2254 Villages merged in water and 134 people died in Assam due to heavy rains

भारी बारिश ने मचाई तबाही, 2254 गांव पानी में डूबे, अब तक 134 लोगों की मौत, 79 सड़क और पांच पुल भी हुए तबाह

भारी बारिश ने मचाई तबाही, 2254 गांव पानी में डूबे : 2254 Villages merged in water and 134 people died in Assam due to heavy rains

Edited By: , June 28, 2022 / 02:02 AM IST

गुवाहाटी : 2254 Villages merged in water असम में सोमवार को बाढ़ के कारण आठ और लोगों की मौत हो गई, जबकि 21 लाख से अधिक लोग प्रभावित हैं। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इस साल बाढ़ के कारण मृतकों की संख्या बढ़कर 134 हो गई, जिसमें सोमवार को दिन में आठ लोगों की मौत हुई। इसमें कछार जिले के पांच और कामरूप मेट्रो, मोरीगांव और नगांव से एक-एक व्यक्ति शामिल हैं।

Read more : भरी महफिल में इस स्टार ने तोड़ा था सलमान का घमंड, कहा था – “ जाओ अपने बाप से पूछ के आना हम कौन है”

2254 Villages merged in water असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार, कछार जिले में भी एक व्यक्ति के लापता होने की सूचना है। हालांकि, बाढ़ की स्थिति में कुछ सुधार हुआ है। एएसडीएमए के बुलेटिन के अनुसार, 22 जिलों में कुल प्रभावित आबादी घटकर 21.52 लाख हो गई, जबकि पिछले दिन 28 जिलों में यह संख्या 22.21 लाख थी।

Read more : जॉर्डन में गैस रिसाव से 13 लोगों की मौत, 250 से ज्यादा बीमार

अधिकारियों ने बताया कि ज्यादातर नदियों में जल स्तर घट रहा है। हालांकि, नगांव में कोपिली, कछार में बराक और करीमगंज में करीमगंज और कुशियारा खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। एक सप्ताह से अधिक समय से पानी में डूबे सिलचर कस्बे में उन इलाकों में राहत पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है जहां प्रशासन को वायुसेना के हेलीकॉप्टर से भोजन, पीने के पानी और अन्य आवश्यक वस्तुओं के पैकेट गिराने के लिए हवाई मार्ग से पहुंचना बाकी है। कछार की उपायुक्त कीर्ति जल्ली ने कहा कि मानव रहित विमान (यूएवी) के जरिये सिलचर शहर में बाढ़ का नक्शा तैयार करने के लिए निगरानी और सर्वेक्षण किया जा रहा है ताकि विभिन्न क्षेत्रों में क्षति का आकलन किया जा सके और भविष्य में नुकसान को कम करने के उपाय करने में मदद मिल सके। मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने रविवार को दो दिनों के भीतर दो बार सिलचर का दौरा कर शहर में राहत और बचाव कार्यों की समीक्षा की।

Read more : ‘सर प्लीज मेरा जेंडर चेंज कर लड़का बना दीजिए, प्रेमिका से शादी कर सकूंगी’ परिवार के खिलाफ जाकर युवती ने कराया लिंग परिवर्तन

परिवहन मंत्री परिमल शुक्लाबैद्य ने सोमवार को बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए राहत सामग्री के वितरण का निरीक्षण करने के लिए अपने निर्वाचन क्षेत्र ढोलई में बोरजालेंगा और नरसिंहपुर विकास खंड का दौरा किया। एएसडीएमए ने एक बुलेटिन में कहा कि इस बीच, राज्यभर में 61 राजस्व मंडलों के तहत 2,254 गांव बाढ़ की मौजूदा लहर से प्रभावित हैं, जबकि 1,91,194 लोगों ने 538 राहत शिविरों में शरण ली है। बाढ़ के पानी से 79 सड़कों और पांच पुलों को नुकसान पहुंचा है, जबकि छह तटबंध टूट गए हैं। बुलेटिन में कहा गया है कि 74,655.89 हेक्टेयर फसल क्षेत्र अभी भी जलमग्न है, और अब तक 2,774 जानवर पानी में बह गए हैं।

Read more : शिव भक्तों के लिए खुशखबरी, दो सालों बाद इस दिन से फिर से शुरू होगी कांवड़ यात्रा, सर्विलांस कैमरों से होगी निगरानी

इस बीच, बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान ने सोमवार को बाढ़ प्रभावित लोगों की सहायता के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में 25 लाख रुपये का दान दिया। मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट किया, “बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 25 लाख रुपये का उदार योगदान देकर हमारे राज्य के बाढ़ प्रभावित लोगों की मदद के लिए हाथ बढ़ाया। उनकी चिंता और उदारता के लिए मेरी ओर से हार्दिक आभार।”

 

#HarGharTiranga