Udaipur Kanhaiya Lal Murder case about of killer Riyaz, know

आया था नाप देने, काट दिया गला, जानिए कौन है खूंखार हत्यारा रियाज? जो भाई के इंतकाल पर भी नहीं गया घर

Udaipur Kanhaiya Lal Murder case : टेलर की निर्मम हत्या करने वाला हत्यारा आरोपी मोहम्‍मद रियाज जिसने कन्हैयालाल के लाख गिड़गिड़ान के बाद...

Edited By: , June 29, 2022 / 05:24 PM IST

Udaipur Kanhaiya Lal Murder case: राजस्थान के उदयपुर में टेलर कन्‍हैयालाल की निर्मम हत्या करने वाला हत्यारा आरोपी मोहम्‍मद रियाज जिसने कन्हैया लाल के लाख गिड़गिड़ान के बाद भी उसे दया नहीं आई। हैवानियत का भूत उसके सिर पर इस कदर सवार था कि उसने कन्हैया की नृशंस हत्या कर दी।>>*IBC24 News Channel के WhatsApp  ग्रुप से जुड़ने के लिए Click करें*<<

हत्या के आरोपी रियाज के पिता अब्‍दुल जब्‍बार मूलरूप से जैसलमेर जिले के भाटी लुहार थे। जो वेल्डिंग और लोहे से जुड़ा काम करते थे। जैसलमेर से आकर उनका परिवार आसीन्‍द (भीलवाड़ा) और विजयनगर (अजमेर) में बस गया था। अभी भी इसके परिवार के लोग वेल्डिंग का ही कार्य करते हैं।

यह भी पढ़ें: Weather Update : बाढ़ से बिगड़े हालात, खतरे के निशान से ऊपर बह रही ये नदियां,अबतक 139 की मौत

रियाज अत्तारी भीलवाड़ा जिले के आसीन्द का रहने वाला है। साल 2001 में पिता मोहम्मद जब्बार लुहार की मौत के बाद वह उदयपुर जाकर बस गया था। रियाज कुल 9 भाई हैं और एक बहन है। तीन भाइयों की मौत हो चुकी है। रियाज अपने परिवार से इतना कट चुका कि एक भाई की मौत पर भी घर भी नहीं आया था। रियाज के भाइयों अब्‍दुल, इकराम, सरफुद्दीन और सिकंदर का परिवार आसीन्‍द कस्‍बे में रहता है। जबकि दो भाई इकबाल और यूसुफ की मौत हो चुकी है जबकि दो भाई सिराज और इस्‍लाम अजमेर जिले के विजयनगर में रहते हैं। विजयनगर में रहने वाले एक और भाई कय्यूम की भी मौत हो चुकी है।

आसीन्द में रहने वाले अब्दुल अय्यूब लुहार ने बताया, ”रियाज हमारा 10वें नंबर का भाई है। हमारे पिता जब्बार की मौत के बाद वह साल 2001 में उदयपुर चला गया था और फिर वहीं रहने लग गया था। उसने उदयपुर में ही शादी रचा ली थी। रियाज क्या काम करता है? मुझे मालूम नहीं, क्योंकि उससे हमारा 20-22 साल से कोई कनेक्शन नहीं है।” आरोपी रियाज के भतीजे नासिर ने भी बताया कि घर छोड़ने के बाद से चाचा कभी आसीन्द नहीं आते थे। उन्होंने अपने भाइयों से संबंध तक रखने बंद कर दिए थे। यहां तक कि मेरे पिता इकबाल मोहम्मद के इंतकाल पर भी वह नहीं आए थे।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस विधायक पर बीजेपी ने की कार्रवाई की मांग, अग्निपथ के खिलाफ उकसाने का लगा आरोप

और भी है बड़ी खबरें…

एक और भतीजे ने कहा कि चाचा रियाज के कृत्य से हमारे परिवार की भीलवाड़ा में बदनामी हुई है। हमारे मोहल्ले में हिंदू भी रहते हैं। मुसलमानों के तो सिर्फ चार-पांच घर ही हैं। हमें कभी कोई दिक्कत नहीं हुई। अपने चाचा के इस अपराध पर शर्मिंदा हैं। उनको कानून के अनुसार सजा मिलनी चाहिए। इस हत्‍याकाण्‍ड से हमारे यहां का भाईचारा बिगड़ा है। उधर, भीलवाड़ा पुलिस ने सतर्कता बढ़ाते हुए आसीन्‍द कस्‍बे में पुलिस बल तैनात कर रियाज के घर पर सुरक्षा व्‍यवस्‍था बढ़ा दी है। इस हत्याकांड में शामिल दूसरा आरोपी गौस मोहम्मद राजसमंद के भीम इलाके का रहने वाला था और उदयपुर के खांजीपीर इलाके में निवासरत था।

 

 

#HarGharTiranga