दीप्ति और पूजा के हरफनमौला खेल से भारतीय महिला टीम ने श्रीलंका को चार विकेट से हराया |

दीप्ति और पूजा के हरफनमौला खेल से भारतीय महिला टीम ने श्रीलंका को चार विकेट से हराया

दीप्ति और पूजा के हरफनमौला खेल से भारतीय महिला टीम ने श्रीलंका को चार विकेट से हराया

: , July 1, 2022 / 05:40 PM IST

पालेकल, एक जुलाई (भाषा) दीप्ति शर्मा और पूजा वस्त्राकर के हरफनमौला खेल और दोनों के बीच सातवें विकेट के लिए 38 रन की अटूट साझेदारी के दम पर भारतीय महिला टीम ने तीन मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला के शुरुआती मुकाबले में श्रीलंका को चार विकेट से हराकर 1-0 की बढ़त हासिल कर ली।

मैन ऑफ द मैच दीप्ति ने 8.2 ओवर में 25 रन पर तीन विकेट लेने के बाद मुश्किल परिस्थितियों में 22 रन की नाबाद पारी खेलकर टीम को जीत दिलायी। पूजा ने पांच ओवर में 26 रन दो विकेट चटकाने के बाद नाबाद 21 रन (19 गेंद में) की आक्रामक पारी खेली।

ऑफ स्पिनर दीप्ति और तेज गेंदबाज रेणुका सिंह (29 रन पर तीन विकेट) की अगुवाई में गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन से भारत ने श्रीलंका की पारी को 48.2 ओवर में 171 रन पर समेटने के बाद 72 गेंद शेष रहते छह विकेट के नुकसान पर लक्ष्य हासिल कर लिया।

भारत के कप्तान हरमनप्रीत कौर तथा अनुभवी स्पिनर राजेश्वरी गायकवाड़ ने एक-एक विकेट चटकाये।

श्रीलंका के लिए निलाक्षी डि सिल्वा ने सबसे ज्यादा 43 जबकि हसिनी परेरा ने 37 रन बनाये।

भारत के लिए भारत के लिए कप्तान हरमनप्रीत कौर ने 44, सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा ने 35 और हरलीन देओल ने 34 रन का योगदान दिया। श्रीलंका के लिए इनोका रानावीरा ने चार और ओशादी रनासिंघे ने दो विकेट लिये।

लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय टीम ने शुरुआती चार ओवरो में स्मृति मंधाना (चार रन) और यास्तिका भाटिया के विकेट गंवा दिये।

शेफाली को इसके बाद हरमनप्रीत का अच्छा साथ मिला जिससे वह अपने आक्रामक खेल को जारी रख सकी। उन्होंने चौथे ओवर में रनासिंघे के खिलाफ चौका और फिर सातवें तथा 11वें ओवर में रनावीरा के खिलाफ एक-एक छक्का जड़ अपने इरादे जाहिर किये।

वह हालांकि इसी गेंदबाज के खिलाफ एक और बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में 15वें ओवर में स्टंप हो गयी।द उन्होंने 40 गेंद की पारी में 35 रन बनाने के साथ हरमनप्रीत के साथ तीसरे विकेट के लिए 44 रन जोड़े।

हरमनप्रीत ने इसके बाद हरलीन के साथ चौथे विकेट के लिए 62 रन की साझेदारी कर टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया। दोनों ने संभल कर खेलते हुए कुछ आकर्षक शॉट लगाये।

रनावीरा ने हालांकि पारी के 26वें, 28वें और 30वें ओवर में क्रमश: हरमनप्रीत, हरलीन और ऋचा घोष ( छह रन) का विकेट चटका कर भारतीय टीम पर दबाव बना दिया।

दीप्ति और पूजा ने इसके बाद कोई और नुकसान नहीं होने दिया। पूजा ने 38वें ओवर में रनासिंघे के खिलाफ दो छक्के लगाकर टीम को जीत दिला दी।

इससे पहले टॉस गंवाने के बाद क्षेत्ररक्षण का न्योता मिलने के बाद रेणुका ने तीसरे ओवर में ही विरोधी टीम की कप्तान चामरी अट्टापट्टू (दो रन) को सस्ते में पवेलियन की रास्ता दिखाकर भारत को अच्छी शुरुआत दिलायी । दीप्ति ने इसके बाद हंसिमा करुणारत्ने को खाता खोले बगैर चलता किया।

सलामी बल्लेबाज हसिनी और हर्षिता मडावी (28) ने तीसरे विकेट के लिए 34 रन की साझेदारी कर टीम की वापसी करने की कोशिश की।

दीप्ति ने 54 गेंद की पारी में पांच चौके लगाने वाली हसिनी को आउट किया जिसके बाद हरमनप्रीत ने कविशा दिलहारी को खाता खोलने का मौका नहीं दिया। 

पारी के 19वें ओवर में 65 रन पर आधी टीम के पवेलियन लौटने के बाद श्रीलंका की टीम मुश्किल में थी लेकिन नीलाक्षी ने एक छोर संभालते हुए स्कोर को 140 के पार पहुंचाया। उन्हें विकेटकीपर अनुष्का संजीवनी (18) का अच्छा साथ मिला और दोनों ने छठे विकेट के लिए 47 जोड़े।

टीम की पुछल्ले बल्लेबाजों ने इसके बाद संघर्ष कर स्कोर को 170 रन के पार पहुंचाया।

नियमित कप्तान के तौर पर पहला एकदिवसीय खेल रही हरमनप्रीत ने मैच में आठ गेंदबाजों का इस्तेमाल किया।

श्रृंखला दूसरा मैच चार सोमवार को खेला जायेगा।

भाषा  आनन्द मोना

मोना

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

#HarGharTiranga