UP में BJP ने कर दिया खेल, अखिलेश 2024 में होंगे फेल

UP में BJP ने कर दिया खेल अखिलेश 2024 में होंगे फेल

Written By: , April 1, 2022 / 09:09 PM IST

आज हम बात करेंगे यूपी में भतीजे की बेवफाई के बाद चाचा की चतुराई के बारे में…जी हां यूपी में चुनाव तो खत्म हो गए हैं पर नेताओं के बीच का घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है…अपने चाचा शिवपाल को ही ठगने और धोखा देने वाले अखिलेश यादव को अब उनके चाचा यह बताने वाले हैं कि वे भी रिश्ते में उनके चचा लगते हैं…चर्चा चल रही है कि शिवपाल यादव अखिलेश को सबक सिखाने के लिए बैचेन हैं और वे इसके लिए भारतीय जनता पार्टी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ बातचीत कर रहे हैं। बीजेपी शिवपाल यादव को राज्यसभा में भेजने की तैयारी कर रही है…

Read More: यूक्रेन रेस्क्यू में उतारा ग्लोबमास्टर; क्या है UP चुनाव से कनेक्शन ?

यूपी में कल तक समाजवादी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी के बीच घमासान मचा हुआ था…चुनाव खत्म हो गए हैं और अखिलेश की सत्ता के लिए परिवार की उपेक्षा समेत तमाम कोशिशें बेकार हो गई हैं…आखिर योगी वापस आ गए हैं और अखिलेश को मुश्किल में डाल दिया… समाजवादियों के खाते में विपक्ष का नेता बनना ही बच गया था…अब अखिलेश की मश्किल यह थी कि यदि चाचा शिवपाल को इज्जत देंगे तो नेता प्रतिपक्ष का पद भी देना पड़ सकता है….और यदि चाचा नेता प्रतिपक्ष बन गए तो अखिलेश से ज्यादा पॉवरफुल हो जाएंगे….और यदि चाचा पॉवरफुल हो गए तो धीरे धीरे पार्टी पर पकड़ भी मजबूत कर लेंगे…यदि पार्टी पर पकड़ मजबूत हुई तो अगली बार सीएम के लिए दावा भी ठोंक सकते हैं और ऐसा हु्आ तो अखिलेश के भविष्य के ताबूत पर कील भी ठोका जा सकता है…
जान बचाने के लिए अखिलेश ने चाचा से दूर रहना ही बेहतर समझा और पार्टी के विधायकों की बैठक में उनको बुलाया ही नहीं….इधर चुनाव में भतीजे की सीटें बढ़वाने वाले चाचा को उम्मीद थी कि भले ही उनकी नई पार्टी को भतीजे ने खत्म करवा दिया और उनके लोगों को टिकट नहीं दिया लेकिन अब उनकी पूछ परख बढ़ेगी…पर ये न होना था न हुआ…
भतीजे ने राजनीति और कुर्सी के लिए प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया (PSPL) के अध्यक्ष और अपने चाचा शिवपाल यादव (Shivpal Singh Yadav) को धोखा दे दिया, अपमान कर दिया…अब बारी शिवपाल की है और चर्चा है कि शिवपाल भारतीय जनता पार्टी के सहयोग से राज्यसभा में जाने की तैयारी कर रहे हैं…वे अपनी जगह बेटे को बीजेपी के सहयोग से विधायक का चुनाव लड़वा देंगे…..इस बात की भी जोर शोर से चर्चा है कि शिवपाल यादव भाजपा में शामिल होकर अपनी पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी का भाजपा में विलय कर देंगे….
शिवपाल यादव के उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) से मुलाकात के बाद से ही इस तरह की चर्चा होने लगी है….कहा जा रहा है कि शिवपाल ने दिल्ली में भी बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं के साथ चर्चा कर ली है और पार्टी उनको राज्यसभा में भेजकर अपने पाले में लाने को तैयार है…

Read More: प्रशांत किशोर का नया दांव; कांग्रेस के बिना बन रहा नया विपक्षी गठबंधन | The Sanjay Show

उत्तर प्रदेश में जुलाई में राज्यसभा की 11 सीटें खाली हो रही हैं और इनमें से 7 से 8 सीटों पर बीजेपी का जीतना तय है…
तो सवाल उठता है कि क्या शिवपाल यादव सच में बीजेपी में जाएंगे ? मीडिया के लोगों ने जब शिवपाल से इस बारे में पूछा तो उन्होंने स्पष्ट जवाब नहीं दिया बल्कि यह कहा कि “ये उचित समय नहीं है और जब उचित समय होगा तो हम आपको बुला लेंगे, सब बता देंगे।” जाहिर है वे खंडन नहीं कर रहे हैं यानी खिचड़ी पकने लगी है…पर राजनीति को देखें तो अभी ये नहीं लगता है….कि शिवपाल यादव बीजेपी में शामिल हो जाएंगे…ऐसा भी नहीं लगता कि बीजेपी अभी उनको शामिल कराने की कोशिश करेगी…हो सकता है कि शिवपाल की पार्टी गठबंधन के सदस्य के रूप में एनडीए में शामिल हो जाए और लोकसभा चुनावों के दौरान बीजेपी उनकी पार्टी को यादव बहुल सीटों पर चुनाव लड़वा दे…यही बीजेपी के लिए फायदेमंद होगा…इससे बीजेपी विरोधी वोट भी शिवपाल को मिल सकेंगे…इस तरह शिवपाल को भतीजे से बदला लेने का मौका भी मिलेगा और बीजेपी को यूपी में सीटों का फायदा हो सकता है….वैसे यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य (Keshav Prasad Maurya) ने साफ किया है कि अभी बीजेपी में कोई वैकेंसी नहीं हैं…..यानी मौर्य ने इशारा कर दिया है कि अभी शिवपाल नहीं आ रहे हैं…तो फिर शिवपाल दिल्ली दौड़ क्यों लगा रहे हैं ? जाहिर है बीजेपी उनको यही टॉस्क देगी राज्यसभा में जाओ और आगामी लोकसभा चुनाव में अखिलेश को चूना लगाओ…तो इंतजार करते हैं कि शिवपाल अपने भतीजे को कैसा और कितना चूना लगाएंगे

 

Read More: UP में BJP का डबल अटैक, बंदरबांट में भी आगे निकली | The Sanjay Show