PM Modi Security: मोदी ने विरोधियों को जोर से पटका, दर्द है पर कराह नहीं सकते

PM Modi Security Lapse: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके विरोधियों के बीच तू डाल डाल मैं पात पात वाला खेल कई सालों से चल रहा है

Edited By: , January 10, 2022 / 08:46 PM IST

PM Modi Security 

आज हम बात करने वाले हैं मोदी के उस धोबी पछाड़ दांव की जिसमें विपक्षियों की हड्डियां तक हिल गई हैं पर वे चूं भी नहीं कर पा रहे हैं….

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके विरोधियों के बीच तू डाल डाल मैं पात पात वाला खेल कई सालों से चल रहा है और मजा ये है कि हर बार मोदी अपने विरोधियों की चाल को ऐसा मोड़ते हैं कि वह वापस विरोधियों पर ही भारी पड़ जाती है… अब एक बार फिर
पंजाब को मोदी का दुश्मन बनाने में जुटे विरोधी नेताओं को मोदी ने जोर का झटका दिया है….झटका भी ऐसा… कि पंजाब में चुनाव खत्म हो जाएंगे पर विरोधियों का दर्द कम नहीं होगा…माना जा रहा है कि मोदी विरोधी मोदी की इस चाल का जवाब कम से कम चुनाव तक तो नहीं ढूंढ पाएंगे…

पंजाब में PM नरेंद्र मोदी का रास्ता रोकने की घटना को लेकर जांच चल रही है और इसके प्रशासनिक चूक और षडयंत्र से लेकर तमाम पक्षों की जांच हो रही है…इस पर आज हम बात नहीं करेंगे…आज हम पंजाब को लेकर सिर्फ राजनीति की ही बात करने वाले हैं….पंजाब में चुनावों की घोषणा हो चुकी है….एक महीने में चुनाव हो जाएंगे…
पिछले दिनों पंजाब में कुछ लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का काफिला रोककर मोदी को झटका दिया था…झटका इसलिए कह रहे हैं कि यहां मोदी रैली नहीं कर पाए थे… अपनी बात भी पंजाब को नहीं बता पाए थे… पंजाब में खालिस्तानी लगातार मोदी के खिलाफ माहौल बनाने में जुटे हैं और इसका फायदा उठाने की कोशिश में मोदी के विरोधी लगे हैं…इधर देश में राजनीति के जानकार ये मान रहे थे कि मोदी के काफिले को रोकने की कीमत कांग्रेस की सरकार को चुकानी होगी… लेकिन फिर भी इसका फायदा उसी को हो सकता है… पंजाब की चन्नी सरकार के कार्यकाल को एक महीने ही बचे हैं…हम पहले ही कह चुके हैं कि एक महीने पहले सरकार चली गई तो कांग्रेस चुनावों में बताएगी कि किसानों के लिए उसने पंजाब की सरकार का बलिदान कर दिया है….और पंजाब सरकार अगर बर्खास्त नहीं की गई तो भी कांग्रेस नेता बोलेंगे कि उनकी सरकार के रहते ही PM के काफिले को रोककर… किसानों की आवाज दुनियां तक पहुंचाने का मौका मिला। कांग्रेस कहेगी कि उसने किसानों को सड़क से हटाने के लिए पुलिस को लाठी- गोली नहीं चलाने दिया….वे जानते थे कि इससे उनकी सरकार खतरे में पड़ेगी….पर किसान का साथ देना जरूरी समझा…उस घटना के बाद से ऐसा दिख रहा था कि कम से कम पंजाब में कैप्टन के पार्टी छोड़ने और आम आदमी पार्टी के आने के बाद कड़ी चुनौती झेल रही कांग्रेस को कुछ सांसें मिल जाएगी और वह जो सोचा जा रहा था उससे ज्यादा सीटें पाएगी….
इधर ये भी दिख रहा था कि इतने सालों में पहली बार कांग्रेस का कोई दांव या कहें कि सही मौके पर चली गई कांग्रेस की सही राजनीतिक चाल कामयाब हो गई है और लगता था कि इस बार मोदी को इसका जवाब देते नहीं बनेगा…पर विरोधियों को पछाड़ने में माहिर मोदी ने फिर ऐसी चाल चल दी है कि विरोधी नेता दर्द से तिलमिला भी उठे हैं और कराह भी नहीं पा रहे हैं….

Read More: PM Modi Security Lapse: साल भर पहले ही रची जा चुकी थी PM Modi को मारने की साजिश
आप जानते हैं कि प्रधानमंत्री मोदी की गाड़ी को रोककर पूरे पंजाब को मोदी का विरोधी बताने का प्रयास किया गया था और देश विदेश में यही संदेश भी गया था….पर मोदी ने एकदम गांधीवादी मार्ग अपनाकर… गांधी के नाम पर राजनीति करती रही कांग्रेस को ऐसा पटका है कि वह अगले कई सालों तक दर्द से कराहती ही रहेगी….मोदी ने काफिला रोकने के बदले पंजाब को ऐसा तोहफा दिया है जिसकी सिख्ख कभी कल्पना भी नहीं कर सकते थे….दसवें गुरु गोबिंद सिंह जी की जयंती प्रकाश पर्व के मौके पर उनके साहिबजादों की याद में हर साल 26 दिसंबर को वीर बाल दिवस मनाने का ऐलान भारत सरकार की तरफ से मोदी ने किया है…ऐसा करके उन्होंने देश और विदेश में बसे सिख्खों का दिल जीत लिया है….मोदी ने कहा कि गुरूजी के चार बेटे धर्म रक्षा के लिए ही शहीद हो गए …..उनके साहस के लिए ये सच्ची श्रद्धांजलि है।

Read More: मोदी को रोक कांग्रेस जीती या हारी?, उंगली कटाकर शहीद बनेंगे चन्नी? | The Sanjay Show
खालिस्तानी मोदी को सिख्ख विरोधी बताकर प्रचार करते रहे हैं पर जिस रास्ते पर वे सिख्खों को भटकाने की कोशिश कर रहे थे उस राह को ही मोदी ने ब्लॉक कर दिया…अब पाकिस्तान को मोदी के विरोध के लिए कोई नया रास्ता ढूंढकर खालिस्तानियों को देना होगा…

Read More: PM Narendra Modi ने किया Kashi Vishwanath Corridor का शुभारंभ, Varanasi की पहचान गलियां टूटीं | The Sanjay Show
इधर खालिस्तानियों के बिछाए जाल में अपने लिए फायदा ढूंढती रही कांग्रेस और आम आदमी पार्टी को मोदी की इस रणनीति की काट निकालने में पसीने छूट जाएंगे…मोदी के फैसले से विरोधी दल धड़ाम से नीचे गिरे हैं…..ये सारे विरोधी जब तक उठकर खड़े होंगे… तब तक ये भी हो सकता है कि कैप्टन अमरिंदर की सहायता से बीजेपी पंजाब में दौड़ने लग जाए….हालांकि अभी ये सिर्फ अनुमान है….क्योंकि पंजाब में पिछला चुनाव कैप्टन अमिरंदर के भरोसे ही कांग्रेस जीती थी और अगला चुनाव आने से पहले उसने कैप्टन को पार्टी से विदा कर दिया है…

तो अब जो मोदी ने जो चाल चली है वह कांग्रेस के लिए सबसे ज्यादा दर्द देने वाली है….जो पार्टी 70 सालों तक देश में राज करती रही है और जिस पर 84 के दंगों का आरोप भी है उसने कभी भी सिख्खों का दिल जीतने के लिए कोई बड़ा काम नहीं किया…कांग्रेस भी चाहती तो इतने बरसों में वीर बाल दिवस जैसे किसी फैसले का ऐलान कर सकती थी… जो सिख्खों के लिए मरहम का काम करता…पर कांग्रेस इसमें पिछड़ गई अब वो मोदी के इस फैसले पर इधर उधर के सवाल उठाकर अपनी ही किरकिरी करवाएगी….दिल्ली की सत्ता पर बैठी आम आदमी पार्टी भी ऐसा कोई फैसला करने की हिम्मत नहीं जुटा पाई…

Read More: Sonia Gandhi को मिली कड़ी टक्कर, अब Mamata Banerjee रोकेंगी रास्ता
जाहिर है हर मौके पर गुरूद्वारे में मत्था टेकने के लिए पहुंच जाने वाले मोदी आज से नहीं बल्कि सालों से सिख्खों का दिल जीतने की कोशिश में लगे हैं…अब भारत सरकार का ताजा फैसला सिख्खों का प्यार और वोट दोनों दिला पाता है या नहीं ये तो पंजाब के चुनाव के बाद ही पता चलेगा….पर हां… पंजाब के बाहर तो मोदी ने ज्यादातर सिख्खों को अपना बना ही लिया है….