Don't forget to make these 5 mistakes while choosing a life partner...

जीवन साथी चुनते समय भूलकर भी न करें ये 5 गलतियां, वरना जीवन भर पड़ेगा पछताना

Do not forget these 5 mistakes while choosing a life partner, otherwise you will regret it for the rest of your life

Edited By: , November 29, 2022 / 08:31 PM IST

Life Partner : किसी भी व्यक्ति के लिए जीवन का सबसे खास पल उसकी शादी ही होती हैं। शादी एक ऐसा पड़ाव हैं, जिसमें इंसान की एक गलती के वजह से उसे जीवन भर भी पछताना पड़ जाता हैं। एक अच्छे जीवन साथी की कामना हर कोई करता हैं लेकिन उनकी गलतियों के वजह से यह कामना पूरी नहीं हो पाती हैं। कहा जाता हैं कि “फिर पछताएं हो का, जब चिड़िया चूक गई खेत ” ऐसा इसलिए क्योंकि शादी तो आपने कर ली लेकिन उस शादी का क्या मतलब जिसमें आपका पार्टनर सही न हो। जितना मुश्किल शादी करना होता हैं उतना ही मुश्किल अच्छे लाइफ पार्टनर की तलाश करना होता हैं। इसके लिए हमें छोटी-छोटी बातों का ध्यान देना बहुत जरुरी होता हैं। लाइफ पार्टनर पसंद का हो तो ज़िंदगी का लंबा सफर भी छोटा महसूस होने लगता हैं लेकिन पार्टनर ठीक न हो, तो छोटी-छोटी बातें भी बहुत बड़ी लगने लगती हैं। इसलिए सही पार्टनर की तलाश के लिए इन सब बातों का ध्यान देना बहुत जरुरी हैं।

1. शादी करने के दबाव में आकर कोई फैसला न लेना

हमारा समाज एक ऐसा समाज हैं जिसमें शादी को लेकर हर किसी पर जोर दिया जाता हैं। उम्र हुई नहीं शादी को लेकर घर, रिश्तेदार, समाज ,दोस्त हर कोई शादी के लिए दबाव बनाता हैं लेकिन इन दबाव के वजह से आप कोई भी फैसला गलत न ले। अगर एक अच्छे पार्टनर की तलाश हैं तो सबसे पहले आपको इन दबाव को खत्म कर देना हैं। क्योंकि शादी से पहले किसी भी तरह से आपके सिर पर कोई दवाब नहीं बनने देना हैं, हो सकता हैं यही दबाव आपके फैसले पर हावी हो जायें और आप गलत जीवनसाथी का चुनाव कर लो।

अगर आपको लगता हैं कि आपको समय चाहिए तो लीजिये। लेकिन आप अपने मन को शांत रखकर ही कोई फैसला लें। अगर किसी में आपको वो सब नज़र आ रहा हैं जो आपको चाहिए तो आप सफल हुए लेकिन अगर कहीं भी आपको लग रहा है कि जो इंसान आपने पसंद किया है, उसके पीछे किसी तरह का दबाव है तो झटपट अपने फैसले पर फिर से विचार करना शुरू करें। कहते हैं ना दुर्घटना से देर भली, बस यही सोचकर आपको पार्टनर का चुनाव करना है।

read more: सरकारी कर्मचारियों को दिवाली का बड़ा तोहफा, इस राज्य की सरकार ने किया बोनस का ऐलान

2. सिर्फ लुक्स के पीछे न भागे

कई दफा हम किसी की सुंदरता देखकर उसे इतना पसंद कर लेते हैं कि उनसे शादी करने का भी सोच लेते हैं। यह जीवन की सबसे बड़ी गलती होती हैं। जरुरी नहीं कि जो जैसा दिखता हैं वो वैसा ही हो किसी के लुक्स को देखकर हम उसके व्यक्तित्व को नहीं जान सकते हैं। इसलिए लुक्स के अलावा हमें उसके कैरेक्टर को भी देखना चाहिए।

किसी भी इंसान के चुनाव करने से पहले हमने उसकी सुंदरता के साथ- साथ उसके कैरेक्टर पर भी ध्यान देना जरुरी हैं। अगर पार्टनर सुन्दर हैं लेकिन कैरेक्टरलेस हैं तो आप दोनों की शादी की पटरी पर ब्रेक भी लग सकती हैं। इसके साथ आपको यह भी देखना चाहिए कि उनके साथ आपका तालमेल जम रहा की नहीं और फैसला लें ताकि आपको पछतावा न हो।

3. घरवालों को खुशी देने के चक्कर में अपना फैसला न बता पाना

वो समय चला गया जब माँ अपने बेटे या बेटी के लिए पार्टनर ढूंढ लेती और शादी भी हो जाती। शादी के बाद दोनों का रिश्ता मजबूत होकर टिक भी जाता था, लेकिन अब वो समय बदल गया हैं। घरवालें को खुशी देने के वजह से आप अपनी पसंद को बताने से पीछे न हटे क्योंकि ज़िंदगी आपको बितानी हैं इसलिए पार्टनर का चुनाव आप भी करें।

अगर घरवालों के वजह से अगर आपको अच्छा पार्टनर भी मिल गया और आपका मन नहीं मिला तो “काला अक्षर भैंस बराबर” हो सकता हैं। इस शादी में जीवनभर दुःख करने से अच्छा हैं कि आप अपनी पसंद को बताने से पीछे न हटे और अपने पार्टनर में वो सब तलाश करें जो आपको चाहिए।

read more: कंपनियों को जिंसों के दाम में दबाव से निपटने के लिए तैयार रहना होगाः उद्योग

4. शादी करने में जल्दबाजी न करें

आजकल शादी करने से पहले थोड़ा-सा समय एक-दूसरे को जानने समझने के लिए लेना चाहिए। ऐसा नहीं हैं कि आप कुछ समय ट्रायल किये और जल्दबाजी में शादी कर लिए। अगर आप एक- दूसरे को जानने के लिए समय लेते हैं, तो इस समय में आप एक-दूसरे को अच्छे से जानें समझे। इसी दौरान आप अपने पार्टनर के आदतों को जान पाएंगे।

कई बार हम इन समय में इतनी जल्दबाजी करते हैं कि अपने पार्टनर की पसंद, नापसंद नहीं जान पाते और यही कमी आपके फैसले में बाधा बन जाती हैं। कई दफा हम यह भी सोचते हैं कि शादी के बाद एक दूसरे को समय के साथ समझ लेंगे, लेकिन यही सोच कई बार गलत भी साबित हो जाती है। बाद में पछताने से अच्छा हैं कि पहले ही थोड़ा समय लगाकर अपने पार्टनर को समझ लें और फैसला लें।

5. शादी के बाद आदतों को बदलने की सोच हैं “नुकसानदायक”

शादी से पहले ही पार्टनर की आदत जान लेना अच्छा हैं। हम कई बार ऐसा सोचते हैं कि इनकी ये आदत तो शादी के बाद भी बदली जा सकती हैं लेकिन ऐसा नहीं होता हैं यही वजह से कई दफा दोनों के रिश्तों में दरार भी आ जाती हैं।

ऐसा सोचना भी गलत नहीं है कि आपका पार्टनर उस आदत को नहीं बदलेगा, जो आपको पसंद नहीं, लेकिन आदत वाकई बदल जाएगी, ये बात भी पक्की नहीं है. इसलिए शादी से पहले ही उनकी आदतों को जानकर ही कोई फैसला लें ताकि आगे इस शादी से आपको पछतावा न हो।