हुए बुंदेलखंड को सूखाग्रस्त घोषित करने की मांग की है। प्रदर्शन कर रहे किसानों को कहना है कि 15 जुलाई के बाद बारिश हुई है जिसके चलते सिर्फ 5 फीसदी ही फसल की बुआई हो सकती है। ऐसे हालातों में बुंदेलखंड को सूखाग्रस्त घोषित कर देन चाहिए जिससे किसानों को राहत मिल सके। वहीं बिजली विभाग और बैंकों द्वारा की जा रही बसूली को तुरंत रोक देना चाहिए। वहीं किसानों ने कहा कि अगर हमारी बातों को सरकार नहीं मानती तो हम उग्र प्रदर्शन करेगें

〈 >>*IBC24 News Channel के WhatsApp  ग्रुप से जुड़ने के लिए  यहां Click करें*<< 〉

Read More: इतने दिनों तक बंद रहेंगी शराब और मांस मटन की दुकानें, इस वजह से राज्य सरकार ने लिया बड़ा फैसला 

उत्पादन में कमी

warned of a fierce demonstration : वहीं किसानों ने कहा कि खरीफ की फसल जैसे मूंग,तिल,उड़द ,मूंगफली,बाजरा जैसी दलहनी फसलों की खेती की जाती है। अच्छी बारिश के होने से उत्पादन बढता है लेकिन इस बार बारिश सिर्फ 35 एमएम ही हुई है जिसके कारण किसानों ने खरीफ की फसल नहीं बोई है। और जितनी भी बोई थी वह पानी की कमी के कारण खराब हो गई है। इस फसलों के कम उत्पादन से किसानों को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में सरकार आगें आकर बुंदेलखंड के किसानों को राहत प्रदान करे।

और भी लेटेस्ट और बड़ी खबरों के लिए यहां पर क्लिक करें

https://news.google.com/publications/CAAiEDmw7TrHss0psmg14kwgCkgqFAgKIhA5sO06x7LNKbJoNeJMIApI?hl=hi&gl=IN&ceid=IN:hi

 

#HarGharTiranga