अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस : CM शिवराज ने पत्नी साधना सिंह के साथ किया पौधारोपण, महिलाओं से कहा- आपके लिए कोई काम असंभव नहीं | International Women's Day : CM Shivraj sweeps the road with women sanitation workers Said - no work is impossible for you

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस : CM शिवराज ने पत्नी साधना सिंह के साथ किया पौधारोपण, महिलाओं से कहा- आपके लिए कोई काम असंभव नहीं

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस : CM शिवराज ने पत्नी साधना सिंह के साथ किया पौधारोपण, महिलाओं से कहा- आपके लिए कोई काम असंभव नहीं

: , March 29, 2021 / 12:10 AM IST

भोपाल। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर  CM शिवराज सिंह चौहान का बयान सामने आया है। सीएम शिवराज ने कहा कि महिलाएं सभी कार्य कर सकती हैं, कोई कार्य असंभव नहीं है। CM सुरक्षा में गाड़ी चलाने, सुरक्षा में भी ड्यूटी कर रहीं हैं। OSD के कार्य भी महिलाएं कर रही हैं ।

Read More: पांच साल से पंचायतों के चक्कर काट रही डकैत की पत्नी, पूछ रही- आखिर कहां बनेगा मेरे पति का मृत्यु प्रमाण पत्र?

CM शिवराज सिंह चौहान  ने कहा कि  मध्यप्रदेश में लाडली लक्ष्मी जैसी योजनाएं लागू की गई हैं। पंचायत राज संस्थाओं और नगरीय निकायों में महिलाओं के लिए आरक्षण का प्रबंध किया गया है। जन प्रतिनिधि के तौर पर 50% आरक्षण की व्यवस्था की गई है। सरकारी नौकरियों में भी महिलाओं का प्रतिशत निरंतर बढ़ रहा है। महिलाओं की सुविधाओं और सम्मान के लिए सरकार निरंतर कार्य करेगी।

Read More: राज्यपाल उइके ने राजिम माघी पुन्नी मेला में की संत समागम की शुरुआत, कहा- राजिम मेला का समाजिक और धार्मिक महत्व है

CM से चाय पर चर्चा के दौरान महिला स्वच्छता कर्मियों ने कहा कि  महिला दिवस पर आप हमारे बीच आए हैं। हमारे लिए बहुत खुशी की बात है। महिलाओं को बढ़ावा दिया इसके लिए धन्यवाद, आपने बहुत सी महिला पार्षद और पंच सरपंच बनवाई हैं। महिलाओं का सम्मान बढ़ाया है।

Read More: अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर CM भूपेश बघेल ने दी शुभकामनाएं,

वहीं CM शिवराज सिंह चौहान स्मार्ट सिटी रोड पार्क पहुंचे हैं। CM शिवराज सिंह चौहान ने पत्नी साधना सिंह और अन्य महिलाओं के साथ पौधरोपण किया है। CM शिवराज ने पत्रकारिता के क्षेत्र से जुड़ी महिलाओं के साथ पौधारोपण किया है। सीएम शिवराज ने अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की सभी महिलाओं को बधाई देते हुए कहा कि महिलाएं हर काम कर सकती हैं। वो अनंत शक्तियों का भंडार हैं। बस जरूरत है उस शक्ति को पहचानकर उसे आगे बढ़ाने की, मेरी गाड़ी चलाने से लेकर मेरी सुरक्षा का जिम्मा सभी महिलाओं ने बखूबी निभाया है। महिला सशक्तिकरण को लेकर प्रदेश में बहुत काम हुए हैं। महिला सशक्तिकरण हमारा नारा नहीं मिशन है। आज मां बहनों के कल्याण के लिए फैसले लेने के काम करेंगे, बहनों में बहुत क्षमताएं है बस उसे पहचाने की जरूरत है।