पंत और जडेजा ने पांचवें टेस्ट के पहले दिन भारत को संकट से निकाला |

पंत और जडेजा ने पांचवें टेस्ट के पहले दिन भारत को संकट से निकाला

पंत और जडेजा ने पांचवें टेस्ट के पहले दिन भारत को संकट से निकाला

: , July 2, 2022 / 12:04 AM IST

बर्मिंघम, एक जुलाई ( भाषा ) ऋषभ पंत के आक्रामक शतक और रविंद्र जडेजा के साथ 222 रन की साझेदारी की मदद से भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें क्रिकेट टेस्ट के वर्षाबाधित पहले दिन शुरूआती झटकों से उबरते हुए सात विकेट पर 338 रन बना लिये ।

भारत का स्कोर एक समय पांच विकेट पर 98 रन था जिसके बाद पंत और जडेजा ने 239 गेंद में 222 रन जोड़े । पंत ने 111 गेंद में 20 चौकों और चार छक्कों की मदद से 146 रन बनाये जबकि जडेजा 163 गेंद में 83 रन बनाकर खेल रहे हैं ।

बारिश के कारण पहले दिन सिर्फ 73 ओवर ही फेंके जा सके ।

हाल ही में सीमित ओवरों के क्रिकेट में खराब फॉर्म के कारण आलोचना झेलने वाले पंत ने एक बार फिर टेस्ट क्रिकेट में यादगार पारी खेलते हुए कैरियर का पांचवां और विदेश में चौथा शतक जड़ा । उन्होंने अपना शतक सिर्फ 89 गेंद में पूरा किया जो किसी भारतीय विकेटकीपर का सबसे तेज टेस्ट शतक है ।

इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स ने पंत के बल्ले पर अंकुश लगाने का जिम्मा बायें हाथ के स्पिनर जैक लीच को सौंपा जो बुरी तरह नाकाम रहे । लीच ने नौ ओवर में 71 रन दे डाले । उनके आखिरी ओवर में पंत ने दो चौके और दो छक्के लगाये ।

पंत को आखिरकार जो रूट ने पवेलियन भेजा ।

बारिश के कारण दूसरे सत्र का खेल एक घंटा विलंब से शुरू हुआ । इंग्लैंड ने भारत के पांच विकेट 98 रन पर निकाल दिये थे । जेम्स एंडरसन जहां सुबह हावी रहे तो मैथ्यू पोट्स ने खराब फॉर्म में चल रहे विराट कोहली (11) का कीमती विकेट लिये । उन्होंने हनुमा विहारी (20 ) को भी पवेलियन भेजा ।

विहारी को पो्टस ने पगबाधा आउट किया । अगले ओवर में उन्होंने कोहली को पवेलियन भेजा । भारत के बाहर अपना पहला टेस्ट खेल रहे श्रेयस अय्यर ने पोट्स को तीन चौके जड़कर आक्रामक शुरूआत की लेकिन 11 गेंद में 15 रन बनाकर आउट हो गए । एंडरसन ने उन्हें शॉर्ट गेंद डाली और सैम बिलिंग्स ने बेहतरीन डाइव लगाकर एक हाथ से उनका कैच लपका ।

इसके बाद पंत और जडेजा ने डटकर और संभलकर खेलते हुए पारी को आगे बढाया । दोनों के तेवर देखकर इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स ने बायें हाथ के स्पिनर जैक लीच को गेंद सौंपी जिनका स्वागत पंत ने दो चौकों और एक छक्के के साथ किया । उन्होंने लीच को डीप स्क्वेयर लेग में चौका लगाकर अपना अर्धशतक पूरा किया ।

इससे पहले इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया । उनके सबसे कामयाब तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने वर्षाबाधित सुबह के सत्र में दबाव बनाया जिससे मेहमान टीम ने लंच तक दो विकेट 53 रन पर गंवा दिये । बारिश के कारण लंच ब्रेक 20 मिनट पहले ही लेना पड़ा ।

एंडरसन ने सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल ( 24 गेंद में 17 रन ) और चेतेश्वर पुजारा (46 गेंद में 13 रन ) को दूसरी स्लिप में जाक क्रॉली के हाथों लपकवाकर इंग्लैंड को सफलता दिलाई ।

क्रॉली अगर मैथ्यू पॉट्स की गेंद पर विहारी का कैच लपक लेते तो भारत के तीन विकेट हो गए होते ।

श्रृंखला का आखिरी मैच खेलने लौटी भारतीय टीम ने इससे पहले महज एक चार दिवसीय अभ्यास मैच खेला है । दूसरी ओर इंग्लैंड ने विश्व टेस्ट चैम्पियन न्यूजीलैंड के खिलाफ ‘क्लीन स्वीप ’ किया है ।

इंग्लैंड के हालात का सामना करना भारतीय सलामी बल्लेबाजों के लिये कठिन चुनौती थी । एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड ने उन्हें खुलकर खेलने ही नहीं दिया । गिल ने एंडरसन को मिड विकेट पर चौका लगाकर शुरूआत की । इसके बाद स्ट्रेट ड्राइव भी लगाया लेकिन एक खराब शॉट खेलकर अपना विकेट गंवा बैठे ।

आफ स्टम्प से बाहर जाती एंडरसन की गेंद पर उन्होंने बल्ला अड़ाया और दूसरी स्लिप में कैच आउट हो गए ।

पांच ओवर बाद एंडरसन ने पुजारा को उनके कैरियर में 12वीं बार आउट किया । काउंटी क्रिकेट में रन बनाकर भारतीय टीम में लौटे पुजारा भी आफ स्टम्प पर पड़ती गेंद का शिकार हुए ।

भाषा

मोना

मोना

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

#HarGharTiranga