Blast in mosque in Afghanistan's capital, 8 killed, more than 18 injured

इस देश की राजधानी में मस्जिद में हुआ ब्लास्ट, 8 लोगों की हुई मौत, 18 से ज्यादा लोग हुए घायल

Blast in mosque in Afghanistan :  अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में एक दिन में ही दो बड़े ब्लास्ट हुए है। इनमे से एक ब्लास्ट यहां की हज़ारा

Edited By: , August 6, 2022 / 01:24 AM IST

नई दिल्ली : Blast in mosque in Afghanistan :  अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में एक दिन में ही दो बड़े ब्लास्ट हुए है। इनमे से एक ब्लास्ट यहां की हज़ारा मस्जिद में हुआ है। इन दोनों ब्लास्ट में अब तक 8 लोगों के मारे जाने की खबर निकलकर सामने आ रही है। ये ब्लास्ट महिलाओं को लक्ष्य बनाकर किया गया था। वहीं इस ब्लास्ट की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट (IS) ने ली है।

यह भी पढ़े : लम्पी वायरस की रोकथाम के लिए सभी जिलों का दौरा करेंगे मंत्री, इस राज्य के सीएम ने दिए निर्देश 

काबुल के पश्चिमी इलाके में हुए दोनों ब्लास्ट

Blast in mosque in Afghanistan :  मिली जानकारी के मुताबिक ये दोनों ब्लास्ट काबुल के पश्चिमी इलाके में हुए हैं। इसमें हज़ारा और शिया लोगों को निशाना बनाया गया है। इसमें एक ब्लास्ट इमाम मोहम्मद बाकेर पर हुआ, जो काबुल के सर-ए-करीज़ इलाके में स्थित जनाना मस्जिद है। काबुल के जिस इलाके में विस्फोट हुआ है वह एक रिहाइशी इलाका है।

यह भी पढ़े : Commonwealth Games 2022 : बजरंग और साक्षी के बाद दीपक पूनिया ने भी दिखाया जलवा, पकिस्तान के पहलवान को हराकर अपने नाम किया गोल्ड 

पुलिस के अनुसार 18 लोग हुए घायल

Blast in mosque in Afghanistan :  इस मामले को लेकर अफगान पुलिस ने कहा है कि ब्लास्ट में कम से कम आठ लोगों की मौत हुई है। जबकि 18 लोग घायल हो गए हैं। वहीं इस्लामिक स्टेट ने अपने बयान में 20 लोगों के मरने और घायल होने की बात कही है। काबुल पुलिस के प्रवक्ता खालिद ज़ादरान ने बताया कि विस्फोट भीड़-भाड़ वाले इलाकों में हुआ।

यह भी पढ़े : रश्मिका मंदाना ने इस एक्टर से कर ली थी सगाई, इस वजह से तोड़ा रिश्ता 

अफगानिस्तान में शियाओं पर हाल ही में हुए कई हमले

Blast in mosque in Afghanistan :  एक खबर के अनुसार इस घटना एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें लोगों को इधर-उधर भागते हुए देखा जा सकता है। वहीं लोग घायलों की मदद के लिए आगे बढ़ रहे हैं। अफगानिस्तान में शियाओं पर हाल में कई हमले हुए हैं। वो यहां अल्पसंख्यक हैं। इस्लामिक स्टेट से जुड़े आतंकी समूह 2014 से अफगानिस्तान में सक्रिय हैं, जो देश की सुरक्षा के लिए चुनौती बने हुए हैं।

Read more: IBC24 की अन्य बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

 

#HarGharTiranga