Amarnath Yatra: Home Minister Amit Shah took high level meeting, gave

अमरनाथ यात्रा: गृहमंत्री अमित शाह ने ली हाई लेवल बैठक, दिए अहम निर्देश

अमरनाथ यात्रा को लेकर गृह मंत्री अमित शाह ने उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक ली। बैठक में उन्होंने श्रीनगर में यात्रियों के हिसाब से विमान सेवाएं

Edited By :   November 29, 2022 / 08:06 PM IST

नई दिल्ली। अमरनाथ यात्रा को लेकर गृह मंत्री अमित शाह ने उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक ली। बैठक में उन्होंने श्रीनगर में यात्रियों के हिसाब से विमान सेवाएं बढ़ाने समेत कई महत्वपूर्ण निर्देश दिए। गृह मंत्री ने 6 हजार फुट से ऊपर की ऊंचाई पर 100 बेड हॉस्पिटल बनाने को भी कहा गया है। रास्ते में यात्रियों के रुकने के लिए टेंट सिटी की व्यवस्था की जाए।>>*IBC24 News Channel के WhatsApp  ग्रुप से जुड़ने के लिए Click करें*<<

यह भी पढ़े : Gyanvapi Mosque Survey: जज पर भड़के मुनव्वर राणा, मुस्लिम पक्ष के लिए भी कही ऐसी-वैसी बात  

पूरी व्यवस्था करने के दिए निर्देश

इसके साथ ही, भूस्खलन से आई आपदा से निपटने के लिए विशेष इंतजाम किए जाने और रास्ते में प्रकाश के लिए इंतजाम करने के भी निर्देश दिए। यह बैठक दो चरण में हुई। पहले चरण में बैठक करीब 45 मिनट तक चली। इसमें लॉजिस्टिक्स को लेकर बैठक हुई थी। वहां पर स्वास्थ्य, सड़क, संचार को लेकर क्या-क्या काम चल रहे हैं और कब तक पूरे हो जाएंगे, इस पर चर्चा हुई।

यह भी पढ़े : 12वीं पास छात्रों के लिए जरूरी खबर, आज से शुरू हुई कॉलेजों में प्रवेश प्रक्रिया, जानें जरूरी बातें 

बैठक में ये हुए शामिल

बैठक में अमित शाह के अलावा जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा, केंद्रीय गृह सचिव एके भल्ला, सीआरपीएफ के डीजी कुलदीप सिंह समेत बीएसएफ और गृह मंत्रालय के कई अधिकारी शामिल हुए। कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते बीते दो सालों से इस यात्रा को स्थगित कर दिया गया था। इस बार यात्रा का आयोजन दो साल के अंतराल के बाद किया जा रहा है। इस बार अमरनाथ यात्रा 30 जून से शुरू होने वाली है।

यह भी पढ़े : ‘टमाटर हर जगह फिट है, स्वाद में हिट है’ जानें CM शिवराज ने क्यों कही ये बात 

सुरक्षाबलों की पूरी तैयारी

सुरक्षाबलों ने भी इस बार होने वाली अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा को लेकर अपनी तैयारियां पूरी कर ली है, लेकिन कश्मीर में बीते कुछ दिनों के दौरान हुई घटनाओं ने यात्रा की सुरक्षा को लेकर सुरक्षाबलों को और भी अधिक सचेत रहने के लिए मजबूर कर दिया है। बता दें कि घाटी में आतंकी जिस प्रकार से पुलिस और आम नागरिकों को निशाना बना रहे हैंस उससे ऐसा लग रहा है कि आतंकवादी कश्मीर में खौफ का माहौल बनाना चाहते हैं।

यह भी पढ़े : हादसा: डबल डेकर बस अनियंत्रित होकर पलटी, तीन की मौत, 25 घायल 

ड्रोन, एंटी-ड्रोन टेक्नोलॉजी पर फोकस

हर साल अमरनाथ यात्रा में शामिल होने के लिए भारी संख्या में लोग पहुंचते हैं। इस बार ये यात्रा 30 जून से 11 अगस्त तक चलेगी। यात्रा के दौरान श्रद्धालुओं को निशाना बनाए जाने की वारदात और आतंकी गतिविधियों पर रोकथाम के लिए इस बैठक में कई अहम फैसले लिए जाने की उम्मीद जताई जा रही है।

 
Flowers