सरकार विरोधी प्रदर्शनों के बाद अब क्या? क्यूबा के लोगों के मन में उठ रहा है सवाल

सरकार विरोधी प्रदर्शनों के बाद अब क्या? क्यूबा के लोगों के मन में उठ रहा है सवाल

: , July 17, 2021 / 02:21 PM IST

हवाना, 17 जुलाई (एपी) पुलिस, सरकार के समर्थकों और राष्ट्रपति मिगुएल दीएज-केनेल की अपनी गलतियों की स्वीकारोक्ति सबके सामने आने के कारण सरकार विरोधी प्रदर्शनों के समाप्त होने के एक सप्ताह बाद क्यूबा में सबकुछ शांत दिख रहा है। लेकिन लोगों के मन में यह सवाल भी उठ रहा है कि यह शांति कब तक रहेगी ?

देश के चौबारे और पार्क शुक्रवार को हाथों में झंडे लिए सरकार समर्थकों से भरे हुए थे, यातायात और लोगों की आवाजाही सामान्य हो गयी है। लेकिन प्रशासन द्वारा रविवार को बंद की गई मोबाइल इंटरनेट सेवा अभी भी सीमित रुप में शुरू की गई है।

पेशे से सिविल इंजीनियर 50 वर्षीय अबेल अल्बा ने कहा, ‘‘राजनीतिक और सामाजिक क्षरण हो रहा है… बहुत असंतोष है, हमें इसपर और बात/चर्चा करनी चाहिए, और काम करना चाहिए और जो भी गलत हुआ है उसे सुधारना चाहिए।’’

उन्होंने कहा, ‘‘राष्ट्रपति ने हालात में कुछ सुधार का प्रयास किया’’ लेकिन उन्होंने सड़क पर उतरे लोगों की मांगें/बातें सुनने में काफी देर कर दी।

खाद्यान्न और दवाओं की कमी, बिजली की दिक्कतों और कुछ लोगों द्वारा राजनीतिक बदलाव की मांग को लेकर रविवार को हजारों की संख्या में क्यूबा के लोगों ने हवाना के मालेकॉन और अन्य जगहों पर प्रदर्शन किया। यह प्रदर्शन सोमवार और मंगलवार को भी जारी रहा, लेकिन प्रदर्शनकारियों की संख्या काफी कम थी।

राष्ट्रपति ने शुरुआत में प्रदर्शनों के जवाब में दोषियों की तलाशी, अमेरिका द्वारा लगायी गयी आर्थिक पाबंदियों, कोविड महामारी से उत्पन्न आर्थिक संकट और क्यूबाई अमेरिकी समूहों द्वारा सोशल मीडिया पर चलाए जा रहे अभियान का हवाला दिया। लेकिन, बाद में उन्होंने क्यूबा के नेताओं की जिम्मेदारियों को स्वीकार किया।

एपी अर्पणा उमा

उमा

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)