उद्धव ठाकरे ने निरंकुश शासन को बताया देश के लिए घातक, केंद्र में गठबंधन सरकार की तरफदारी की |

उद्धव ठाकरे ने निरंकुश शासन को बताया देश के लिए घातक, केंद्र में गठबंधन सरकार की तरफदारी की

उद्धव ठाकरे ने निरंकुश शासन को बताया देश के लिए घातक, केंद्र में गठबंधन सरकार की तरफदारी की

:   Modified Date:  April 13, 2024 / 06:23 PM IST, Published Date : April 13, 2024/6:23 pm IST

मुंबई, 13 अप्रैल (भाषा) शिवसेना (यूबीटी) के प्रमुख उद्धव ठाकरे ने शनिवार को कहा कि निरंकुश शासन देश के लिए घातक है। उन्होंने यह कहते हुए केंद्र में गठबंधन सरकार की आवश्यकता बतायी कि ऐसे शासनों ने अतीत में ‘अच्छी तरह काम किया’ है।

उन्होंने कहा कि मजबूत नेता की जरूरत है किंतु उसे सभी को साथ लेकर चलना चाहिए।

यहां अपने निवास मातोश्री में उन्होंने कहा कि पिछले 10 वर्ष में पहली बार देश में इतने बड़े पैमाने पर असंतोष नजर आ रहा है।

इस मौके पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) और वंचित बहुजन आघाडी (वीबीए) के कई पदाधिकारी शिवसेना (यूबीटी) में शामिल हो गये।

उद्धव ठाकरे ने कहा, ‘‘ निरंकुश शासन देश के लिए घातक है। एक समय था जब यह महसूस किया गया कि गठबंधन सरकार नहीं होनी चाहिए। लेकिन पी वी नरसिंह राव, अटल बिहारी वाजपेयी और मनमोहन सिंह ने गठबंधन सरकारें अच्छी तरह चलायीं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘कुछ अपवादों को छोड़कर, देश में गठबंधन सरकारों ने काम किया है। हम एक मजबूत देश और एक गठबंधन सरकार चाहते हैं। हम एक मजबूत नेता चाहते हैं किंतु वह ऐसा व्यक्ति हो जो सभी को साथ लेकर चल सके।’’

उन्होंने कहा कि विपक्षी ‘इंडिया’ गठबंधन सरकार दे सकता है।

शिवसेना (यूबीटी) प्रमुख ने कहा कि महा विकास आघाडी के दल शीघ्र राज्य में संयुक्त रैलियां करेंगे।

भाषा

राजकुमार माधव

माधव

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers