adipurush controversy Case registered against Saif Ali Khan in Jaunpur UP

Adipurush controversy: सैफ अली खान के खिलाफ धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप, यहां पर दर्ज किया गया केस

Adipurush controversy: 'आदिपुरुष' फिल्म को लेकर विवाद थमने नहीं थम रहा है। इसे लेकर पूरे देशभर में लोग गुस्से में है। लोग फिल्म का विरोध...

Edited By: , December 3, 2022 / 08:45 PM IST

Adipurush controversy: ‘आदिपुरुष’ फिल्म को लेकर विवाद थमने नहीं थम रहा है। इसे लेकर पूरे देशभर में लोग गुस्से में है। लोग फिल्म का विरोध कर रहे हैं। इसी क्रम में यूपी के जौनपुर जिले में न्यायिक मजिस्ट्रेट आशुतोष सिंह ने अधिवक्ता हिमांशु श्रीवास्तव की शिकायत पर फिल्म ‘आदिपुरुष’ के निर्माता ओम राउत, प्रभास, सैफ अली खान समेत कुल पांच लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज की है। ‘आदिपुरुष’ को इसके वीएफएक्स और किरदारों के लुक को लेकर ट्रोल किया जा रहा है।

सोशल मीडिया पर यूजर्स ‘रावण’ के लुक का खासकर मजाक उड़ा रहे हैं। कई लोगों का कहना यह भी है कि फिल्म में जिस तरह से वीएफएक्स दिखाया जाने वाला है, वह खराब नजर आएगा। हालांकि, फिल्म के निर्देशक ओम राउत ने सफाई पेश करते हुए कहा कि यह फिल्म बड़े पर्दे पर जबतक आप नहीं देखेंगे, आपकी सोच नहीं बदलेगी। ‘आदिपुरुष’ का जो टीजर 2 अक्टबूर को रिलीज हुआ था, उसमें भगवान राम के किरदार में प्रभास, रावण के रोल में सैफ अली खान और माता सीता की भूमिका में कृति सेनन की झलक दिखाई गई है।

Read More : Jabalpur Church Scam Case : बिशप पीसी सिंह को लेकर बड़ा खुलासा, इस समाज के 20 लोगों को कराया था धर्मांतरण 

जौनपुर जिले में कोर्ट ने शिकायत के बयान के लिए 27 अक्टूबर तारीख मुकर्रर की है। कहा जा रहा है कि फिल्म के ट्रेलर में भगवान राम, सीता, हनुमान जी और रावण का अशोभनीय चित्रण किया गया है। धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाई गई है।

Read More : UIDAI UPDATE: आधार कार्ड हो गया है 10 साल पुराना? तो…तुरंत करा लें ये काम, वरना हो सकता है भारी नुकसान 

अरुण गोविल ने दिया था ये बयान

‘आदिपुरुष’ के टीजर पर रामानंद सागर के किरदारों ने भी आपत्ति जताई है। ‘रामायण’ फेम अरुण गोविल ने अपने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो शेयर करते हुए कहा, ‘बहुत वक्त से मेरे दिमाग में बहुत सी बातें चल रही थीं, जिन्हें आपसे शेयर करने का समय आ गया है। रामायण और महाभारत जैसे जितने भी ग्रंथ और शास्त्र हैं, ये हमारी सांस्कृतिक और धार्मिक धरोहर है। ये हमारी संस्कृति है, जड़ है। सारी मानव सभ्यता के लिये एक नींव सामान है। ना ही नींव को हिलाया जा सकता है और ना ही जड़ को बदला जा सकता है। नींव या जड़ के साथ किसी तरह का खिलवाड़ या छेड़छाड़ ठीक नहीं है। हमें शास्त्रों से संस्कार मिलते हैं, जीने का आधार मिलता है। ये धरोधर ही हमें जीने की कला सिखाती है। हमारी संस्कृति विश्व की सबसे प्राचीन संस्कृति है।’

Read More : Bhojpuri actress Shilpi Raghavani: बेहद कम समय में बनाई पहचान, भोजपुरी इंडस्ट्री की जान है ये एक्ट्रेस, देखें खूबसूरत तस्वीरें