राजग ने 400 सीट जीतकर सत्ता बरकरार रखी तो मथुरा और वाराणसी में मंदिर बनाए जाएंगे: हिमंत |

राजग ने 400 सीट जीतकर सत्ता बरकरार रखी तो मथुरा और वाराणसी में मंदिर बनाए जाएंगे: हिमंत

राजग ने 400 सीट जीतकर सत्ता बरकरार रखी तो मथुरा और वाराणसी में मंदिर बनाए जाएंगे: हिमंत

:   Modified Date:  May 18, 2024 / 09:39 PM IST, Published Date : May 18, 2024/9:39 pm IST

मुजफ्फरपुर/सीवान/बक्सर (बिहार), 18 मई (भाषा) असम के मुख्यमंत्री हिमंत विश्व शर्मा ने शनिवार को कहा कि यदि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) लोकसभा चुनाव में 400 से अधिक सीट जीतकर सत्ता बरकरार रखता है तो वाराणसी और मथुरा में भव्य मंदिर बनाए जाएंगे और समान नागरिक संहिता (यूसीसी) लागू की जाएगी।

शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) यह सुनिश्चित करेगा कि पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर देश को वापस मिले, जो भारत का अभिन्न हिस्सा है।

मुजफ्फरपुर, सीवान और बक्सर लोकसभा क्षेत्रों में एक के बाद एक चुनावी रैलियों को संबोधित करते हुए शर्मा ने कहा, “हम 400 सीट जीतने के बाद यूसीसी लागू करेंगे, मथुरा में कृष्ण जन्मभूमि परिसर में एक मंदिर बनाएंगे और वाराणसी में ज्ञानवापी मस्जिद के स्थान पर काशी विश्वनाथ मंदिर का निर्माण करेंगे। इसके अलावा यह भी सुनिश्चित करेंगे पीओके भारत में वापस आए।”

शर्मा ने कांग्रेस और उसके सहयोगियों पर निशाना साधते हुए कहा, “राहुल गांधी और लालू प्रसाद राममंदिर में प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल नहीं हुए। वे रामलला को वापस तंबू में भेजना चाहते हैं। हमें ऐसा नहीं होने देना चाहिए।”

उन्होंने देश में धर्म आधारित आरक्षण कथित तौर पर लागू करने की कोशिश करने के लिए कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) को “ओबीसी का सबसे बड़ा दुश्मन” करार दिया। उन्होंने कहा, “मुसलमानों को धर्म के आधार पर आरक्षण भारत में नहीं, बल्कि पाकिस्तान में दिया जाना चाहिए। लालू प्रसाद को मुसलमानों को आरक्षण देने के लिए पाकिस्तान जाना चाहिए। राजग किसी भी कीमत पर ऐसा नहीं होने देगा।”

उन्होंने कहा, “मोदी जी के नये भारत को मदरसे की जरूरत नहीं है…हमें आधुनिक स्कूल और कॉलेज चाहिए जो डॉक्टर और इंजीनियर दें…मदरसे के मौलवी नहीं।”

शर्मा ने कहा कि राहुल गांधी ‘कभी भी प्रधानमंत्री नहीं बन सकते। वह पाकिस्तान में चुनाव लड़ सकते हैं और वहां के प्रधानमंत्री बन सकते हैं। वह और उनकी पार्टी तुष्टिकरण की राजनीति में लिप्त हो रहे हैं।’

उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस-राजद का भ्रष्ट गठबंधन बिहार के विकास को रोकने की पूरी कोशिश कर रहा है… जब भी उन्हें मौका मिलता है वे अपने हितों को पूरा करने में लग जाते हैं।’

उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस और राजद अपने उम्मीदवार खड़ा करने के अलावा कुछ सीट पर भाजपा उम्मीदवारों के खिलाफ निर्दलीय उम्मीदवारों का भी समर्थन कर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया, ”ये निर्दलीय हमेशा कांग्रेस और राजद के नेताओं के संपर्क में रहते हैं।”

भाजपा के राज भूषण निषाद मुजफ्फरपुर से चुनाव लड़ रहे हैं, वहीं विजय लक्ष्मी देवी कुशवाहा सीवान से राजग उम्मीदवार हैं। वहीं भाजपा ने मिथिलेश तिवारी को बक्सर लोकसभा सीट से मैदान में उतारा है।

मुजफ्फरपुर में मतदान 20 मई को, सीवान में 25 मई को जबकि बक्सर में एक जून को होगा।

भाषा जोहेब अमित

अमित

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers