स्वाति मालीवाल से मारपीट का मामला: ‘आप’ ने भाजपा पर केजरीवाल को फंसाने की साजिश का आरोप लगाया |

स्वाति मालीवाल से मारपीट का मामला: ‘आप’ ने भाजपा पर केजरीवाल को फंसाने की साजिश का आरोप लगाया

स्वाति मालीवाल से मारपीट का मामला: ‘आप’ ने भाजपा पर केजरीवाल को फंसाने की साजिश का आरोप लगाया

:   Modified Date:  May 17, 2024 / 11:05 PM IST, Published Date : May 17, 2024/11:05 pm IST

(तस्वीर के साथ)

नयी दिल्ली, 17 मई (भाषा) आम आदमी पार्टी (आप) ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि स्वाति मालीवाल से मारपीट का मामला दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को फंसाने की भाजपा की साजिश है और वह (मालीवाल) इसका “चेहरा” हैं।

पार्टी ने केजरीवाल के निजी सहायक के खिलाफ राज्यसभा सदस्य मालीवाल द्वारा लगाए गए आरोपों को “निराधार” बताया।

‘आप’ की यह टिप्पणी दिल्ली पुलिस द्वारा मुख्यमंत्री के आधिकारिक आवास पर 13 मई को मालीवाल के साथ कथित तौर पर मारपीट करने के मामले में केजरीवाल के निजी सहायक बिभव कुमार के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने के एक दिन बाद आई है।

मालीवाल ने उनके मामले को “निराधार” बताने के लिए ‘आप’ पर पलटवार किया और पार्टी पर “उनके चरित्र पर सवाल उठाने” का आरोप लगाया।

उन्होंने ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा, “पार्टी में कल के आए नेताओं ने 20 साल पुरानी कार्यकर्ता को भाजपा का एजेंट बता दिया। दो दिन पहले पार्टी ने संवाददाता सम्मेलन में सब सच स्वीकार किया था और आज यू-टर्न।”

‘आप’ की वरिष्ठ नेता आतिशी ने संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया कि मालीवाल पहले से मुलाकात का समय लिए बिना मुख्यमंत्री आवास पहुंची थीं और उनका इरादा केजरीवाल के खिलाफ आरोप लगाने का था।

आतिशी ने कहा, “आज एक वीडियो सामने आया है, जिसने मालीवाल के झूठ की पोल खोल दी है। अपनी प्राथमिकी में उन्होंने कहा है कि उनके साथ बेरहमी से मारपीट की गई और वह दर्द में थीं और उनकी शर्ट के बटन तोड़ दिए गए। सामने आया एक वीडियो बिल्कुल अलग हकीकत बयां करता है।”

प्राथमिकी के मुताबिक, कथित तौर पर कुमार ने मालीवाल को “लात मारीं और सात से आठ बार थप्पड़ मारे”। प्राथमिकी में यह भी कहा गया है कि मालीवाल द्वारा रुकने को कहे जाने के बावजूद कुमार नहीं माने।

मालीवाल ने यह भी दावा किया है कि कुमार ने उन्हें “पूरी ताकत से बार-बार” मारा लेकिन कोई भी उनके बचाव में नहीं आया।

आतिशी ने कहा कि वीडियो में मालीवाल “आराम से ड्राइंग रूम में बैठी हुई हैं” और “सुरक्षा कर्मचारियों को धमकाते हुए” दिख रही हैं और “उनके कपड़े नहीं फटे थे”।

उन्होंने दावा किया, “वीडियो में वह कुमार को धमकी देती दिख रही हैं। मालीवाल द्वारा लगाए गए आरोप निराधार हैं। मालीवाल ने केजरीवाल से मिलने की जिद की। वह राज्यसभा सदस्य हैं और उन्हें पता होना चाहिए कि मुख्यमंत्री का व्यस्त कार्यक्रम होता है। कुमार ने उन्हें बताया कि मुख्यमंत्री व्यस्त हैं और उनसे मिलने में असमर्थ हैं। वह उन पर चिल्लाईं, उन्हें (कुमार को) धक्का दिया और मुख्यमंत्री निवास के आवासीय हिस्से में घुसने की कोशिश की।”

उन्होंने आरोप लगाया, “पूरी घटना साबित करती है कि यह भाजपा की साजिश थी और केजरीवाल को फंसाने के लिए स्वाति मालीवाल को इसका चेहरा बनाया गया है। वह उस समय मौजूद नहीं थे और बच गए। लेकिन उन्होंने बिभव कुमार पर आरोप लगाया”।

आतिशी ने कहा कि कुमार ने भी मालीवाल के खिलाफ पुलिस में शिकायत दी है। उन्होंने कहा, “बिभव कुमार ने स्वाति मालीवाल के खिलाफ दिल्ली पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है और उन्होंने 13 मई को हुई पूरी घटना के बारे में बताया है।”

आतिशी ने दावा किया कि 13 मई को मुख्यमंत्री आवास के गेट पर मालीवाल ने कहा था कि उनके पास मिलने का समय है लेकिन जब इसकी पड़ताल की गयी तो पता चला कि उनके पास मुलाकात के लिये समय नहीं था।

उन्होंने कहा, “उन्होंने उन्हें (सुरक्षा कर्मचारियों को) धमकाया, उनसे लड़ाई की और अंदर घुस गयीं। सुरक्षाकर्मी उन्हें प्रतीक्षा कक्ष में ले गए और उनसे कई बार वहां से चले जाने का अनुरोध किया क्योंकि उनके पास केजरीवाल से मिलने का समय नहीं था।”

‘आप’ नेता ने पूछा कि मालीवाल के सुबह-सुबह बिना पूर्व समय लिए मुख्यमंत्री आवास में जबरन घुसने के पीछे क्या कारण था।

उन्होंने कहा, “प्रतीक्षा कक्ष से वह मुख्य भवन में दाखिल हुईं और ड्राइंग रूम में बैठ गईं। बाद में कर्मचारियों ने बिभव कुमार को बुलाया। दस से 15 मिनट में वह आ गए। उन्होंने उन्हें बताया कि मुख्यमंत्री उस दिन उपलब्ध नहीं हैं और उनसे मुलाकात नहीं हो सकी। मालीवाल उनसे जोर-जोर से बहस करने लगीं और ड्राइंग रूम से घर के भीतरी हिस्सों में जाने की कोशिश करने लगीं। बिभव ने उन्हें घर में घुसने नहीं दिया और मालीवाल को बाहर ले जाने के लिए सुरक्षा कर्मचारियों को बुलाया।”

आतिशी ने दावा किया कि इसके बाद मालीवाल पुलिस के पास गयीं और उनसे चिकित्सा जांच कराने के लिए कहा गया, लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया।

उन्होंने कहा, “इसके तीन दिन बाद भाजपा फिर से एक नए झूठ के साथ मालीवाल को सामने ले आई। लेकिन आज के वीडियो ने सब कुछ स्पष्ट कर दिया है।”

मंगलवार को ‘आप’ के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने कहा था कि मालीवाल के साथ हुई घटना “अत्यधिक निंदनीय” थी और दावा किया था कि कुमार ने उनके साथ “दुर्व्यवहार” किया था।

जब आतिशी से पूछा गया कि सिंह ने मालीवाल के साथ दुर्व्यवहार की बात स्वीकार की है, तो आतिशी ने कहा, “आप सांसद संजय सिंह ने मालीवाल से मुलाकात की थी और उनके पास केवल उनका पक्ष था। लेकिन अब इस वीडियो ने सच्चाई सामने ला दी है।”

भाषा प्रशांत देवेंद्र

देवेंद्र

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers