इस लापरवाही पर एक्शन में आए उप राज्यपाल, ​तीन अधिकारियों पर गिरी निलंबन की गाज

अभी हाल ही में विनय कुमार सक्सेना दिल्ली के उप राज्यपाल बने हैं, और पद पर आते ही ​तीन अधिकारियों को निलंबित कर दिया।

Edited By: , June 23, 2022 / 11:42 AM IST

Delhi govt on Corruption : दिल्ली सरकार ने भ्रष्टाचार के खिलाफ अधिकारियों को निलंबित करने का ओदश दिया है। अभी हाल ही में विनय कुमार सक्सेना दिल्ली के उप राज्यपाल बने हैं, और पद पर आते ही ​तीन अधिकारियों को निलंबित कर दिया। इन अधिकारियों पर आरोप है कि एक भ्रष्टाचार मामले के तय प्रक्रिया में भूल चूक की संभावना देखी गई है। निलंबित हुए अधिकारियों में एक डिप्टी सेक्रेटरी और दो एसडीएम अधिकारी शामिल हैं।>>*IBC24 News Channel के WhatsApp  ग्रुप से जुड़ने के लिए Click करें*<<

यह भी पढ़ें :  गुरुवार के दिन कर लिये ये 5 काम, तो नहीं होगी धन की कमी, बिना रुकावट चढ़ेंगे सफलता की सीढ़ियां

बता दें कि इससे पहले सांसद मनोज तिवारी की एक साल पुरानी अस्पताल बनाने में गड़बड़ी की शिकायत पर उप राज्यपाल ने ACB जांच का आदेश दिया था। हालांकि उप राज्यपाल के उस फैसले पर दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने विरोध दर्ज करवाया था। सिसोदिया ने कहा था कि अगर किसी जनसेवक के खिलाफ भ्रष्टाचार की शिकायत आती है तो जांच एजेंसी इस मामले में तब तक जांच शुरू नहीं कर सकती जब तक सरकार इसकी इजाजत न दे। इस मामले में निर्वाचित सरकार से इजाजत नहीं ली गई।

यह भी पढ़ें : क्यों नहीं मिला राज्यपाल अनुसुइया उइके को राष्ट्रपति उम्मीदवार बनने का मौका? सीएम भूपेश ने बताई ये वजह

दिल्‍ली के डिप्‍टी सीएम ने मंगलवार को एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में यह भी कहा कि भ्रष्टाचार विरोधक कानून के मुताबिक, ऐसी किसी भी शिकायत पर 4 महीने के भीतर फैसला करना होता है जबकि इस मामले में शिकायत किए हुए करीब एक साल का समय हो चुका है। बावजुद इसके किसी तरह की कार्रवाई नहीं की गई थी।