सर्वे में शामिल 18 प्रतिशत परिवारों में बीते 6 महीनों मे कोविड के फिर शिकार हुए लोग

सर्वे में शामिल 18 प्रतिशत परिवारों में बीते 6 महीनों मे कोविड के फिर शिकार हुए लोग

: , June 22, 2022 / 05:32 PM IST

नयी दिल्ली, 22 जून (भाषा) स्वास्थ्य क्षेत्र से जुड़े एक गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) का दावा है कि उसके द्वारा हाल में किए गए एक सर्वेक्षण में भाग लेने वाले लोगों की कुल संख्या में से 18 प्रतिशत नागरिकों के परिवार में एक या अधिक व्यक्ति बीते छह महीनों के दौरान फिर से कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं। एनजीओ द्वारा कोविड-19 संक्रमण के प्रसार को समझने के लिए यह सर्वेक्षण किया गया।

दिल्ली में बीते कुछ दिनों में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि देखने को मिली है। विशेषज्ञों ने हालांकि मंगलवार को कहा कि घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि अस्पताल में भर्ती होने वाले कोरोनो वायरस संक्रमित रोगियों की संख्या अब भी कम है। उन्होंने जोर दिया कि प्रत्येक व्यक्ति को सावधानी बरतनी चाहिए और सभी सुरक्षा मानदंडों का पालन करना चाहिए।

एनजीओ ‘लोकलसर्कल्स’ ने कहा कि अपने सर्वेक्षण में उसे भारत के कई जिलों के नागरिकों से 35,000 से अधिक प्रतिक्रियाएं मिलीं। उसके मुताबिक उत्तरदाताओं में 67 प्रतिशत पुरुष थे, जबकि 33 प्रतिशत महिलाएं थीं।

उसने बताया कि 42 प्रतिशत उत्तरदाता मेट्रो या टियर-1 जिलों से, 35 प्रतिशत टियर-2 से, जबकि 23 प्रतिशत टियर -3 और टियर-4 तथा ग्रामीण जिलों से थे।

एनजीओ ने कहा कि सर्वेक्षण में नागरिकों से पहला सवाल पूछा गया, ‘आपके परिवार में (स्वयं सहित) कितने व्यक्ति हैं जो पिछले 180 दिनों में दो बार कोविड-19 से संक्रमित हुए हैं?’ इस सवाल को 12,381 प्रतिक्रियाएं मिलीं।

इनमें से दो प्रतिशत ने कहा कि उनके परिवारों में “पांच या अधिक व्यक्ति” पिछले छह महीनों में कोविड से पुन: संक्रमित हो गए। जबकि उत्तरदाताओं में से आठ प्रतिशत ने कहा, उनके परिवारों में “दो-चार व्यक्ति” पिछले छह महीनों में कोविड से पुन: संक्रमित हो गए। वहीं, अन्य आठ प्रतिशत ने कहा, “एक व्यक्ति” इस अवधि में संक्रमित था।

एनजीओ ने एक बयान में दावा किया कि कुल मिलाकर, सर्वेक्षण किए गए लोगों में से 18 प्रतिशत नागरिकों के परिवारों में एक या एक से अधिक व्यक्ति ऐसे थे जो पिछले छह महीनों में फिर से संक्रमित हो गए थे।

बयान में कहा गया है कि एक अन्य सवाल के जवाब में, सर्वेक्षण में शामिल 45 प्रतिशत लोगों ने कहा कि वे “पहली बार संक्रमण के कुछ सप्ताह बाद” फिर से संक्रमित हो गए, जबकि 27 प्रतिशत के लिए छह महीने का अंतर था। इस सवाल को 11,604 प्रतिक्रियाएं मिलीं।

अध्ययन में नागरिकों से अंतिम प्रश्न पूछा गया, “आपके परिवार के व्यक्ति (स्वयं सहित) जो पिछले 180 दिनों में दो या तीन बार कोविड से संक्रमित हुए, उनके संक्रमण और संबंधित लक्षण कैसे थे”, औसतन 46 प्रतिशत ने जवाब दिया कि दूसरी बार उनका संक्रमण पहले वाले की तुलना में “अधिक गंभीर” था। इस सवाल को 11,106 प्रतिक्रियाएं मिलीं।

दिल्ली में सोमवार को एक दिन में संक्रमण के 1,060 नए मामले सामने आए थे जबकि छह मरीजों की मौत हुई थी, जो लगभग चार महीनों में सबसे अधिक थी, वहीं संक्रमण दर 10.09 प्रतिशत थी, जो 24 जनवरी के बाद सबसे अधिक है जब यह आंकड़ा 11.8 प्रतिशत था।

शहर में शुक्रवार को कोरोनावायरस संक्रमण के 1,797 मामले दर्ज किए गए थे, जो लगभग चार महीनों में सबसे अधिक थे, साथ ही एक मरीज की मृत्यु भी हुई थी, जबकि संक्रमण दर 8.18 प्रतिशत थी।

भाषा

प्रशांत माधव

माधव

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)