PM Narendra Modi meets his Japanese counterpart Fumio Kishida

पूर्व पीएम शिंजो आबे के अंतिम संस्कार में शामिल होने जापान पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी, PM किशिदा से की मुलाकात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जापान के अपने समकक्ष फुमियो किशिदा से की मुलाकात , PM Narendra Modi meets his Japanese counterpart Fumio Kishida

Edited By: , November 29, 2022 / 08:27 PM IST

PM Narendra Modi meets Fumio Kishida: तोक्यो, 27 सितंबर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तोक्यो में अपने जापानी समकक्ष फुमियो किशिदा से मंगलवार को मुलाकात की। इस दौरान दोनों नेताओं ने भारत और जापान की विशेष रणनीतिक व वैश्विक साझेदारी को और मजबूत करने के लिए अपनी प्रतिबद्धता दोहराई।

प्रधानमंत्री मोदी जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे के राजकीय अंतिम संस्कार में हिस्सा लेने के लिए तोक्यो पहुंचे हैं। किशिदा वार्षिक शिखर सम्मेलन के लिए मार्च में भारत आए थे, जबकि मोदी ‘क्वाड लीडर्स समिट’ के लिए मई में जापान गए थे।

read more: आने वाले मेहमान के लिए रणबीर-आलिया ने कर ली तैयारियां पूरी, रणबीर ने कहा- बस एक बात का डर..

विदेश सचिव विनय क्वात्रा ने सोमवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा था, ‘‘प्रधानमंत्री मोदी और (जापान के) प्रधानमंत्री किशिदा के बीच द्विपक्षीय बैठक भारत-जापान की विशेष रणनीतिक व वैश्विक साझेदारी को और मजबूत करने की दोनों नेताओं की प्रतिबद्धता दिखाती है।’’

PM Narendra Modi meets Fumio Kishida: मोदी के जापान पहुंचने से पहले उन्होंने कहा था, ‘‘ये बैठकें भारत-जापान संबंधों को गहरा करने की दिशा में दोनों नेताओं की प्रतिबद्धता रेखांकित करती है, खासकर वैश्विक महामारी के बाद की क्षेत्रीय व वैश्विक व्यवस्था को आकार देने के संदर्भ में…।’’ क्वात्रा ने कहा कि हिंद-प्रशांत क्षेत्र में भारत और जापान के बीच गहरा तालमेल है।

read more:  ‘सूर्य कुमार यादव’को लेकर दिग्गज खिलाड़ी ने कही ऐसी बात, सुनकर हो सकते हैं ‘कोहली’ और ‘बाबर’ के फैंस नाराज

मोदी के अलावा विश्व के कई नेता आज यानी मंगलवार को जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे के राजकीय अंतिम संस्कार में हिस्सा लेंगे। अंतिम संस्कार में 20 से अधिक राष्ट्राध्यक्षों और सरकारों के प्रमुखों सहित 100 से अधिक देशों के प्रतिनिधियों के शामिल होने की उम्मीद है।

गौरतलब है कि आबे (67) की आठ जुलाई को उस समय गोली मारकर हत्या कर दी गई थी, जब वह दक्षिणी जापानी शहर नारा में चुनाव प्रचार के दौरान एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे।