ASI Surrender in front Pandokhar Sarkar for Solve Murder Case

हत्या की गुत्थी सुलझाने ‘पांडोखर सरकार’ के सामने नतमस्तक हुए ASI, कहा- अपराधियों को पकड़वा दो….

हत्या की गुत्थी सुलझाने ’पांडोखर सरकार’ के सामने नतमस्तक हुए ASI! ASI Surrender in front Pandokhar Sarkar for Solve Murder Case

Edited By: , August 19, 2022 / 01:30 PM IST

छतरपुरः ASI Surrender in front Pandokhar Sarkar कहते हैं न कि पुलिस अगर अपने पर आ जाए तो कोई भी अपराधी बचकर नहीं जा सकता। लेकिन मध्यप्रदेश पुलिस में कुछ उल्टा ही नजर आ रहा है। जी हां अपराधी को पकड़ने पुलिस अब बाबाओं के सामने नतमस्तक हो गई है। हैरानी की बात ये है कि बाबा के बताने के आधार पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया है। बाबा और पुलिसकर्मी का ये वीडियो अब सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है।

Read More: बड़ी लापरवाही! स्कूल में तिरंगा फहराते ही बजा दी “बुंदेली राई”, भारी बारिश के बीच बच्चों सहित शिक्षक भी थिरके,वीडियो वायरल

ASI Surrender in front Pandokhar Sarkar मिली जानकारी के अनुसार मामला छतरपुर जिले का है, जहां लापता होने के दो दिन बाद एक युवती की लाश कुएं में मिली थी। मामले की सुचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और जांच में जुट गई। लेकिन जांच के बाद भी पुलिस आरोपियों तक नहीं पहुंच पाई। अंततः पुलिस ने त्रिकालदर्शी कहे जाने वाले बाबा यानि पांडोखर सरकार के शरण में जा पहुंची। इसके बाद वहां के बाबा के द्वारा बताए नामों के आधार पर छतरपुर पुलिस ने चाचा को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया। वहीं, जब मामला सामने आया तो एएसआई को सस्पेंड कर दिया गया।

Read More: दही-हांडी में हिस्सा लेने वाले युवाओं को मिलेगी सरकारी नौकरी, मिला साहसिक खेल का दर्जा

वहीं इस वीडियो के वायरल होने के बाद प्रदेश की विपक्षी पार्टी कांग्रेस पुलिस प्रशासन पर हमलावर है। प्रदेश कांग्रेस नेता पीसी शर्मा ने पुलिस प्रशासन पर सवालिया निशान लगाते हुए कहा है कि प्रदेश में पुलिस नाम की कोई चीज ही नहीं है।

Read More: शाहरुख की ‘जीरों’ के बाद अब ‘लाल सिंह चड्ढा’ खराब कमाई में हुआ पीछे, महज इतने करोड़ में सिमट सकती है फिल्म

गौरतलब है कि मामला छतरपुर जिले के बमीठा थाना अंतर्गत ओटापुरवा की है, यहां पर घर से लापता 17 वर्षीय लड़की की दो दिन बाद लाश कुएं में तैरती हुई संदिग्ध परिस्थितियों में मिली थी। इस हत्या को लेकर मृतक लड़की के परिजनों ने गांव के ही सजातीय तीन लड़को पर लड़की के साथ गैंगरेप के बाद हत्या करके लाश को कुएं में फेंकने का आरोप लगाया था। मां बाप मजदूरी करने दिल्ली गए थे और 17 वर्षीय नाबालिग लड़की 12वीं में आरडीएस स्कूल बमीठा में पढ़ती थी। वह अपनी दादा दादी के पास घर में रहती थी, मंगलवार की रात लड़की घर से लापता हो गई। घर से लापता होने के बाद नाबालिग लड़की की लाश गुरुवार को शाम के वक्त चरवाहे ने पनिया कुएं हार में तैरती मिली।

Read More: विद्या के मंदिर में नशेड़ी शिक्षक का आतंक , नशे में बच्चों के साथ करता था ये काम

देश दुनिया की बड़ी खबरों के लिए यहां करें क्लिक