contract employee protest: संविदा कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

संविदा कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा, इन मांगों को लेकर किया प्रदर्शन

contract employee protest: संविदा कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा, इन मांगों को लेकर किया प्रदर्शन

Edited By: , August 10, 2022 / 04:19 PM IST

contract employee protest: भोपाल। मध्यप्रदेश में 2023 में होने वाले विधानसभा चुनाव के पहले प्रदेश के लाखों संविदा कर्मचारी फिर नियमितीकरण की मांग करेंने लगे है। संविदा कर्मचारियों ने सड़कों पर उतर कर आंदोलन शुरू कर दिया है। प्रदेश के हर विभाग में सालों से कार्यरत संविदा पर काम कर रहे कई कर्मचारी अधिकारी संविदा की नियमितीकरण की नीति लागू करने की मांग कर रहे है। कर्मचारियों का मानना है कि सरकार ने नियमितीकरण की नीति बनाई थी लेकिन अभी तक लागू नही हुई है।

ये भी पढ़ें- प्रदेश में कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा की तैयारियां शुरू, पार्टी के ये दिग्गज नेता होंगे शामिल

contract employee protest: राजधानी भोपाल में सैकड़ों संविदा कर्मचारियों ने नियमितीकरण की मांग को लेकर आज सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। राज्य शिक्षा केंद्र कार्यालय से संविदा कर्मचारी अधिकारी महासंघ के बैनर तले कर्मचारियों ने तिरंगा रैली निकाली और कहा कि सरकार आजादी का अमृत महोत्सव मना रही है, घर का तिरंगा अभियान चल रही है। इसलिए हम भी आज तिरंगा रैली निकालकर सरकार तक अपनी आवाज पहुंचा रहे हैं।

ये भी पढ़ें- इन बच्चों को इंटर्नशिप के लिए मिलेगी राशि, किसानों को बिना ब्याज के लोन की सौगात, कैबिनेट ने कई अहम प्रस्तावों को दी मंजूरी

contract employee protest: कर्मचारियों ने रैली निकालते हुए कहा कि संविदा कर्मचारियों का शोषण हो रहा है। यहां न्यूनतम वेतन पर काम करने को हजारों संविदा कर्मचारी मजबूर है। वे उम्र पूरी होने पर रिटायर हो गए। जिसके बाद कर्मचारियों ने केंद्र और राज्य सरकार से मांग करते हुए कहा कि हमारी मांग है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश के लाखों संविदा कर्मचारियों के हित में पंद्रह अगस्त पर अपने भाषण में संविदा कर्मचारियों को नियमित करने नियमित करने की नीति जल्द लागू करने की घोषणा की जाए।

IBC24 की अन्य बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें