कोविड-19 की रोकथाम के लिए नेजल स्प्रे का क्लीनिकल ट्रायल शुरू, क्या है नेजल स्प्रे वैक्सीन? जानिए

ITC launches clinical trial of Nasal Spray to prevent Covid-19 आईटीसी ने कोविड-19 की रोकथाम के लिए नेजल स्प्रे का क्लीनिकल ट्रायल शुरू किया

Edited By: , November 25, 2021 / 02:12 PM IST

नई दिल्ली, 25 नवंबर (भाषा) आईटीसी ने बृहस्पतिवार को पुष्टि की कि वह कोविड-19 की रोकथाम के लिए एक नेजल स्प्रे का विकास कर रही है और उसका क्लीनिकल ट्रायल शुरू हो चुका है।

पढ़ें- एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट.. जेवर एयरपोर्ट से जुड़ीं 5 खास बातों की खूब हो रही है चर्चा, जानिए सबकुछ

सूत्रों के अनुसार सभी जरूरी नियामकीय मंजूरी के बाद, कंपनी की यह स्प्रे सेवलॉन ब्रांड के तहत बेचने की योजना है।

पढ़ें- सरकारी कर्मचारियों को जल्द मिलेगी एक और सौगात.. 34% हो जाएगा DA.. वेतन में भी होगा इजाफा.. देखिए नया अपडेट

बेंगलुरु स्थित आईटीसी लाइफ साइंसेज एंड टेक्नोलॉजी सेंटर (एलएसटीसी) के वैज्ञानिकों ने इस स्प्रे का विकास किया है।

पढ़ें- अब महापुरुषों की जयंती और शिवरात्रि पर नहीं होगी मांस की बिक्री, इस सरकार ने लिया बड़ा फैसला.. आदेश जारी 

इस बाबत संपर्क करने पर, आईटीसी के एक प्रवक्ता ने कहा, ‘चूंकि अभी क्लीनिकल ट्रॉयल चल रहे हैं, हम इस समय ज्यादा जानकारी साझा नहीं कर सकते।’

क्या है नेजल स्प्रे वैक्सीन
नेजल स्प्रे वैक्सीन को इंजेक्शन की बजाए नाक से दिया जाएगा। नाक के अंदर के इम्यून हिस्से को तैयार करेंगी। नेजल स्प्रे इसलिए अधिक कारगर मानी जा रही है क्योंकि कई सारी बीमारियों का प्रमुख हिस्सा नाक से गुजरता है। ऐसे में नेजल स्प्रे वैक्सीन नाक के अंदरूनी हिस्से में जाकर इम्यूनिटी को तैयार करती है। और बीमारियों को रोकने में मदद करती है।

पढ़ें- पहली बार देश में पुरुष से ज्यादा महिलाएं..शहर और गांव में दिखा बड़ा अंतर, प्रजनन दर भी घटी

नेजल स्प्रे के 3 फायदे

– इंजेक्शन से मिलेगा छुटकारा।
– नाक के अंदर इम्युनिटी होगी तैयार।
– सांस के संक्रमण से छुटकारा।

कितने डोज और कितने दिन में लगेंगे