बिलासपुर से सीधी इस शहर के लिए भी उड़ानें, देखिए कब से हो रही है यह Start

Edited By: , May 20, 2022 / 06:16 PM IST

बरुण सखाजी. बिलासपुर

 

Bilaspur के लिए अच्छी खबर है। बिलासा बाई केंवटिन एयरपोर्ट से हवाई सुविधाओं का विस्तार होने जा रहा है। फिलहाल बिलासपुर से जबलपुर होते हुए दिल्ली और बिलासपुर से प्रयागराज होते हुए दिल्ली की फ्लाइट्स हैं। लेकिन जल्द ही और भी फ्लाइट्स शुरू होने जा रही हैं। इस फ्लाइट के शुरू होने से हवाई यात्रियों को राहत मिलेगी। साथ ही इस एयरपोर्ट को 4-सी श्रेणी लाइसेंस के लिए की जा रही मांग भी जल्द पूरी हो सकेगी।

 

5 जून से नई फ्लाइट

 

Airport Authority of India 5 June से बिलासपुर और एक नए शहर के लिए उड़ान को मंजूरी दे चुकी है। Bilasa Bai Kenvtin Airport प्रबंधन ने इसकी तैयारी शुरू कर दी है। हवाई सुविधा में विस्तार को लेकर इसे महत्वपूर्ण शुरुआत मानी जा रही है।

राजधानी में फिर आया लव जिहाद का मामला, धर्म छिपाकर महिला डॉक्टर से किया रेप, फिर मुसलमान बनने का बनाया दबाव

 

सुबह साढ़े 11 बजे उड़ेगी फ्लाइट

 

मिली जानकारी के अनुसरा इस फ्लाइट का एक दिन का पूरा ठहराव बिलासपुर एयरपोर्ट पर रहेगा। 5 जून  सुबह 11.30 बजे भोपाल के लिए उड़ान की शुरुआत होगी। जारी Time Table के अनुसार भोपाल से उड़ान भरकर विमान 3.45 बजे बिलासा Airport पहुंचेगा। शाम 4.15 बजे जबलपुर के लिए उड़ान भरेगा। एलायंस एयर कंपनी द्वारा यह सुविधा दी जा रही है।

 

अब जिला जज करेंगे ज्ञानवापी मस्जिद मामले की सुनवाई, सुप्रीम कोर्ट ने दिए आदेश

 

जबलपुर, प्रयागराज, दिल्ली के बाद अब यहां मिली फ्लाइट की सौगात

 

जबलपुर, प्रयागराज और दिल्ली के बाद अब भोपाल के लिए भी फ्लाइट शुरू होने जा रही है। बिलासपुर से भोपाल के बीच सप्ताह में 4 दिन हवाई सुविधाएं मिलेंगी। सोमवार, मंगलवार, बुधवार और गुरुवार को बिलासपुर से भोपाल के लिए बिलासा एयरपोट्र से प्लेन रवाना होगा। विमानन कंपनी और केंद्रीय नागर विमानन मंत्रालय इसे तय करेगा। बिलासा एयरपोर्ट से सुबह 11.30 बजे भोपाल के लिए उड़ान होगी। बिलासा एयरपोर्ट प्रबंधन से मिली जानकारी के अनुसार केंद्रीय नागर विमानन मंत्रालय से मिली मंजूरी के बाद उड़ान को लेकर शैड्यूल जारी कर दिया गया है। तीन जून को विमान भोपाल से उड़ान भकर बिलासपुर पहुंचेगी।

 

 

 

4-C के लिए चाहिए जमीन

Bilasa Bai Kenvtin Airport Bilaspur (बिलासा बाई केंवटिन एयरपोर्ट) को 4 सी श्रेणी लाइसेंस के लिए लंबे अरसे से मांग की जा रही है। इसके लिए रनवे का लंबा होना जरूरी है। इसके लिए अभी भी 270 एकड़ जमीन की और जरूरत है। यहां से लगे हुए एरिया में जमीन सेना को एलॉट की गई है। इस जमीन को वापस लेने के लिए पत्राचार जारी है। कुछ वर्ष पूर्व राज्य सरकार ने चकरभाठा Base Camp के लिए Difence Ministry को चकरभाठा, धमनी के आठ गांव की 1173 एकड़ जमीन दी थी।  रक्षा मंत्रालय ने Base Camp की शुरुआत कर दी है। यहां जब तक 270 एकड़ जमीन सेना से वापस नहीं मिलेगी तब तक Run-Way विस्तार नहीं हो सकता। फिलहाल में 1490 मीटर से 2885 मीटर तक Run-Way का होना जरूरी है।

त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव के लिए जबलपुर में 25 मई को होगा आरक्षण, कलेक्टर ने जारी किया कार्यक्रम