MLA's two sons arrested for taking bribe of 5 lakhs, ACB recovered the amount

5 लाख की रिश्वत लेने के मामले में विधायक के दो बेटे गिरफ्तार, ACB ने बरामद की रकम

बता दें कि पिछले दिनों हुई राजनीतिक नियुक्तियों में लोकेश मीणा को राजस्थान युवा बोर्ड का सदस्य नियुक्त किया गया था। वहीं विधायक का कहना है कि उनके बेटों को षड़यंत्र के तहत फंसाया गया है।

Edited By: , September 25, 2022 / 12:52 PM IST

Rajsthan mla son arrested: जयपुर। राजस्थान में रिश्वत का एक बड़ा मामले सामने आया है। यहां भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने अलवर के थानागाजी विधायक कांति प्रसाद मीणा के दो बेटों समेत चार लोगों को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है। इनमें एक प्रधान का बेटा भी शामिल है, पुलिस ने निर्दलीय विधायक कांति प्रसाद मीणा के छोटे बेटे कृष्णा मीणा से घूस में लिए गए 5 लाख रुपये भी बरामद कर लिए हैं। विधायक के आरोपी बेटे ने बताया कि उसने यह राशि अपने छोटे भाई लोकेश मीणा के कहने पर ली थी।

read more:  रूस ने यूएनएससी में भारत और ब्राजील की स्थायी सदस्यता का समर्थन किया

बता दें कि पिछले दिनों हुई राजनीतिक नियुक्तियों में लोकेश मीणा को राजस्थान युवा बोर्ड का सदस्य नियुक्त किया गया था। वहीं विधायक का कहना है कि उनके बेटों को षड़यंत्र के तहत फंसाया गया है।

विधायक ने राज्य सरकार को समर्थन दिया हुआ है, कार्रवाई के बाद ब्यूरो ने चारों आरोपियों को मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया। वहां से फिलहाल सभी चारों आरोपियों को 15 दिन के लिये जेल भेज दिया गया है।

read more:  नवरात्रि में डोंगरगढ़ जाने वाले दर्शनार्थियों के लिए रूट तय, जानें से पहले चेक कर लें वरना फंस जाएंगे आप

Rajsthan mla son arrested: ब्यूरो के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बजरंग सिंह शेखावत ने बताया रिश्वत के आरोप में पकड़े गए आरोपियों में विधायक के पुत्र कृष्णा मीणा और लोकेश मीणा समेत बीडीओ नेतराम मीणा तथा प्रधान पुत्र जयप्रताप शामिल हैं। इस संबंध में परिवादी ठेकेदार ने शिकायत दर्ज कराई थी कि विधायक के बेटे और प्रधान का बेटा उसे बार-बार परेशान कर रहे हैं। उसका बोरिंग समेत कुल 26 लाख रुपये का बिल है। उसे देने की एवज में 9 लाख की रिश्वत मांगी जा रही है। आखिर में मामला पांच लाख रुपये में तय हुआ है। व्यूरो ने शिकायत की पुष्टि करवाई तो वह सही पाई गई। उसके बाद ब्यूरो ने आरोपियों को पकड़ने के लिये अपना जाल बिछाया था।