बॉडी बनाने के लिए लगवाया 3 लाख का इंजेक्शन.. प्राइवेट पार्ट में हो गया ऐसा.. जिम ट्रेनर के खिलाफ FIR

बॉडी बनाने के लिए लगवाया 3 लाख का इंजेक्शन.. प्राइवेट पार्ट में हो गया ऐसा.. जिम ट्रेनर के खिलाफ FIR

बॉडी बनाने के लिए लगवाया 3 लाख का इंजेक्शन.. प्राइवेट पार्ट में हो गया ऐसा.. जिम ट्रेनर के खिलाफ FIR

Edited By: , March 16, 2022 / 11:56 AM IST

Injection was done to make body इंदौर, मध्यप्रदेश। युवक को जिम ट्रेनर ने अच्छी बॉडी बनाने का लालच देकर प्रतिबंधित इंजेक्शन लगा दिया। इसके बाद युवक को प्राइवेट पार्ट में दिक्कत होने लगी। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, प्रतिबंधित इंजेक्शन लगने के बाद युवक के प्राइवेट पार्ट में संक्रमण हो गया। अब युवक ने जिम ट्रेनर के खिलाफ मामला दर्ज कराया है।

 हमारे 𝕎𝕙𝕒𝕥𝕤 𝕒𝕡𝕡 Group’s में शामिल होने के लिए यहां पर Click करें.

Injection was done to make body एजाज के अनुसार, वह अनूप नगर स्थित ‘वन लाइफ फिटनेस जिम’ में एक्सरसाइज करने जाता था। वहां जिम के ट्रेनर सफीक उर्फ सोनू खान तथा रईस खान ने एजाज को वजन बढ़ाने और अच्छी बॉडी बनाने का लालच दिया।

पढ़ें- श्रीनगर मुठभेड़ में 3 आतंकवादी ढेर.. भारी मात्रा में गोला-बारूद, हथियार सहित कई सामग्री बरामद

एजाज ने बताया कि अच्छी बॉडी का लालच देकर जिम ट्रेनर ने उससे ढाई से तीन लाख रुपये लिए और इंजेक्शन लगा दिया। एजाज ने बताया कि ये स्टेरॉइड के इंजेक्शन थे। इनको लगाने के बाद उसके प्राइवेट पार्ट में इंफेक्शन हो गया और उसे काफी तकलीफ होने लगी। एजाज ने बताया कि रविवार को भी सोनू खान ने उनको एक इंजेक्शन लगाया। जब वह दवाई की शीशी बैग में रखने लगा तो उसके बैग से प्रतिबंधित दवाई का पर्चा गिरा। इसे पढ़ने के बाद एजाज को पता चला कि उसे प्रतिबंधित स्टेरॉइड दवाइयों का इंजेक्शन लगाया जा रहा था।

पढ़ें- कीव पर बमबारी तेज.. अपार्टमेंट, सबवे स्टेशन और असैन्य जगह तबाह..20 हजार लोग मारियुपोल छोड़कर गए

पुलिस ने सोनू खान और रईस खान के खिलाफ केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस ने बताया कि आरोपी एजाज को साल 2019 से प्रतिबंधित इंजेक्शन दे रहे थे। उसे सप्ताह में दो से तीन बार इंजेक्शन लगाए जाते थे। फिलहाल, पुलिस ने सोनू खान को गिरफ्तार कर लिया है और उसके कब्जे से प्रतिबंधित इंजेक्शन जब्त किए हैं। अभी उसका भाई रईस खान फरार है।

पढ़ें- देश में कोरोना के 2,876 नए मामले, 98 ने तोड़ा दम, एक्टिव मरीजों की संख्या घटकर 32,811 हुई

एजाज ने बताया कि ये इंजेक्शन उसका वजन और स्टेमिना बढ़ाने के लिए लगाए जा रहे थे। एजाज के अनुसार, इससे उसके प्राइवेट पार्ट में जलन होने लगी और कुछ ही घंटों बाद पेशाब करते समय तेज दर्द की शिकायत हुई। इसके बाद एजाज ने पुलिस से संपर्क किया और जिम ट्रेनर के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई।

 

 

#HarGharTiranga