प्रियंका गांधी समेत 10 अन्य कांग्रेस नेताओं के खिलाफ मामला दर्ज, वकीलों से भी मिलने ​का नहीं मिला मौका

प्रियंका गांधी समेत 10 अन्य कांग्रेस नेताओं के खिलाफ मामला दर्ज

Edited By: , October 5, 2021 / 04:17 PM IST

सीतापुर (उप्र) पांच अक्टूबर (भाषा) कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाद्रा, दीपेंद्र हुड्डा, कुलदीप वत्स और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू समेत 10 नेताओं के खिलाफ दंड प्रक्रिया संहिता के तहत मामला दर्ज किया गया है । एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी ।

उप जिलाधिकारी (एसडीएम) सीतापुर प्यारे लाल मौर्य ने मंगलवार को यहां बताया कि कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी समेत 10 नेताओं के खिलाफ चार अक्टूबर को सीआरपीसी की धारा 151 (कोई पुलिस अधिकारी जिसे किसी संज्ञेय अपराध की परिकल्पना का पता है ऐसी परिकल्पना करने वाले व्यक्ति को मजिस्ट्रेट के आदेश के बिना और वारंट के बिना गिरफतार कर सकता हैं) , 107 और 116 (मजिस्ट्रेट को यह जानकारी प्राप्त होती है कि किसी व्यक्ति द्वारा सार्वजनिक शांत भंग होने की संभावना है) के तहत मामला दर्ज किया गया है ।

read more: watch video: नशे में चूर युवकों ने पुलिसकर्मी को सरेआम पीटा, जवान की मजबूरी पर खड़े होकर तमाशा देखते रहे कुछ लोग

एसडीएम ने कहा, ‘ये निवारक धाराएं हैं, एक बार हमें आश्वासन मिलता है कि उनके द्वारा शांति उल्लंघन नहीं होगा, उन्हें हटा दिया जाएगा। लखीमपुर खीरी कांड के पीड़ितों से मिलने जाते वक्त रास्ते में चार अक्टूबर सुबह पांच बजे सीतापुर में हिरासत में ली गई कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी अब भी पुलिस अभिरक्षा में हैं।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने मंगलवार को ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि पुलिस को प्रियंका समेत पांच नेताओं को हिरासत में लिए काफी समय हो गया है । इससे पहले मंगलवार की सुबह प्रियंका ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संबोधित एक ट्वीट में कहा ‘मोदी जी आपकी सरकार ने बग़ैर किसी आदेश और मुकदमे के मुझे पिछले 28 घंटे से हिरासत में रखा है।’प्रियंका ने ट्वीट के साथ एक लोमहर्षक वीडियो भी साझा किया है जिसमें एक लग्जरी गाड़ी किसानों को रौंदती हुई जा रही है। कांग्रेस महासचिव ने पूछा है ‘अन्नदाता को कुचल देने वाला ये व्यक्ति अब तक गिरफ़्तार नहीं हुआ। क्यों?’

read more: गैस की कीमतों में वृद्धि ओएनजीसी जैसी कंपनियों के लिए सकारात्मक : फिच

लल्लू ने आरोप लगाया कि प्रियंका को अब तक अपने वकीलों से मिलने नहीं दिया गया। किसी को 24 घंटे से ज्यादा समय तक पुलिस हिरासत में रखना ग़ैर क़ानूनी है। मगर प्रशासन के कान पर जूं नहीं रेंग रही है। प्रशासन ने उन्हें हिरासत में लेने की कोई क़ानूनी वजह भी नहीं बतायी है। लल्लू के मुताबिक सीतापुर के पीएसी द्वितीय वाहिनी परिसर में हिरासत में रखी गयी प्रियंका ने साफ़ कहा है कि वह हिरासत से छूटते ही लखीमपुर खीरी जाकर दिवंगत किसानों के परिजनों से मुलाकात करेंगी।

गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी जिले के तिकोनिया क्षेत्र में रविवार को उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य द्वारा केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के पैतृक गांव के दौरे के विरोध को लेकर भड़की हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी। इस मामले में मिश्रा के बेटे आशीष समेत कई लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।प्रियंका अपने साथी नेताओं के साथ मृतक किसानों के परिजन से मुलाकात के लिए सोमवार तड़के लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हुई थीं मगर रास्ते में सीतापुर में उन्हें हिरासत में ले लिया गया।