भाजपा को तीन राज्यों में मिली जीत ‘ईवीएम का जनादेश’, लोगों का समर्थन प्रतिबिंबित नहीं करता : राउत |

भाजपा को तीन राज्यों में मिली जीत ‘ईवीएम का जनादेश’, लोगों का समर्थन प्रतिबिंबित नहीं करता : राउत

भाजपा को तीन राज्यों में मिली जीत ‘ईवीएम का जनादेश’, लोगों का समर्थन प्रतिबिंबित नहीं करता : राउत

:   December 4, 2023 / 09:32 PM IST

(फाइल फोटो के साथ)

मुंबई, चार दिसंबर (भाषा) शिवसेना (यूबीटी) नेता संजय राउत ने सोमवार को कहा कि मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को मिली जीत लोगों के समर्थन को नहीं दर्शाती, बल्कि यह ‘ईवीएम का जनादेश’ है।

भाजपा ने रविवार को मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में जीत हासिल की, जबकि कांग्रेस ने भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) को तेलंगाना की सत्ता से बेदखल किया।

राउत ने कहा, ‘‘ चुनाव परिणाम अप्रत्याशित और आश्चर्यजनक हैं, लेकिन हम लोकतांत्रिक प्रक्रिया का सम्मान करते हैं। जब जनादेश आपकी पार्टी के खिलाफ जाता है, तो उसे स्वीकार करना पड़ता है। बहरहाल, मध्य प्रदेश के नतीजे हमारे लिए चौंकाने वाले ही नहीं, बल्कि स्तब्ध करने वाले भी हैं। चार में से तीन राज्यों के चुनाव नतीजों को ईवीएम का जनादेश माना जाना चाहिए और इसे उसी रूप में स्वीकार करना होगा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं उन्हें (भाजपा) चुनौती देता हूं कि वे मतपत्र से चुनाव कराएं और हम परिणाम देखेंगे।’’

राज्यसभा सदस्य ने निर्वाचन आयोग से उन लोगों का संज्ञान लेने की मांग की, जिन्हें ‘‘ईवीएम (इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन) की प्रामाणिकता और उनके काम करने के तरीके पर संदेह है’’।

राउत ने पिछले दिनों मुंबई में आयोजित एक बैठक में कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह द्वारा ईवीएम पर की गई कथित टिप्पणी का जिक्र किया। उन्होंने कहा, ‘‘उन्होंने (सिंह) भी यह आशंका व्यक्त की थी कि ईवीएम में गड़बड़ी की जा सकती है और संकेत दिए थे कि परिणाम भरोसेमंद नहीं हो सकते।’’

दिलचस्प बात यह है कि महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) नेता अजित पवार ने रविवार को कहा था कि उन्हें आश्चर्य नहीं होगा अगर कुछ लोग विधानसभा चुनाव के नतीजे के लिए ईवीएम को दोषी ठहराएं।

भाषा धीरज दिलीप

दिलीप

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers