राजीव की याद में मोदी सरकार मनाएगी आतंकवाद विरोधी दिवस, सरदार पटेल, सुभाष चंद्र बोस की तरह ‘राजीव’ को भी कांग्रेस से छिनने की तैयारी तो नहीं?

Modi government will celebrate Anti-Terrorism Day in memory of Rajiv : केंद्र सरकार ने राजीव गांधी के पुण्यतिथि के दिन आतंक विरोधी दिवस मनाने का ऐलान किया।

Edited By: , May 14, 2022 / 07:44 PM IST

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने राजीव गांधी के पुण्यतिथि के दिन आतंक विरोधी दिवस मनाने का ऐलान किया। इसके लिए गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों को पत्र लिखा है। एक तरफ सरकार के इस फैसले की खूब चर्चा हो रही है तो वहीं दूसरी ओर इसके कई राजनैतिक मायने निकाले जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें:  CGBSE Board Result 2022 Live: 10वीं की टॉप 5 में 4 बेटियों ने मारी बाजी, देखें टॉपर्स की सूची

राजीव गांधी की मृत्यु 21 मई साल 1991 में हुई थी। एक महिला अपने शरीर पर विस्फोटक लगाकर आई, वह राजीव गांधी के पैर छूने के लिए जैसे ही झुकी तेज धमाका हुआ और राजीव गांधी समेत 25 लोगों की मौत हो गई। ऐसा माना जाता है कि उनकी मौत का ताल्लुक कहीं ना कहीं आतंकी संगठन से भी था।

यह भी पढ़ें: cgbse result 2022: 10वीं में दो छात्राओं ने मारी बाजी, 12वीं में कुंती साव ने किया टॉप, यहां चेक करें टॉपर की लिस्ट

ऐसे में कांग्रेस को हर बात में कोसने वाली भारतीय जनता पार्टी कैसे राजीव गांधी के पुण्यतिथि के दिन आतंक विरोधी दिवस मनाने की घोषणा कर सकती है? कहीं बीजेपी सरदार पटेल, नेताजी सुभाष चंद्र बोस और महात्मा गांधी की तरह राजीव गांधी को भी अप्रत्यक्ष रुप से वोट बैंक के लिए अपना तो नहीं रही। खैर ये राजनीति है यहां कुर्सी के लिए कुछ भी किया जा सकता है।