कैट ने अमेजन के साथ समझौता करने पर गुजरात सरकार की आलोचना की

कैट ने अमेजन के साथ समझौता करने पर गुजरात सरकार की आलोचना की

Edited By: , September 7, 2021 / 08:15 PM IST

नयी दिल्ली, सात सितंबर (भाषा) देशभर के व्यापारियों के संगठन कंफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने मंगलवार को ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन के साथ एक सहमति पत्र (एमओयू) पर हस्ताक्षर करने के लिए गुजरात सरकार की आलोचना की।

कैट ने आरोप लगाया कि अमेरिकी ई-कॉमर्स कंपनी प्रतिस्पर्धा विरोधी गतिविधियों में शामिल है।

कैट ने एक बयान में कहा, ‘‘गुजरात सरकार द्वारा एक कानून तोड़ने वाली कंपनी के साथ हाथ मिलाने से गुजरात के व्यापारियों के अलावा देश भर के व्यापारी ठगा हुआ महसूस कर रहे हैं। कैट इस तरह के एमओयू का विरोध करेगा।’’

व्यापारी संगठन ने कहा कि एक तरफ भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) जैसी केंद्रीय एजेंसियां अमेजन के खिलाफ प्रतिस्पर्धा विरोधी व्यवहारों और ई-कॉमर्स नियमों के उल्लंघन के लिए जांच कर रहे हैं और दूसरी ओर गुजरात सरकार उनके साथ हाथ मिला रही है।

कैट ने कहा कि वह इस मुद्दे को भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा और केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल के समक्ष उठाएगा।

अमेजन इंडिया ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि उसने गुजरात सरकार के उद्योग एवं खान विभाग के साथ एक समझौता किया है, जिसके तहत वह राज्य के छोटे एवं मझोले कारोबारियों को अमेजन ग्लोबल सेलिंग पर प्रशिक्षित करेगी। इससे ये कारोबारी 200 से अधिक देशों और क्षेत्रों में करोड़ों अमेजन ग्राहकों को अपने उत्पाद बेच सकेंगे।

अमेजन ग्लोबल सेलिंग कंपनियों को उसके ई-कॉमर्स मंच का उपयोग करके वैश्विक स्तर पर अपने ब्रांड पेश करने में मदद करता है।

बयान में कहा गया कि अमेजन अहमदाबाद, वडोदरा, सूरत, भरूच और राजकोट जैसे शहरों के छोटे तथा मझोले निर्यातकों के लिए प्रशिक्षण, वेबिनार और ऑनबोर्डिंग कार्यशालाएं आयोजित करेगा।

अमेजन ने कहा कि इस पहल के जरिए गुजरात के निर्यातों को उसके 17 विदेशी बाजारों के माध्यम से दुनिया भर में 30 करोड़ से अधिक ग्राहकों तक पहुंच मिलेगी।

भाषा

पाण्डेय महाबीर

महाबीर