शीर्ष ऑटो कंपनियों ने जुलाई में बिक्री में दो अंकों की वृद्धि दर्ज की

शीर्ष ऑटो कंपनियों ने जुलाई में बिक्री में दो अंकों की वृद्धि दर्ज की

Edited By: , August 1, 2021 / 07:07 PM IST

नयी दिल्ली, एक अगस्त (भाषा) मारुति सुजुकी इंडिया, हुंदै और टाटा मोटर्स सहित शीर्ष ऑटो कंपनियों ने रविवार को व्यापक आर्थिक कारकों के स्थिरीकरण और बेहतर उपभोक्ता भावनाओं के चलते जुलाई में अपने घरेलू यात्री वाहनों की बिक्री में दो अंकों की वृद्धि दर्ज की।

इसी तरह, होंडा, निसान, एमजी मोटर और स्कोडा ने भी सेमी-कंडक्टर की आपूर्ति की कमी के बावजूद, कोविड-19 की कम संक्रमण दर के बीच बाजार के मिजाज में सुधार के कारण पिछले महीने अपनी बिक्री में स्वस्थ वृद्धि दर्ज की।

देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई) की बिक्री जुलाई में 50 प्रतिशत बढ़कर 1,62,462 इकाई पर पहुंच गई।

इससे पिछले साल के समान महीने में कंपनी ने 1,08,064 वाहन बेचे थे।

घरेलू बाजार में कंपनी की बिक्री 39 प्रतिशत बढ़कर 1,41,238 इकाई रही, जो एक साल पहले इसी महीने में 1,01,307 इकाई रही थी।

कंपनी की मिनी कारों – आल्टो तथा वैगन आर की बिक्री 19,685 इकाई रही, जो जुलाई, 2020 में 17,258 इकाई रही थी।

कॉम्पैक्ट खंड… स्विफ्ट, सेलेरियो, इग्निस, बलेनो और डिजायर की बिक्री 70,268 इकाई रही, जो एक साल पहले 51,529 इकाई रही थी। कंपनी ने इस महीने में मध्यम आकार की सेडान सियाज की 1,450 इकाइयां बेचीं। एक साल पहले यह आंकड़ा 1,303 इकाई का रहा था।

कंपनी के यूटिलिटी वाहनों – विटारा ब्रेजा, एस-क्रॉस और एर्टिगा की बिक्री 32,272 इकाई रही, जो एक साल पहले इसी महीने में 19,177 इकाई रही थी।

प्रतिद्वंदी कंपनी हुंदै मोटर इंडिया लिमिटेड (एचएमआईएल) की जुलाई महीने में घरेलू बाजार में बिक्री 26 प्रतिशत बढ़कर 48,042 इकाई रही, जो एक साल पहले इसी महीने में 38,200 इकाई थी।

कंपनी ने यह बिक्री अपने नये मॉडल अल्काजार और क्रेटा, आई20 एवं वेन्यू जैसे दूसरे उत्पादों के शानदार प्रदर्शन के सहारे किया।

कंपनी के निदेशक (बिक्री, विपणन एवं सेवा) तरुण गर्ग ने कहा, ‘वृहद आर्थिक कारकों के स्थिरीकरण, अच्छे मानसून और व्यक्तिगत गतिशीलता की ओर उपभोक्ताओं के रुझान में वृद्धि के साथ यात्री वाहन उद्योग में एक सकारात्मक वृद्धि की गति स्पष्ट रूप से दिखाई दे रही है।’

टाटा मोटर्स ने भी जुलाई 2021 में अपनी वृद्धि की गति को बनाए रखा। घरेलू बाजार में उसकी यात्री वाहनों की बिक्री जुलाई में 30,185 इकाई रही जबकि पिछले साल इसी महीने में यह 15,012 इकाई थी।

एमजी मोटर इंडिया की खुदरा बिक्री भी दोगुनी होकर 4,225 वाहनों की रही।

एमजी मोटर ने इससे पिछले वर्ष के इसी महीने के दौरान 2,105 वाहनों की बिक्री की थी।

कंपनी ने जुलाई, 2021 के दौरान बिजली से चलने वाली अपने इलेक्ट्रिक वाहन जेडएस (ईवी) की रिकॉर्ड बिक्री की और उसके साथ ही उसे रिकॉर्ड बुकिंग में हासिल हुई।

एमजी मोटर इंडिया के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक राजीव छाबा ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘बहुत सारे लोग भारत में बिजली से चलने वाले वाहनों की क्षमता के बारे में पूछते हैं। मेरा मानना है कि लोग तैयार हैं और उन्हें ओईएम (मूल उपकरण विनिर्माता) से अच्छे समाधान/विकल्प चाहिए। हमें जुलाई में जेडएस ईवी की रिकॉर्ड बुकिंग मिली।’’

वहीं एमजी मोटर इंडिया के निदेशक (बिक्री) राकेश सिदाना ने कहा कि जुलाई के दौरान हेक्टर और जेडएस ईवी की बिक्री ने और रफ्तार पकड़ी।

होंडा कार्स इंडिया लिमिटेड (एचसीआईएल) ने भी जुलाई में घरेलू बाजार में 12 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 6,055 इकाइयां बेचीं। इससे पिछले साल इसी महीने में कंपनी ने 5,383 इकाइयां बेची थीं।

निसान ने भी जुलाई 2021 में अपनी घरेलू बिक्री में कई गुना वृद्धि दर्ज की। कंपनी ने 4,259 इकाइयों की बिक्री की जो पिछले साल इसी महीने में 784 इकाई थी।

वहीं स्कोडा ऑटो की वाहन बिक्री जुलाई में तीन गुना होकर 3,080 इकाइयों पर पहुंच गई। एक साल पहले इसी महीने में कंपनी ने 922 वाहन बेचे थे।

चेक कार कंपनी ने कहा कि उसकी वाहन बिक्री में हाल में पेश कॉम्पैक्ट एसयूवी कुशाक का अच्छा योगदान रहा।

स्कोडा ऑटो इंडिया के ब्रांड निदेशक जाक होलिस ने कहा कि नए वाहन पेश करने की वजह से कंपनी मूल्य श्रृंखला में रफ्तार कायम रखने में सफल रही।

उन्होंने कहा, ‘‘डीलरशिप पर अब ग्राहकों की आवाजाही बढ़ रही है। ग्राहकों की पूछताछ भी बढ़ रही है। देशभर में डीलरों की ओर से नए डीलरशिप के लिए आग्रह में भी कई गुना की वृद्धि हुई है।’’

भाषा प्रणव जतिन

प्रणव