If you want to save amidst rising prices of petrol and diesel

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के बीच करना चाहते हैं बचत तो अपनाएं ये 10 तरीके, हो जाएंगे मालामाल

save amidst rising prices of petrol and diesel : दिनों-दिन बढ़ रही महंगाई के बीच पेट्रोल और डीजल के दाम भी बढ़ रहे हैं और इस महंगाई के बीच

Edited By: , September 8, 2022 / 02:00 PM IST

नई दिल्ली : save amidst rising prices of petrol and diesel : दिनों-दिन बढ़ रही महंगाई के बीच पेट्रोल और डीजल के दाम भी बढ़ रहे हैं और इस महंगाई के बीच आम जनता को वाहन चलाना भी मुश्किलें हो रही है। अगर पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों से अगर आपका भी बजट बिगड़ रहा है तो हम आपको कुछ आसान तरीके बताने जा रहे हैं। इस तरीकों को गंभीरता से अपनाने से आपके पैसों की बचत जरूर होगी।

यह भी पढ़े : बाढ़ का कहर! देश की इकोनॉमी पर दिखा असर, गाने के जरिए बयां किया पीड़ितों ने दर्द, देखें वीडियो… 

ये 10 ट्रिक्स अपनाकर करें बचत

save amidst rising prices of petrol and diesel : 1. जब भी गाड़ी स्टार्ट करें और रेस लें तो एक्सलेरेटर पर धीरे-धीरे दबाव बढ़ाएं। इसी तरह जब गियर डालकर स्पीड ले रहे हैं, तो भी एक औसत स्पीड में आगे बढ़ें। अचानक तेजी से रेस लेने पर इंजन को फ्यूल ज्यादा इंजेक्ट होता है, जिसकी जरूरत नहीं और यह बेकार चला जाता है।

2. गाड़ी की स्पीड मेनटेन रखिए। शहरी क्षेत्र में 40 से 50 की स्पीड पर ही गाड़ी चलाएं। इससे ज्यादा की स्पीड माइलेज कम करेगी। वहीं, हाइवे पर अगर आप 70 से 90 की स्पीड मेनटेन रखते हैं, तो फ्यूल खर्च भी मेनटेन रहेगा।

यह भी पढ़े : रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को मंगोलिया के राष्ट्रपति से मिला ख़ास तोहफा, देखें तस्वीरें 

save amidst rising prices of petrol and diesel : 3. स्पीड को मेनटेन रखने से कई फायदे हैं। माइलेज बढ़ेगा। बार-बार गियर नहीं बदलना होगा। क्लच नहीं दबाना होगा और एक्सलेरेटर की रेस भी एवरेज रहेगी। इससे इन सारे इक्विपमेंट्स की लाइफ भी लंबी होगी।

4. यही नहीं, अगर स्पीड के मुताबिक गियर मेनटेन नहीं करते हैं, तो यह आपके माइलेज और मेनटेंनेंस दोनों पर असर डालेगा। गलत गियर में गाड़ी ड्राइव करने पर दस से पंद्रह प्रतिशत पेट्रोल या डीजल अधिक खर्च होता है।

यह भी पढ़े : बहन से फोन पर बात करने से किया मना, युवक ने भाई के सीने में किया चाकू से वार, हुई मौत

save amidst rising prices of petrol and diesel : 5. अगर आप शहरी क्षेत्र में हैं और रेड लाइट या फिर जाम का सामना कर रहे हैं, तो फिर जरूरत के मुताबिक गाड़ी को बंद करते रहें। अगर इन जगहों पर आपको 20 सेकेंड से अधिक रूकना पड़ रहा है, तो फायदा इसी में है कि इग्नीशन ऑफ कर दें।

6. सबसे जरूरी चीज, टायरों में हवा मेनटेन रखें। हर कंपनी गाड़ी के हिसाब से टायर की हवा का निर्धारण करती है। आप भी गाड़ी के डाक्युमेट्स में चेक करें और निर्धारित किए गए प्रेशर को जरूर मेनटेन करें। इससे टायर, गाड़ी और माइलेज तीनों की सेहत बरकरार रहेगी।

यह भी पढ़े : सोशल मीडिया पर लौटते ही सोफिया अंसारी ने लगाई आग, शेयर की बिना ब्रा के फोटो 

save amidst rising prices of petrol and diesel : 7. इसके अलावा, गाड़ी का समय-समय पर मेनटेनेंस कराते रहें। एयर फिल्टर, ऑयल बदलते रहें। अगर यह सही नहीं है, तो इंजन पर जोर पड़ता है और माइलेज बिगड़ जाता है। इसलिए यह जरूर ध्यान रखिए कि किसी भी वजह से इंजन की सेहत पर असर नहीं पड़े।

8. गाड़ी में पेट्रोल या डीजल फुल कराके रखना भी ठीक नहीं है। दरअसल, ज्यादा फ्यूल आपके कार पर भार बढ़ाता है। ऐसे में माइलेज पर असर जरूर पड़ता है। गाड़ी में जरूरत के मुताबिक ही पेट्रोल और डीजल भरवाएं। हां, लंबी दूरी तय करनी है तो फ्यूल पर्याप्त रखिए।

यह भी पढ़े : भूपेन हजारिका को दिल दे बैठीं थीं ये अभिनेत्री, सालों बाद हुआ खुलासा, नाम जानकर नहीं होगा यकीन 

save amidst rising prices of petrol and diesel : 9. यही नहीं, कुछ लोगों को गाड़ी में एसी यानी एयर कंडीशनर फुल करके चलाने का शौक होता है। ऐसा करना बुद्धिमानी नहीं है। संभव हो तो कार का केबिन ठंडा होने के बाद एसी बंद कर दें या कम दें। यह माइलेज बढ़ाने के लिए कारगर है।

10. कंपनियां गाड़ी को इस हिसाब से डिजाइन करती हैं कि वह सड़क पर चले तो हवा का बहाव उसके लिए बाधक नहीं होना चाहिए। मगर बहुत से लोग गाड़ी को सजाने-संवारने के लिए उस पर कुछ ऐसी चीजें लगा देते हैं, जो हवा के दबाव की वजह से स्पीड में बाधक होती है और तब रेस अधिक लेना पड़ता है, जिससे माइलेज पर असर पड़ता है।

और भी लेटेस्ट और बड़ी खबरों के लिए यहां पर क्लिक करें