New Labour Low: Only 4 Day work in Week From July Modi Govt Will apply

1 जुलाई से हफ्ते में सिर्फ 4 दिन करना होगा काम, 50 प्रतिशत घट जाएगी टेक होम सैलरी! मोदी सरकार लागू कर सकती है नया श्रम कानून

1 जुलाई से हफ्ते में सिर्फ 4 दिन करना होगा काम! New Labour Low: Only 4 Day work in Week From July! Modi Govt Will apply

Edited By: , June 29, 2022 / 12:17 PM IST

New Labour Laws 2022: केंद्र सरकार 1 जुलाई से कई नियमो में बदलाव करने वाली है, जिसमें एक लेबर कानून भी है। दरअसल मोदी सरकार लंबे समय से देश में नया श्रम कानून लागू करने के लिए प्रयासरत है, लेकिन अब तक ये कानून लागू नहीं हो पाया है। वहीं, अब ऐसा माना जा रहा है कि मोदी सरकार 1 जुलाई से नया श्रम कानून लागू कर सकती है। ऐसे में अगर आप किसी कंपनी में कर्मचारी हैं तो आपका जानना जरूरी है कि New labour law लागू होता है तो आप पर क्या असर पड़ेगा?>>*IBC24 News Channel के WhatsApp  ग्रुप से जुड़ने के लिए Click करें*<<

Read More: India vs Ireland 2nd T20 Match : रोमांचक मुकाबले में टीम इंडिया में 4 रनों से जीत, सीरीज पर 0-2 से जमाया कब्जा

नए श्रम कानून के लागू होने के बाद कर्मचारियों की टेक होम सैलरी भी घट जाएगी। हालांकि पीएफ में योगदान बढ़ जाएगा। नई श्रम संहिता में भत्तों को 50 फीसदी तक ही सीमित रखा गया है। इससे कर्मचारियों के कुल वेतन का 50 फीसदी मूल वेतन हो जाएगा। मतलब, बेसिक पे और पीएफ के कैलकुलेशन में बदलाव आएंगे।

Read More: आज मनेन्द्रगढ़ विधानसभा के दौरे पर रहेंगे सीएम भूपेश बघेल, इन गांवों में करेंगे आम जनता से भेंट-मुलाकात

अगर नया श्रम कानून लागू हुआ तो अगले वित्त वर्ष से कर्मचारियों को हफ्ते में पांच के बजाए चार दिन ही काम करना पड़ेगा। हालांकि इसके बदले में उन्हें प्रतिदिन 12 घंटे काम करना पड़ेगा। श्रम मंत्रालय ने यह स्पष्ट किया है कि नए कानून लागू होने के बाद हफ्ते में 48 घंटे के काम का प्रावधान जारी रहेगा।

Read More: रिटायर्ड कर्मचारियों को मिलेगी राहत, पेंशन संबंधी समस्याओं को निपटाने 1 जुलाई को लगेगा पेंशन शिविर

अगर नया श्रम कानून लागू कर दिया जाता है तो नया वेतन कोड कर्मचारियों को आगे ले जाने पर 300 छुट्टियों तक नकद करने की अनुमति देगा। खासतौर पर लीव एलिजिबिलिटी को एक वर्ष में काम के 240 दिनों से घटाकर 180 दिन कर दिया गया है। कुल मिलाकर नया वेतन कोड कई तरह से प्रभावित करेगा।

Read More: ‘चामड़ माता को खुश करना है’.. तांत्रिक ने ढ़ाई साल के बच्चे की दी बलि, फिर शव को नदी में फेंका 

 

#HarGharTiranga