Lakhs of school children in Rajasthan set a 'record' by singing patriotic taranas together

1 करोड़ स्कूली बच्चों ने एक साथ गाया देशभक्ति गीत, बनाया विश्व रिकॉर्ड, CM ने दी बधाई

अधिकारियों का कहना है कि राज्‍य भर में लगभग एक करोड़ स्‍कूली बच्‍चों ने एक साथ देशभक्ति तराने गाकर यह रिकॉर्ड बनाया।

Edited By: , August 12, 2022 / 09:27 PM IST

जयपुर।  Rajasthan hindi news : राजस्थान में सभी छोटे-बड़े स्‍कूली मैदान व स्टेडियम शुक्रवार सुबह एक साथ देशभक्ति तरानों से गूंज उठे। अवसर था ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ अभियान के तहत देशभक्ति के गीत गाकर ‘विश्व रिकॉर्ड’ बनाने का। अधिकारियों का कहना है कि राज्‍य भर में लगभग एक करोड़ स्‍कूली बच्‍चों ने एक साथ देशभक्ति तराने गाकर यह रिकॉर्ड बनाया।

यह भी पढ़ेंः  राखी बांधने को लेकर भाई का इंतजार करती रही बहन, घर पहुंचा भाई का शव

प्रांतीय राजधानी जयपुर के एसएमएस स्टेडियम में आयोजित राज्‍य स्‍तरीय कार्यक्रम में मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत भी शामिल हुए। उन्‍होंने छात्र-छात्राओं को उनकी इस उपलब्धि पर बधाई दी। गहलोत ने इस अवसर पर कहा, ‘लंदन के प्रतिष्ठित संस्थान वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड्स ने एक करोड़ छात्रों द्वारा गाए गए गीतों को सुना और राज्य सरकार को एक प्रमाणपत्र द‍िया। मैं इस प्रमाणपत्र की भावना इस आयोजन में भाग लेने वाले सभी बच्चों को समर्पित करता हूं।”

Rajasthan hindi news :  सुबह 10.15 बजे देशभक्ति तरानों की शुरुआत वंदेमातरम से हुई। इसके बाद विद्यार्थियों ने ‘सारे जहां से अच्‍छा हिंदुस्‍तान हमारा’, ‘आओ बच्‍चों तुम्‍हें दिखाएं झांकी हिंदुस्‍तान की’, ‘विजयी विश्व तिरंगा प्यारा’ व ‘हम होंगे कामयाब एक दिन’ जैसे तराने गाए। उन्होंने कहा कि देशभक्ति के गीत संविधान, भाईचारे और बलिदान की मूल भावना का प्रतिनिधित्व करते हैं। नई पीढ़ी को मूल्यों को अंगीकृत करना चाहिए क्योंकि वे देश का भविष्य हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार चाहती है कि राज्य विकास के पथ पर आगे बढ़े और समाज के सभी वर्ग शांति और भाईचारे के साथ रहें। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार की सोच है कि जहां शांति और भाईचारा होता है वहीं विकास होता है।

यह भी पढ़ेंः  अपने क्यूट बबली अंदाज से सब के दिलों पर राज करती हैं शहनाज गिल

गहलोत ने कहा कि जिस परिवार, गांव, राज्य या देश में झगड़ा होता है जहां शांत‍ि नहीं होती उसका विकास रुक जाता है। एक अधिकारी ने बताया कि ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के तहत आयोजित कार्यक्रमों की श्रृंखला में इस प्रयास का लक्ष्‍य एक साथ एक करोड़ बच्चों की राष्ट्रभक्ति गीतों में भागीदारी करवाना था। उन्होंने कहा कि स्‍कूली विद्यार्थियों में देश प्रेम की भावना जाग्रत करने के उद्देश्य से राज्य के समस्त राजकीय एवं गैर राजकीय विद्यालयों में 12 अगस्त को सुबह 10:15 बजे एक ही समय एक साथ देशभक्ति गीतों का सामूहिक गायन करवाया गया।

यह भी पढ़ेंः  चौराहे पर मिली सिर कटी लड़की की लाश, हत्यारों ने चादर में लपेटकर फेंका शव

राज्य स्तर पर कार्यक्रम जयपुर स्थित सवाई मानसिंह स्टेडियम में हुआ जबकि जिला स्तरीय कार्यक्रम जि‍ला मुख्‍यालयों पर हुए जहां संबंधित जिला प्रभारी मंत्री मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए। ब्लॉक स्तर पर ब्लॉक स्तरीय प्रशासन द्वारा सबसे बड़े स्टेडियम, सबसे बड़े विद्यालय के खेल मैदान में आयोजित करवाया गया तथा विद्यालय स्तरीय कार्यक्रम विद्यालय प्रांगण हुआ।

और भी है बड़ी खबरें…