Badrinath Highway Accident: रुद्रप्रयाग सड़क हादसे में 14 लोगों की मौत, PM मोदी, राष्ट्रपति मुर्मू समेत इन नेताओं ने जताया दुख | Badrinath Highway Accident

Badrinath Highway Accident: रुद्रप्रयाग सड़क हादसे में 14 लोगों की मौत, PM मोदी, राष्ट्रपति मुर्मू समेत इन नेताओं ने जताया दुख

Badrinath Highway Accident: रुद्रप्रयाग सड़क हादसे में 14 लोगों की मौत, PM मोदी, राष्ट्रपति मुर्मू समेत इन नेताओं ने जताया दुख

Edited By :   Modified Date:  June 15, 2024 / 10:45 PM IST, Published Date : June 15, 2024/10:40 pm IST

रुद्रप्रयाग: Badrinath Highway Accident उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग जिले में बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर रैतोली गांव के समीप शनिवार को एक टेम्पो-ट्रैवलर के अलकनंदा नदी में गिर जाने से उसमें सवार 14 पर्यटकों की मौत हो गयी तथा 12 अन्य घायल हो गए। रूद्रप्रयाग जिला प्रशासन द्वारा यहां उपलब्ध कराई गयी जानकारी के अनुसार, हादसे के दौरान वाहन अचानक अनियंत्रित होकर सड़क से 200 मीटर नीचे अलकनंदा नदी के किनारे तक जा गिरा। दुर्घटना में 10 लोगों की मौके पर ही मौत हो गयी जबकि चार अन्य ने बाद में दम तोड़ा।

Read More: सोयाबीन ऑयल पैकेजिंग प्लांट में लगी भीषण आग, मची अफरातफरी, दमकल की 10 गाड़ियां मौजूद

Badrinath Highway Accident जानकारी के अनुसार, दो लोगों की मौत रुद्रप्रयाग जिला अस्पताल में हुई जबकि दो अन्य को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान(एम्स)-ऋषिकेश में चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। मृतकों में से तीन की पहचान नहीं हो पायी है। मृतकों में वाहन चालक करन सिंह भी शामिल है। दुर्घटना का शिकार हुए लोग उत्तर प्रदेश के नोएडा, मथुरा, झांसी, उत्तराखंड के हल्द्वानी, मध्य प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा के रहने वाले थे और चोपता घूमने जा रहे थे। रूद्रप्रयाग के जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी नंदन सिंह रजवार ने बताया कि पूर्वाह्न करीब साढ़े 11 बजे हुए हादसे की सूचना मिलने पर पुलिस और राज्य आपदा प्रतिवादन बल (एसडीआरएफ) की टीमों ने मौके पर पहुंच कर राहत एवं बचाव कार्य शुरू किया।

Read More: बस्तर में आज फिर कम हुए 12 नक्सली, 4 गिरफ्तार 8 मारे गए, एक जवान शहीद दो घायल 

घटना की खबर मिलते ही जिलाधिकारी सौरभ गहरवार, पुलिस अधीक्षक विशाखा अशोक भदाणे सहित सभी वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे और बचाव एवं राहत कार्यों की निगरानी की। दुर्घटनास्थल पर गहरी खाई होने के कारण अत्यधिक विषम परिस्थितियों में कड़ी मशक्कत करते हुए बचाव और राहत दल के कर्मी नीचे पहुंचे तथा शवों एवं घायलों को बाहर निकाला। दुर्घटना के दौरान एक महिला गाड़ी से छिटककर लगभग 80 मीटर नीचे झाड़ियों में अटक गयी थी। एसडीआरएफ के जवानों ने उसे सुरक्षित बाहर निकालकर अस्पताल भिजवाया।

Read More: Top South Indian Thriller Movies List : ये हैं टॉप की थ्रिलर और सस्पेंस वाली साउथ इंडियन फिल्में, एक बार देखने के बाद सोचने पर मजबूर हो जाएंगे आप भी.. 

गढ़वाल के पुलिस महानिरीक्षक के एस नगन्याल ने बताया कि हादसे का शिकार हुए पर्यटक चोपता घूमने जा रहे थे, लेकिन गंतव्य तक पहुंचने से पहले ही उनका वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो गया। उन्होंने बताया कि हादसे के समय वाहन में कुल 26 लोग सवार थे। पुलिस महानिरीक्षक ने बताया कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश पर दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल सात व्यक्तियों को हेलीकाप्टर एंबुलेंस के जरिए अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान(एम्स)-ऋषिकेश में भर्ती कराया गया । मुख्यमंत्री ने इस हादसे पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी को घटना की जांच के आदेश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने सोशल मीडिया पर अपने शोक संदेश में दुर्घटना को ‘पीड़ादायक’ बताते हुए दिवंगत लोगों की आत्मा की शांति और शोक संतप्त परिवारों को धैर्य प्रदान करने की ईश्वर से कामना की ।

 

बाद में, धामी दुर्घटना के घायलों का हाल-चाल जानने एम्स ऋषिकेश पहुंचे और चिकित्सकों से उनके इलाज के बारे में जानकारी लेते हुए उन्हें घायलों को बेहतर इलाज उपलब्ध कराने को कहा। उन्होंने घायलों के परिजनों से भी संपर्क कर राज्य सरकार की ओर से उन्हें हर संभव मदद का आश्वासन दिया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में वाहन दुर्घटनाओं पर प्रभावी रूप से नियंत्रण पाने के लिए भी अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने अधिकारियों को यात्रा पर रवाना होने से पहले वाहनों की हर प्रकार से जांच करने को कहा ताकि दुर्घटनाओं पर लगाम लगायी जा सके। मुख्यमंत्री ने लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को कठोर कार्रवाई की चेतावनी भी दी ।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रुद्रप्रयाग में हुई वाहन दुर्घटना में मृतकों के आश्रितों को दो-दो लाख रुपए, गंभीर रूप से घायलों को 40-40 हजार रुपए तथा सामान्य घायलों को 10-10 हजार की आर्थिक सहायता देने के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। एम्स-ऋषिकेश की ओर से जारी स्वास्थ्य बुलेटिन में बताया गया कि अस्पताल में लाए गए सात घायलों में से दो मृत स्थिति में लाए गए। एम्स ऋषिकेश की ट्रामा सर्जन डॉ रूबी कटारिया ने बताया कि पांच अन्य घायलों के इलाज में ट्रॉमा विभाग के चिकित्सकों की टीम जुटी हुई है। उन्होंने बताया कि घायलों के शरीर के कई भागों में गहरी चोटें आयी हैं और लगभग सभी गंभीर स्थिति में हैं। उन्होंने बताया कि घायलों में दो को छोड़कर अन्य सभी बोलने की स्थिति में भी नहीं हैं।

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने जताया दुख

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग में हुई सड़क दुर्घटना में लोगों की मृत्यु पर शनिवार को शोक व्यक्त किया और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की। मुर्मू ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर पोस्ट किया, ‘‘रुद्रप्रयाग, उत्तराखंड में एक सड़क दुर्घटना में अनेक लोगों की मृत्यु होने का समाचार दुखद है। मैं शोक संतप्त परिवारजनों के प्रति गहन संवेदना व्यक्त करती हूं और घायल हुए लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करती हूं।’’ प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर की गयी पोस्ट में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस हादसे को ‘हृदयविदारक’ करार दिया।

पीएम मोदी ने जताया दुख

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘‘ उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग में हुआ सड़क हादसा हृदयविदारक है। इसमें अपने प्रियजनों को खोने वाले शोकाकुल परिजनों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं। इसके साथ ही मैं सभी घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं। राज्य सरकार की देखरेख में स्थानीय प्रशासन पीड़ितों की हरसंभव मदद में जुटा है।’’ प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की ओर से ‘एक्स’ पर किए गए एक पोस्ट के मुताबिक, ‘‘ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हादसे में जान गंवाने वाले प्रत्येक व्यक्ति के निकटतम परिजन को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (पीएमएनआरएफ) से दो लाख रुपए की अनुग्रह राशि जबकि हादसे में घायल हुए लोगों को 50,000 रुपए देने की घोषणा की है।’’

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ और अन्य नेताओं ने इस हादसे पर दुख व्यक्त किया है। हादसे पर दुख जताते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ‘‘एक्स’’ पर पोस्ट कर हादसे में जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की। उन्होंने पोस्ट किया, ‘‘उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग में हुई सड़क दुर्घटना का दु:खद समाचार प्राप्त हुआ। मेरी संवेदनाएँ इस हादसे में जान गंवाने वालों के परिजनों के साथ हैं। स्थानीय प्रशासन और एसडीआरएफ की टीमें राहत व बचाव कार्य में जुटी हैं और घायलों को हर सम्भव सहायता उपलब्ध कराई जा रही है। ईश्वर से घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।’’

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने जताया दुख

वहीं हादसे को लेकर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने भी दुख व्यक्त किया है। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने X पर लिखा, “उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग में श्रद्धालुओं से भरे टेंपो ट्रैवलर के अलकनंदा नदी में गिरने से कई लोगों की मृत्यु का समाचार अत्यंत दुखद है। इस दुख में, मैं सभी शोक संतप्त परिजनों को अपनी गहरी संवेदनाएं व्यक्त करता हूं। साथ ही घायलों के शीघ्र से शीघ्र स्वस्थ होने की आशा करता हूं। कांग्रेस के साथियों से अपील है कि बचाव कार्य में प्रशासन की हर संभव मदद करें।”

IBC24 की अन्य बड़ी खबरों के लिए हमारे फेसबुक फेज को भी फॉलो करें

IBC24 की अन्य बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Follow the IBC24 News channel on WhatsApp

 
Flowers