Big statement of RSS regarding Indian diaspora, said this

भारतीय प्रवासियों को लेकर RSS का बड़ा बयान, कही ये बात

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने से विश्व संघ शिक्षा वर्ग में उद्बोधन में प्रवासी भारतीयों के महत्व को रेखांकित किया है। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि प्रवासी भारतीयों के आचरण पर धब्बा नहीं है। भागवत ने आगे कहा कि जहां भी प्रवासी भारतीय गए हैं, वो उस देश के लिए एसेट बने हैं।

Edited By: , August 6, 2022 / 08:19 PM IST

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने से विश्व संघ शिक्षा वर्ग में उद्बोधन में प्रवासी भारतीयों के महत्व को रेखांकित किया है। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि प्रवासी भारतीयों के आचरण पर धब्बा नहीं है। भागवत ने आगे कहा कि जहां भी प्रवासी भारतीय गए हैं, वो उस देश के लिए एसेट बने हैं। संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा किकैरिबियंस देशों में रहने वाले भाई बहनों इसका दुख ना करो कि आप लोग अपनी मातृभूमि से बिछड़े हुए है।भगवान ने प्रयोजन किया है, उसकी इच्छा से ये हुआ है। उन्होंने आगे कहा कि आपके भाग्य में अपनी स्वभूमि से निर्वासन और ऐसी स्थिति में भी उसकी पुरानी स्मृतियां पीढ़ी दर पीढ़ी रह रहे हैं, उसको आपको सारी दुनिया को देना है।

Read More:शहर को भ्रष्टाचार मुक्त बनाने मैडम मेयर का पहला लक्ष्य, बोलीं- सबसे पहले पूरा होगा यह काम 

भारत विश्व को धर्म से जोड़ने वाला देश

संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि भारत का उत्थान तब हुआ जब हम विश्व के कल्याण के मार्ग पर चले। उन्होंने कहा कि भारत विश्व को धर्म से जोड़ने वाला देश है और भारत व्यक्ति को प्रकृति से जोड़ने वाला तत्व धर्म है। उन्होंने कहा कि संघ का काम भारत को विश्वगुरु बनाना है। साथ ही उन्होंने कहा किपर्यावरण का संकट दरवाजा खटखटा रहा है. जीवन मोक्ष और जनहित के लिए जीना है। इस तरुण पीढ़ी को संघ का काम अब और आगे ले जाना है।

Read More:एशिया कप 2022 में यह बल्लेबाज कर सकता है ओपनिंग, पाकिस्तान के इस पूर्व स्पिनर ने कही यह बड़ी बात

 

#HarGharTiranga