शालेय शिक्षाकर्मियों ने कहा- महासम्मेलन की दरकार, पूरी न हो मांग तो महाआंदोलन को भी तैयार

शालेय शिक्षाकर्मियों ने कहा- महासम्मेलन की दरकार, पूरी न हो मांग तो महाआंदोलन को भी तैयार

Edited By: , March 25, 2021 / 08:20 PM IST

रायपुर। छत्तीसगढ़ के शिक्षाकर्मियों के अलग-अलग संगठनों के द्वारा आंदोलन और सम्मेलन की खबरों के बीच आज संविलियन आंदोलन के प्रमुख घटक शालेय शिक्षाकर्मी संघ की प्रांतीय बैठक आशीर्वाद भवन रायपुर में सम्पन्न हुई। बैठक का सार यह निकला कि एकजुटता ही परिणाम का आधार है।

प्रांताध्यक्ष वीरेंद्र दुबे की अध्यक्षता में बैठक की शुरुआत में पूर्व प्रधानमंत्री स्व.अटल बिहारी बाजपेयी और  छत्तीसगढ़ के दिवंगत राज्यपाल स्व.बलराम दास टंडन को श्रद्धांजलि दी गई। बैठक में राज्यभर से आए शिक्षाकर्मियों ने अपनी बातें और समस्याएं प्रांतीय नेतृत्व के सामने रखीं, जिस पर उन्होंने समाधान के लिए प्रयास का भरोसा दिलाया। बैठक में वेतन विसंगति दूर करने, वर्ष बंधन खत्म करने, समयमान वेतनमान/क्रमोन्नति, अनुकंपा नियुक्ति आदि की समस्या को दूर करने के लिए एकजुटता के साथ सार्थक प्रयास कि जाने का प्रस्ताव आया, जिससे परिणाम मिले।

यह भी पढ़ें : डेंगू की जांच करने केंद्र से भिलाई पहुंचा दल, घरों में मिले लार्वा और एडिज़ मच्छर

प्रदेश मीडिया प्रभारी जितेंद्र शर्मा ने बताया, प्रांताध्यक्ष वीरेन्द्र दुबे ने बैठक में कहा कि- जो भी परिणाम हमें मिला है वह एकजुटता के बल पर ही मिला हैहम इसी एकता को स्थापित करने का प्रयास करेंगे। संविलियन की पुरानी मांग को सरकार पूरा किया। कुछ मांगे शेष रह गई हैं, उन्हें भी पूर्ण करने के लिए सर्वप्रथम सकारात्मक कोशिश करते हुए प्रदेश के समस्त शिक्षाकर्मियों और संगठनों के एकजुटता कायम कर महासम्मेलन को प्राथमिकता देंगे। इसमें मुख्यमंत्री का अभिनंदन कर वेतन विसंगति दूर करने, वर्षबंधन दूर करने, समयमान वेतनमान और लम्बित अनुकम्पा प्रकरण की नियुक्ति करने का आग्रह करेगी। उन्होंने उम्मीद जताई कि संवेदनशील मुख्यमंत्री हमें निराश नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि अगर महासम्मेलन से बात नही बनी तो हम एक बार फिर से महाआंदोलन करने को तैयार हैं।

बैठक में प्रांतीय महासचिव धर्मेश शर्मा ने कहा कि इसके लिए समरसता संगोष्ठी का आयोजन 2 सितंबर को आयोजित किया जाएगा। इसमें प्रदेश के समस्त संगठन-फेडरेशन के नेतृत्वकर्ता, नेतृत्वकर्ता, मीडिया हाउस, शिक्षाविदों, प्रशासनिक अधिकारियों को आमंत्रित कर समरसता स्थापित कर ठोस रणनीति बनाई जाएगी।

यह भी पढ़ें : अटल को दी जाएगी सभी जिलों में श्रद्धांजलि,24 को आएंगे अमित शाह,विकास यात्रा का दूसरा चरण 5 सितंबर से

बैठक को कार्यकारी अध्यक्ष चन्द्रशेखर तिवारी, प्रांतीय उपाध्यक्ष डॉ सांत्वना ठाकुर, प्रदेश मीडिया प्रभारी जितेन्द्र शर्मा, प्रवक्ता गजराज सिंह, प्रहलाद जैन, संतोष शुक्ला, दीपक वेताल, शिवेंद्र चंद्रवंशी, नंदकुमार अठभैया, पवन साहू, अजय वर्मा, अतुल अवस्थी, घनश्याम पटेल, कृष्णराज पांडेय तथा अन्य वक्ताओं ने संबोधित किया।

वेब डेस्क, IBC24