जब आईपीएस बेटा कांस्टेबल पिता के थाने में ही हुआ पदस्थ, गर्व से पिता ने किया सैल्यूट | Father Saluting IPS son As Boss:

जब आईपीएस बेटा कांस्टेबल पिता के थाने में ही हुआ पदस्थ, गर्व से पिता ने किया सैल्यूट

जब आईपीएस बेटा कांस्टेबल पिता के थाने में ही हुआ पदस्थ, गर्व से पिता ने किया सैल्यूट

: , March 9, 2021 / 09:31 PM IST

लखनऊ। पिता और पुत्र के बीच का रिश्ता बहुत ही खास होता है। और ये रिश्ता और भी खास तब हो जाता है जब एक बेटा अपने पिता के सारे सपने पूरे कर उनके सामने खड़ा हो जाता है। इसे एक पिता की मेहनत का ही परिणाम कहेंगे  कि आज उनका बेटा उन्ही के ऑफिस में उनका अधिकारी बनकर खड़ा हो गया है। जी हां ऐसा ही कुछ होने जा रहा है उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में, जहां एक कांस्टेबल पिता अपने आईपीएस बेटे को गर्व से सैल्यूट करेंगे।  

ये भी पढ़ें –दिल्ली की हवा में घुलने लगा जहर, केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने दी चेतावनी

दरअसल यह कहानी है आईपीएस अनूप कुमार सिंह की   जिनका ट्रांसफर  उन्नाव से  लखनऊ हुआ है  और उन्हें वः क्षेत्र मिला है जहां उनके पिता जनार्दन सिंह कांस्टेबल के पद पर तैनात हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कांस्टेबल जनार्दन सिंह गर्व से कहते हैं, मैं ऑन ड्यूटी अपने कप्तान को सैल्यूट करूंगा. वहीं बेटे अनूप सिंह ने कहा, फर्ज निभाने के लिए मैं प्रोटोकॉल का पालन करूंगा. अनूप सिंह ने बताया, उन्होंने अपने पिता से फर्ज और संस्कार सीखे है। 

ये भी पढ़ें –इंडोनेशिया में टेक ऑफ के 13 मिनट बाद क्रैश हुआ विमान ,188 यात्री थे सवार

बता दें कि लखनऊ आने से पहले वो गाजियाबाद, नोएडा और उन्नाव में एएसपी रह चुके हैं. उन्होंने इलाहाबाद यूनिवर्सिटी से गेजुएशन किया था और उसके बाद उन्होंने जेएनयू में पढ़ाई की साथ ही अनूप ने सिविल सर्विसेज की तैयारी की और पहली बार में ही उन्होंने यूपीएससी सिविल सर्विसेज की परीक्षा पास की. उसके बाद वे आईपीएस बन गए। .जनार्दन सिंह मूल रूप से बस्ती के नगर थाना क्षेत्र के पिपरा गौतम गांव के रहने वाले हैं. नौकरी के सिलसिले में अलग-अलग जिलों में रहे. बेटे की प्रारंभिक शिक्षा बाराबंकी से हुई है। 

 

 

 

वेब डेस्क IBC24

 

#HarGharTiranga