विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ का भविष्य बंगाल में तृकां के प्रदर्शन पर निर्भर करेगा : अभिषेक |

विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ का भविष्य बंगाल में तृकां के प्रदर्शन पर निर्भर करेगा : अभिषेक

विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ का भविष्य बंगाल में तृकां के प्रदर्शन पर निर्भर करेगा : अभिषेक

:   Modified Date:  April 24, 2024 / 07:35 PM IST, Published Date : April 24, 2024/7:35 pm IST

(फाइल फोटो के साथ)

कोलकाता, 24 अप्रैल (भाषा) तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिषेक बनर्जी ने बुधवार को कहा कि विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ का भविष्य काफी हद तक लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल में उनकी पार्टी के प्रदर्शन पर निर्भर करता है।

पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी ने जंगीपुर लोकसभा क्षेत्र के रघुनाथगंज में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि चार जून को नतीजे देखकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ‘आश्चर्यचकित’ हो जायेगी और दिल्ली में एक ‘‘लोकतांत्रिक एवं धर्मनिरपेक्ष सरकार’’ बनेगी।

उन्होंने कहा, ‘‘विपक्षी गठबंधन ‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस’ (इंडिया) का भविष्य काफी हद तक इस बात पर निर्भर करता है कि पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस कैसा प्रदर्शन करती है… भाजपा चार जून को (लोकसभा चुनाव के) नतीजे देखकर हैरान रह जाएगी।’’

राष्ट्रीय स्तर पर ‘इंडिया’ गठबंधन के सहयोगी दलों कांग्रेस और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) पर निशाना साधते हुए डायमंड हार्बर से सांसद ने दावा किया कि जब राहुल गांधी और सोनिया गांधी विपक्षी गठबंधन के गठन के लिए तृणमूल कांग्रेस का समर्थन मांग रहे थे, तब इन दलों की पश्चिम बंगाल इकाई के नेता मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को अपशब्द कह रहे थे।

उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘मुझे अच्छी तरह से याद है कि जब सोनिया गांधी और राहुल गांधी मुंबई में ‘इंडिया’ गठबंधन को मजबूत करने के लिए तृणमूल कांग्रेस का समर्थन मांग रहे थे, तो कांग्रेस की पश्चिम बंगाल इकाई के नेता अधीर रंजन चौधरी और माकपा के मोहम्मद सलीम मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और तृणमूल कांग्रेस के खिलाफ बोल रहे थे।’’

उन्होंने कांग्रेस और माकपा पर महंगाई, नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) या राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) जैसे मुद्दों पर आवाज नहीं उठाने और भाजपा की ‘‘बी-टीम’’ के रूप में काम करने का आरोप लगाया।

अभिषेक बनर्जी ने कहा, ‘‘क्या यह सच नहीं है कि ममता बनर्जी सरकार लक्ष्मीर भंडार योजना के तहत वित्तीय सहायता देती है, जिससे महिलाओं को घर चलाने में मदद मिलती है। लेकिन क्या कांग्रेस या माकपा ने कभी बढ़ती कीमतों के खिलाफ बोला है । यह स्पष्ट है कि वे भाजपा की ‘बी-टीम’ के रूप में काम कर रहे हैं। उन्होंने सीएए या एनआरसी के खिलाफ एक भी शब्द नहीं बोला है।’’

भाषा देवेंद्र रंजन

रंजन

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers