भाजपा पश्चिम बंगाल के 10 करोड़ लोगों को अपमानित कर रही : अभिषेक बनर्जी |

भाजपा पश्चिम बंगाल के 10 करोड़ लोगों को अपमानित कर रही : अभिषेक बनर्जी

भाजपा पश्चिम बंगाल के 10 करोड़ लोगों को अपमानित कर रही : अभिषेक बनर्जी

:   Modified Date:  May 9, 2024 / 09:06 PM IST, Published Date : May 9, 2024/9:06 pm IST

कोलकाता, नौ मई (भाषा) पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी ने बृहस्पतिवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर राज्य और यहां के लोगों की छवि को धूमिल करने की साजिश रचने का आरोप लगाया।

उन्होंने पश्चिम बंगाल के 10 करोड़ लोगों को अपमानित करने के लिए भाजपा की निंदा की।

बीरभूम लोकसभा सीट पर तृणमूल उम्मीदवार शताब्दी रॉय के समर्थन में एक ऑनलाइन सभा को संबोधित करते हुए अभिषेक बनर्जी ने संदेशखालि वीडियो क्लिप का उल्लेख किए बिना कहा कि पिछले सप्ताह की घटनाओं ने राज्य और उसके लोगों को शर्मिंदा और अपमानित करने की साजिश रचने वालों के असली इरादों का खुलासा कर दिया है।

अभिषेक बनर्जी ने भाजपा के कार्यों की आलोचना करते हुए इस बात पर प्रकाश डाला कि कैसे उन्होंने तीन महीने तक संदेशखालि के बारे में झूठा विमर्श पेश किया। उन्होंने आरोप लगाया कि तृणमूल नेताओं के खिलाफ झूठे आरोप लगाने के लिए ग्रामीणों को पैसे की पेशकश की और राज्य के लोगों को अपमानित किया गया।

तृणमूल नेता ने कहा कि पश्चिम बंगाल की जनता मतदान से इसका जवाब देगी।

उन्होंने कहा, ‘‘ कृपया भाजपा का असली रंग देखें। तीन महीने तक, उन्होंने संदेशखालि पर झूठी कहानी गढ़कर राज्य के लोगों को अपमानित किया, हमारी पार्टी और क्षेत्र के नेताओं के खिलाफ झूठे आरोप लगाने के लिए एक ग्रामीण महिला को 2,000 रुपये की पेशकश करके बंगाल की माताओं और बहनों को अपमानित किया।’’

वह उस वीडियो क्लिप का जिक्र कर रहे थे जिसमें एक भाजपा नेता ने कथित तौर पर दावा किया था कि संदेशखालि में महिलाओं को स्थानीय तृणमूल नेताओं के खिलाफ बलात्कार के आरोप लगाने के लिए भुगतान किया गया था।

भाजपा नेता शुभेंदु अधिकारी ने इससे पहले अभिषेक बनर्जी पर दक्षिण 24 परगना जिले में नदी तट क्षेत्र की महिलाओं के खिलाफ अत्याचार की सैकड़ों वास्तविक शिकायतों से ध्यान भटकाने के लिए झूठा वीडियो बनाने का आरोप लगाया था।

उन्होंने भाजपा पर गत तीन साल से मनरेगा के पैसे का भुगतान नहीं करने का आरोप लगाते हुए कहा कि ‘‘यह भाजपा की बंगाल विरोधी रुख को दर्शाता है।’’

अभिषेक बनर्जी ने दावा किया कि दलितों और अन्य पिछड़े समुदायों पर अत्याचार के सबसे अधिक मामले भाजपा शासित उत्तर प्रदेश में हुए। उन्होंने कहा, ‘‘उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ यहां चुनाव प्रचार के लिए आए थे। मैं उनसे उनके राज्य में दलितों और अन्य निम्न जातियों और अल्पसंख्यकों पर हो रहे अत्याचार के बारे में पूछना चाहता हूं।’’

भाजपा के शासन और उसके कथित विभाजनकारी एजेंडे के खिलाफ तृणमूल की लड़ाई को रेखांकित करते हुए अभिषेक बनर्जी ने गैर-मोदी मतदाताओं से तृणमूल का समर्थन करने का आह्वान किया और दावा किया कि वे बंगाल में भाजपा के कुशासन का विरोध करने वाली एकमात्र पार्टी है।

पूर्व बर्धमान जिले के कालना में आयोजित दूसरी ऑनलाइल रैली को संबोधित करते हुए अभिषेक बनर्जी ने भाजपा की आलोचना की। उन्होंने कहा कि बिलकीस बानो सामूहिक दुष्कर्म, उन्नाव और हाथरस जैसे मामलों में उनके ‘ट्रैक रिकॉर्ड’ को देखते हुए, महिलाओं की सुरक्षा, सुरक्षा और सम्मान पर चर्चा करने की उनकी कोई विश्वसनीयता नहीं है।

उन्होंने पश्चिम बंगाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी पर कई मौकों पर अपने भाषणों के दौरान मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सहित महिलाओं के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने का आरोप लगाया।

तृणमूल महासचिव ने भाजपा पर राज्य सरकार की महिला सशक्तिकरण सामाजिक कल्याण परियोजना, लक्ष्मीर भंडार को बाधित करने की साजिश रचने का भी आरोप लगाया, और कहा कि प्रधानमंत्री भी इसे नहीं रोक पाएंगे।

इसके अलावा, अभिषेक बनर्जी ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री, केंद्रीय गृह मंत्री और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सहित भाजपा नेताओं को पता था था कि संदेशखालि की साजिश अधिकारी जैसे राज्य के उसके नेताओं ने रची।

भाषा धीरज माधव

माधव

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers