अब सड़कों पर इलेक्ट्रिक ऑटो रिक्शा दौड़ेंगी, लकी ड्रॉ से मिलेगा परमिट.. जानिए क्या है तैयारी

अब सड़कों पर इलेक्ट्रिक ऑटो रिक्शा दौड़ेंगी, लकी ड्रॉ से मिलेगा परमिट.. जानिए क्या है तैयारी

अब सड़कों पर इलेक्ट्रिक ऑटो रिक्शा दौड़ेंगी, लकी ड्रॉ से मिलेगा परमिट.. जानिए क्या है तैयारी

Edited By: , November 29, 2022 / 08:12 PM IST

नई दिल्ली। दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने जानकारी दी है कि पहले चरण में 2285 पुरुष ड्राइवरों के लिए इलेक्ट्रिक ऑटो के परमिट जारी करने के लिए कंप्यूटरीकृत लकी ड्रॉ से अलॉटमेंट होगा। ऑटो रिक्शा चलाने के लिए परिवहन विभाग की परमिट की जरूरत होती है और इलेक्ट्रिक ऑटो के लिए भी नियम वही हैं।

पढ़ें- कैसे हुई देश के सबसे बड़े बैंकिंग घोटाले की शुरुआत.. सस्ते रेट में जमीन-बंपर लोन.. जानिए पूरी हिस्ट्री

दिल्ली परिवहन विभाग जल्दी ही 2285 इलेक्ट्रिक ऑटो के लिए लकी ड्रॉ के जरिए परमिट जारी करेगा। इसकी प्रक्रिया परिवहन विभाग द्वारा पूरी कर दी गई है। परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने जानकारी दी है कि इन परमिट के लिए लेटर आफ इंडिमनिटी भी 28 फरवरी तक जारी कर दी जाएगी।

पढ़ें- रूस 16 फरवरी को यूक्रेन पर कर सकता है हमला, 1 लाख से ज्यादा सैनिक, फाइटर जेट, मिसाइल, टैंक तैनात.. तीन तरफ से घेराबंदी 

हेलो आई जारी होने और परमिट मिलने के बाद ऑटो रिक्शा चालक इलेक्ट्रिक ऑटो खरीद सकते हैं और सड़कों पर चला सकते हैं। यह कल पॉलिसी के तहत दिल्ली सरकार पहले ही इलेक्ट्रॉनिक गाड़ियों की खरीद पर भारी सब्सिडी दे रही है।

पढ़ें- प्री-यूनिवर्सिटी कक्षाएं और डिग्री कॉलेज 16 फरवरी से खुलेंगे.. यहां के लिए आदेश

इस बीच इलेक्ट्रिक चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर को बढ़ावा देने के लिए भी सरकार ने कई नीतियां जारी की हैं जिसके तहत राजधानी के मॉल पार्किंग सोसाइटी में भी इलेक्ट्रिक चार्जिंग व्यवस्था लगाई जा सकती है। इलेक्ट्रिक व्हीकल चलाना जेब पर बेहद फायदा जनक तो है, साथ ही साथ इससे प्रदूषण भी नहीं होता। हालांकि इलेक्ट्रिक गाड़ियों की शुरुआती कीमत फिलहाल काफी ज्यादा है।

पढ़ें- पुलिस आधुनिकीकरण रहेगा जारी.. मोदी सरकार ने 26,275 करोड़ रुपए की योजना को मंजूरी दी

इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी के तहत सरकार अगले कुछ सालों में दिल्ली के लगभग एक चौथाई गाड़ियों को इलेक्ट्रिक गाड़ियों में तब्दील करना चाहती है। डीटीसी के बेड़े के साथ-साथ पीपीपी मॉडल में भी इस साल दिल्ली की सड़कों पर इलेक्ट्रिक बस में उतारने की तैयारी है जिससे न सिर्फ सार्वजनिक परिवहन का बेड़ा बढ़ेगा बल्कि प्रदूषण से लड़ने की सरकार की कोशिशों को भी बढ़ावा मिलेगा।