Gujarat assembly election 2022 First phase voting ends on 89 seats

Gujarat assembly election 2022: गुजरात के 19 जिलों की 89 सीटों पर फर्स्ट फेज की वोटिंग खत्‍म, जानें कहां पर कितने प्रत‍िशत हुआ मतदान

Gujarat assembly election 2022: गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण में सौराष्ट्र-कच्छ और दक्षिणी क्षेत्रों के 19 जिलों की 89 सीट के लिए ...

Edited By: , December 1, 2022 / 06:52 PM IST

अहमदाबाद। Gujarat assembly election 2022: गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण में सौराष्ट्र-कच्छ और दक्षिणी क्षेत्रों के 19 जिलों की 89 सीट के लिए मतदान बृहस्पतिवार शाम पांच बजे खत्म हो गया। निर्वाचन आयोग ने कहा कि मतदान के अंतिम आंकड़ों का इंतजार किया जा रहा है और शाम 5 बजे तक 56.88 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया था। कुछ छिटपुट घटनाओं और इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में गड़बड़ी की कुछ शिकायतों को छोड़कर सुबह आठ बजे शुरू हुई मतदान प्रक्रिया कमोबेश शांतिपूर्ण रही।

गुजरात के सौराष्ट्र-कच्छ और दक्षिणी क्षेत्रों के 19 जिलों की 89 सीट के लिए मतदान गुरुवार शाम पांच बजे तक खत्म हो गया। चुनाव आयोग ने कहा कि मतदान के अंतिम आंकड़ों का इंतजार किया जा रहा है और दोपहर तीन बजे तक 48.48 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया था। हालांक‍ि मतदाता टर्नआउट ऐप के अनुसार, शाम पांच बजे तक 56.88 प्रत‍िशत मतदान हुआ।

read more;वाहन कंपनियों के लिए अच्छा रहा नवंबर, बिक्री में आया उछाल

नकली पीठासीन अध‍िकारी पकड़ा

Gujarat First phase voting : राजकोट जिले में, वरिष्ठ चुनाव अधिकारियों ने धोराजी शहर के एक बूथ से एक नकली पीठासीन अधिकारी को पकड़ा, जहां एक महिला पीठासीन अधिकारी के बजाय उनके पति ड्यूटी पर आए थे। आप नेता गोपाल इटालिया ने आरोप लगाया कि उनके कटारगाम निर्वाचन क्षेत्र में मतदान प्रक्रिया धीमी चल रही है, हालांकि मतदान केंद्रों के बाहर मतदाताओं की लंबी कतारें रहीं।

Read More: ‘500 रुपए दे दो और लड़की ले जाओं’…, पुलिस को ही ग्राहक समझ बैठे दलाल, 4 लोग आपत्तिजनक हालत में गिरफ्तार 

सबसे ज्‍यादा  तापी में 72 प्रत‍िशत वोटिंग

सबसे ज्‍यादा मतदान तापी में 72 प्रत‍िशत दर्ज हुआ। वहीं सबसे कम वोटिंग भावनगर में 51.34 प्रत‍िशत हुआ। विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए पांच दिसंबर को मतदान होगा और मतगणना आठ दिसंबर को होगी। राज्य उपाध्यक्ष बिमल शाह के नेतृत्व में कांग्रेस पार्टी के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय में एक अप्‍लीकेशन दिया कि कैसे राज्य मशीनरी का दुरुपयोग किया जा रहा है, आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया जा रहा है और मतपत्र मशीनें सुचारू रूप से काम नहीं कर रही हैं।