The youth started cultivating guava, leaving a package of crores abroad

विदेश में करोड़ों का पैकेज छोड़ अमरूद की खेती करने लगा युवक, अब दो करोड़ की कमाई, सैकड़ों को दिया रोजगार

The youth started cultivating guava, leaving a package of crores abroad विदेश में करोड़ों का पैकेज छोड़ अमरूद की खेती करने लगा युवक

Edited By: , September 23, 2022 / 12:27 PM IST

रायपुर : हरियर फिल्ड्स प्रायवेट लिमिटेड के फाउंडर और CEO कबीर चंद्राकर ने अपने इनोवेटिव आईडिया के जरिए छत्तीसगढ़ के किसानों को नई दिशा दिखाई है। ऐसे वक्त में जब युवा विदेशों में या मल्टीनेशनल कंपनी ने नौकरी करना बेहतर भविष्य मान रहे है। तब कबीर चंद्राकर ने विदेश में पढाई करने के बाद भी खेती को ही अपना भविष्य बना लिया है । रायपुर से लगे मुजगहन के किसान परिवार में जन्में कबीर चंद्राकर ने इंग्लैंड से कॉर्पोरेट फाईनेंस में MBA करने के बाद कृषि के क्षेत्र में कदम रखकर न सिर्फ अपने पैतृक कार्य को आगे बढा रहे है।

Read More: लेवाना अग्निकांड: होटल आग मामले में सरकार के जवाब से अदालत ने जतायी नाखुशी, ये रही वजह 

ढाई करोड़ सालाना का पैकेज

बल्की आस पास के कई किसानों को भी एक नया विकल्प दिया है । कबीर चंद्राकर ने अमरुद की खेती को कॉर्पोरेट कल्चर से जोड़ा और आधुनिक तकनीक के जरिए एक्जॉटिक फार्मिंग करन लगे गए । आज कबीर लगभग 150 एकड़ में अमरुद की खेती कर रहे है, और उनका आज कारोबार सालाना ढाई करोड़ रुपए का हो गया है । कबीर के मुताबिक अगले पांच साल में वे अपने अमरुद के बीजनेस को सात समुंदर पार तक ले जाना चाहते है । कबीर के मुताबिक अगले पांच साल में उनका लक्ष्य 600 से 700 एकड़ में फसल लेने अपने टर्नओवर को 20 करोड़ रुपए तक पहुंचाना चाहते है ।

Read More: एक्ट्रेस ने स्टाइलिश आउटफिट में दिखाया बेहद Hot अवतार, सेक्सी पर्सनालिटी देखकर फैंस के छूटे पसीने 

300 महिलाओं को दिया रोजगार

मात्र 32 साल की उम्र के कबीर ने जो मुकाम हासिल किया है। उसमें उनके परिवार के सदस्यों का भी सहयोग है । कबीर आज खेती के जरिए लगभग 300 महिलाओं और पुरुषों को रोजगार भी दे रहे है । कमर्शियल फार्मिंग कर  हरियर फिल्ड्स प्रायवेट लिमिटेड को खड़ा किया । फाउंडर और CEO कबीर चंद्राकर लगभग 150 एकड़ में कर रहे, जिसमें  अमरुद की खेती, अलग अलग वैरायटी की के फ्रूट शामिल है। विदेश में मैनेजमेंट की पढ़ाई की शिक्षा हासिल कर कबीर अपने व्यापार में इसका खूब उपयोग कर रहे है।

Read More: एमपी का पीएफआई कनेक्शन, ये काम करने के मिलते थे पैसे, चारों आरोपियों को स्पेशल कोर्ट में किया पेश