दो दिन बाद पूरी राजधानी में होगा ब्लैकआउट! MP के पावर प्लांट्स में भी सिर्फ 3 दिन का कोयला शेष

दो दिन बाद पूरी राजधानी में होगा ब्लैकआउट! MP के पावर प्लांट्स में भी सिर्फ 3 दिन का कोयला शेष

Edited By: , October 9, 2021 / 07:28 PM IST

जबलपुर/दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में बिजली संकट बढ़ गया है, अगर कोयले की सप्लाई नहीं मिली तो दो दिन बाद पूरी दिल्ली में ब्लैक आउट हो सकता है, दिल्ली के ऊर्जा मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि जैसे ऑक्सीजन का क्राइसिस हुआ था, वो भी मैन मेड ही था, फिर से वैसी ही क्राइसिस नजर आ रही है। उन्होंने कहा कि देशभर में जितने भी पावर प्लांट हैं, जो कोयले से चलते हैं, वहां पिछले कुछ दिनों से कोयले की बहुत कमी है।

ये भी पढ़ें: कोर्ट ने मशहूर अभिनेत्री और उनके प्रेमी को भेजा ED की हिरासत में, इस मामले में जैकलीन फर्नांडीज का भी दर्ज हो चुका है बयान

दिल्ली को जिन पावर प्लांट से सप्लाई होती है, उन सभी को मिनिमम एक महीने का कोयला स्टॉक रखना होता है, लेकिन अब वो कम होकर 1 दिन का रह गया है। बता दें कि CEA(सेंट्रल इलेक्ट्रिसिटी अथॉरिटी)की कोयला उपलब्धता की ताजा रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि देश के 135 में से 110 पावर प्लांट क्रिटिकल स्टेज पर हैं। 16 पावर प्लांट्स में कोयले का स्टॉक खत्म हो गया है। 30 पावर प्लांट्स में सिर्फ 1 दिन का स्टॉक बचा है। इसके अलावा 18 पावर प्लांट में सिर्फ 2 दिन और 19 पावर प्लांट्स में सिर्फ 3 दिन का स्टॉक शेष है, देश में सिर्फ 1 पावर प्लांट के पास 7 दिन का कोल स्टॉक बचा है।

ये भी पढ़ें: प्रदूषण फैलाने के लिये उत्तर प्रदेश की एक फैक्टरी पर चार लाख रुपये से अधिक का जुर्माना

मप्र में पावर जनरेटिंग कंपनी के प्लांट में स्टॉक क्रिटिकल स्टेज में हैं, 20 दिन की जगह सिर्फ 3 दिनों के लिए MP के पावर प्लांट्स में कोयला बचा है, बिजली मामलों के जानकार राजेंद्र अग्रवाल ने CM से मांग की है कि कोयला संकट पर PM मोदी से CM शिवराज बात करें। इसके पहले भी आंध्रप्रदेश और दिल्ली के CM पीएम मोदी को पत्र लिख चुके हैं।