pensioners-association-continues-to-protest-in-the-capital-regarding

पेंशनर्स एसोसिएशन का हल्लाबोल! हजारों की तादात में पेंशनर्स कर रहे धरना प्रदर्शन, इन मांगों को लेकर सरकार को दी चेतावनी

Hallabol of Pensioners Association! Thousands of pensioners are protesting, warned the government about these demands

Edited By: , November 29, 2022 / 09:00 PM IST

Thousands of pensioners are protesting; भोपाल ; प्रदेश के अलग अलग विभागों के पेंशनरों ने छठवें और सातवें वेतन आयोग के एरियर भुगतान सहित 11 सूत्रीय मांगों को लेकर पेंशनर्स एसोसिएशन के बेनर तले राजधानी के नीलम पार्क में आम सभा में जुटे पेंशनर्स ने जमकर प्रदर्शन किया। सभा के दौरान पेंशनरों और कर्मचारियों ने एरियर का भुगतान सहित वर्तमान पेंशन प्रणाली की कई कमियों को गिनाते हुए नारेबाजी की। इसके साथ ही सभा में तानाशाही नहीं चलेगी और अभी तो यह अंगड़ाई है, जैसे नारे लगाकर नाराजगी जताई..तो वही इस प्रदर्शन में करीबन हज़ार से भी ज्यादा लोगों ने सरकार के खिलाफ अपनी आवाज़ उठाई। मप्र विद्युत मंडल के पेंशनरों, मप्र स्टेट पुलिस सर्विस पेंशनर्स वेलफेयर एसोसिएशन सहित आठ पेंशनर्स संघ ने भी सभा में हिस्सा लिया और प्रशासन के खिलाफ धरने पर बैठे।

यह भी पढ़े: प्रदेश में भारत जोड़ो यात्रा का दूसरा दिन! राहुल गांधी पहुंचे टंट्या मामा की जन्मस्थली, कदम से कदम मिलाकर चल रहे प्रियंका-पायलट

प्रदेश भर के पेंशनर्स एसोसिएशन की प्रमुख 11 सूत्रीय मांगों कुछ इस तरह है।

1 . छठवें वेतन आयोग के 32 माह के एरियर का भुगतान किया जाए।

2 -सातवें वेतन आयोग के 27 माह के एरियर का भुगतान किया जाए।

3 -केंद्रीय तिथि एवं दर से महंगाई राहत का भुगतान किया जाए।

4 -अनुदानित महाविद्यालयीन प्राध्यापकों को सातवें वेतन आयोग का लाभ व उसी तरह पेंशन का निर्धारण किया जाए।

5 -केंद्रीय स्वास्थ्य योजना की तरह निःशुल्क चिकित्सा सुविधा का लाभ।

6 -केंद्र के पेंशन नियम की तरह अविवाहित, विधवा, तलाकशुदा और परित्यक्ता पुत्री को आजीवन परिवार पेंशन का भुगतान।

7 -हर पांच साल बाद मूल पेंशन में पांच प्रतिशत की वृद्धि की जाए।

8 -जनवरी 2020 से सितंबर 2021 के बीच रिटायर हुए कर्मचारियों को कोरोना काल में रोके गए महंगाई भत्ते और अवकाश में काम करने का भी भुगतान किया जाए।

9 -मप्र विद्युत मंडल, नगर निगम और नगर पालिका के पेंशनर्स को बिना विलंब के महंगाई राहत भत्ते का भुगतान किया जाए।

10 -नए पेंशन नियम समाप्त कर पुरानी पेंशन योजना (2005 से पूर्व की) बहाल की जाए।

11 -सातवें वेतन आयोग की अनुशंसा के अनुसार न्यूतनम पेंशन 9000 रुपए की जाए।