Prem Shayari – प्रेम शायरी : सबसे सुन्दर प्रेम शायरी

Prem Shayari - प्रेम शायरी : सबसे सुन्दर प्रेम शायरी

Edited By: , July 24, 2021 / 12:15 PM IST

प्रेम शायरी ( Prem Shayari )

Prem Shayariप्रेम शायरी ) kise pasand nahi ati , premm ek esa shabd hai jo man ko pavitra kar deta hai . Prem se sari duniya me khusiyan hai . Ap logo ke liye khaas Prem Shayari ( प्रेम शायरी ) jo apke man ko Khusiyon Se bhar degi. Agar apko yeh Prem Shayari apko accha lage to apne dosto ke sath ise jarur share kare. 

 

हमे फिर सुहाना नज़ारा मिला है, 

क्योंकि जिंदगी में साथ तुम्हारा मिला है, 

अब जिंदगी में कोई ख्वाइश नही रही, 

क्योंकि हमे अब तुम्हारी बाहों का सहारा मिला है

 

होती नहीं है मोहब्बत सूरत से,

मोहब्बत तो दिल से होती है,

सूरत उनकी खुद-ब-खुद लगती है प्यारी,

कदर जिनकी दिल में होती है

 

सब ने चाहा कि उसे हम ना मिलें,

हम ने चाहा उसे गम ना मिलें,

अगर ख़ुशी मिलती है उसे हम से जुदा होकर,

तो दुआ है ख़ुदा से कि उसे कभी हम ना मिलें

 

खुशबू बनकर तेरी साँसों में शमा जायेंगे,

सुकून बनकर तेरे दिल में उतर जायेंगे,

महसूस करने की कोशिश तो कीजिये एक बार,

दूर रहते हुए भी पास नजर आएंगे

 

चाहत हुई किसी से तो फिर बेइन्तेहाँ हुई,

चाहा तो चाहतों की हद से गुजर गए,

हमने खुदा से कुछ भी न माँगा मगर उसे,

माँगा तो सिसकियों की भी हद से गुजर गये

 

आज भी तेरे कदमो के निशान रहते हैं, 

क्योंकि हम इस रास्ते से किसी को गुजरने नही देते हैं।

 

अजीब कहानी है इस मोहब्बत की भी,

जिसने कदर की उसे मिली नहीं,

और जिसे मिली उसने कभी कदर की नहीं

 

इश्क़ तो बस मुक़द्दर है कोई ख्वाब नहीं,

ये वो मंज़िल है जिस में सब कामयाब नहीं,

जिन्हें साथ मिला उन्हें उँगलियों पर गिन लो,

जिन्हें मिली जुदाई उनका कोई हिसाब नहीं

 

शराब तो यूँ ही बदनाम है।

हमने तो मोहब्बत के नशे में,

लोगों को मरते हुए देखा है

 

मेरा हर लम्हा चुराया आपने,

आँखों को एक ख्वाब देखाया आपने,

हमें ज़िंदगी दी किसी और ने,

पर प्यार में जीना सिखाया आपने

 

रात को रात का तोफा नहीं देते, 

दिल को जजबात का तोफा नहीं देते, 

देने को तो हम आप को चाँद भी दे दे, 

मगर चाँद को चाँद का तोफा नहीं देते

 

आज रख दूंगा मैं तेरे सामने ये सारा संसार।

तुम अपने दिल में रख लेना मेरा भी प्यार

 

कल हलकी सी बरसात में हो गयी मुलाक़ात उनसे, 

नज़रों की शबनम ने जैसे कर ली हो हर बात उनसे, 

उनकी आँखों में थी ऐसी कशिश के क्या कहें, 

मेरे जिस्म के रोम रोम ने कर ली मोहब्बत उनसे

 

चाल तेरी मस्तानी है रूप तेरी सुहानी है।

सच पूछो तो जानम तुम मेरे नजरो में बसी दीवानी है

 

संभाले नहीं संभलता है दिल,

मोहब्बत की तपिश से न जला,

इश्क तलबगार है तेरा चला आ,

अब ज़माने का बहाना न बना

 

जाने उस शख्स को कैसा ये हुनर आता है,

रात होती है तो आँखों में उतर आता है,

मैं उस के ख्यालों से बच के कहाँ जाऊं,

वो मेरी सोच के हर रस्ते पे नजर आता है

 

Zindagi में एक बार प्यार तो करना ही चाहिए।

सच्चा हो तो जिन्दगी बन जाती है और,

झूठा हो तो Tajurba मिल जाता है

दिल में सिर्फ आप हो और कोई खाश कैसे होगा, 

यादों में आपके सिवा कोई पास कैसे होगा, 

हिचकियाँ कहती हैं आप मुझे याद करते हो, 

पर बोलोगे नहीं तो मुझे ये एहसास कैसे होगा 

 

उन  हसीं  पालो  को  याद  कर  रहे  थे ,

आसमान  से  आपकी  बात  कर  रहे  थे ,

सुकून  मिला  जब  हमे  हवाओ  ने  बताया ,

आप  भी  हमें  याद  कर  रहे  थे

Ummid karte hai yeh Prem Shayari apko pasand ayi hogi , agar apko yeh prem shayari ( प्रेम शायरी ) pasand ayo ho to ise apne dosto ke sath jarur share kre , unhe bhi accha lagega padh kar . Padhne ke liye bhot bhot djanyawad.

App yeh Romantic shayari Bhi padh Sakte hain.