छिटपुट हिंसा के बीच असम और बंगाल में पड़े भारी वोट, CM ममता ने बीजेपी पर लगाया आरोप

छिटपुट हिंसा के बीच असम और बंगाल में पड़े भारी वोट, CM ममता ने बीजेपी पर लगाया आरोप

: , April 2, 2021 / 03:48 AM IST

कोलकाता/गुवाहाटी, (भाषा) पश्चिम बंगाल एवं असम में विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में बृहस्पतिवार को बड़ी संख्या में मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। पश्चिम बंगाल में मतदान के दौरान जहां छिटपुटट हिंसा हुयी वहीं असम में गोलीबारी की एक घटना को छोड़कर मतदान शांतिपूर्ण रहा ।

Read More News: रमन का ‘Tweet Attack’, फिर निशाने पर राहुल! क्या अंतहीन लड़ाई से प्रदेश की

अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को बताया कि पश्चिम बंगाल की 30 विधानसभा सीटों पर शाम पांच बजे तक 80.43 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था । असम में शाम छह बजे तक 77.21 प्रतिशत लोगों ने मतदान किया । असम में दूसरे चरण में 39 सीटों पर मतदान संपन्न हुआ ।

Read More News: सीएम भूपेश बघेल के नाम से जाना जाएगा ये तालाब, ग्रामीणों और अधिकारियों ने सर्वसम्मति से

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि नंदीग्राम विधानसभा क्षेत्र में तैनात केंद्रीय बलों ने देश के गृह मंत्री अमित शाह के निर्देश पर भगवा पार्टी की मदद की। नंदीग्राम विधानसभा सीट पर ममता बनर्जी का मुकाबला भाजपा के शुभेंदु अधिकारी से है जो एक समय मुख्यमंत्री के विश्वस्त थे ।

Read More News: शराब, मौत और सवाल! आखिर कब रुकेंगी जहरीली शराब से मौतें?

मतदान केंद्र पर कब्जा करने और पक्षपातपूर्ण व्यवहार के आरोप लगाये जाने के बाद चुनाव आयोग ने बोयल गांव की घटना पर रिपोर्ट तलब की है जहां भाजपा समर्थकों के घेराव के कारण तृणमूल कांग्रेस प्रमुख दो घंटे से अधिक समय तक रूकी रहीं।

अधिकारियों ने बताया कि शुभेंदु अधिकारी की कार पर दो स्थानों पर पथराव किया गया । उन्होंने बताया कि केशपुर विधानसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार तन्मय घोष के वाहन में कथित तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने तोड़फोड़ की।

Read More News: निबंध लिखकर बताना होगा आपने मास्क क्यों नहीं पहना, लोगों को सबक सिखाने पुलिस और प्रशासन की नई पहल

नंदीग्राम में हिंसा एवं मतदान में गड़बड़ी के आरोपों के बावजूद बनर्जी ने कहा कि वह अपनी जीत के प्रति आश्वस्त हैं । इसी स्थान पर करीब डेढ़ दशक पहले उन्होंने किसानों के पक्ष में प्रदेश की तत्कालीन वाम मोर्चा सरकार के खिलाफ आंदोलन किया था।

असम में अधिकारियों ने बताया कि कछार जिले के सोनाई सीट पर विधानसभा उपाध्यक्ष ए एच लस्कर के अंगरक्षकों द्वारा की गयी गोलीबारी में तीन लोग घायल हो गये । इससे पहले सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी एवं एआईयूडीएफ के समर्थकों के बीच झड़प हो गयी । एआईयूडीएफ कांग्रेस की अगुवाई वाले महागठंधन का घटक है ।

उन्होंने बताया कि इसके अलावा हिंसा की कोई अन्य घटना नहीं हुयी । प्रदेश में 39 सीटों पर मतदान संपन्न हुआ जहां से पांच मंत्रियों समेत कुल 345 उम्मीदवार मैदान में हैं ।असम और पश्चिम बंगाल में तीसरे चरण का चुनाव छह अप्रैल को होगा ।

Read More News: VIP रोड के कई कैफे में पुलिस ने दी दबिश, देर रात खुले थे कैफे, मौके से हुक्का