Digvijay singh: क्या कांग्रेस के नीलकंठ बनना चाह रहे है दिग्विजय सिंह?

क्या कांग्रेस के नीलकंठ बनना चाह रहे है दिग्विजय सिंह?

digvijay singh: पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने टिकट को लेकर कहा कि पार्टी में जिस-जिस के भी टिकट कटे है वो मैंने काटे है, और जितने भी टिकट बांटे गए है वो पीसीसी चीफ कमलनाथ ने बांटे है।

Edited By: , June 25, 2022 / 04:41 PM IST

Digvijay singh: भोपाल। नगरीय निकाय चुनावों में कांग्रेस के बागी प्रत्याशियों ने पार्टी की टेंशन बढ़ा दी है। हालांकि डैमेज कंट्रोल के लिए पार्टी ने हर बार की तरह इस बार भी राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह को मैदान में उतारा है। भोपाल में पार्टी के पदाधिकारियों की बैठक में रुठे कार्यकर्ताओं को मानाने के लिए दिग्विजय सिंह ने कहा कि जिनके टिकट कटे हैं वो ये मान लें कि दिग्विजय सिंह ने कटवाए हैं और जिन्हें मिले हैं वो ये मान लें कि उन्हें कमलनाथ ने टिकट दिए हैं। लेकिन सभी को एकजुट होकर बीजेपी सरकार के खिलाफ काम करना है। दिग्विजय सिंह ने कहा कि मैं सन 1985 से टिकट बांट रहा हूं ये सबसे बेकार काम है। मेरे कहने से जिन्होंने अपना नामांकन वापस लिया है मैं उनके घर उनका आभार प्रकट करने जा रहा हूं। लेकिन जो बागी निर्दलीय कांग्रेस के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं उन्हें पार्टी से निष्कासित करने की मांग करता हूं। दरअसल दिग्विजय सिंह इसके पहले भी कोर्डिनेशन की जिम्मेदारी साल 2018 के विधानसभा चुनावों में उठा चुके हैं। जानकार मानते हैं कि दिग्विजय सिंह के ही कमाल की वजह से कांग्रेस ने सत्ता का वनवास खत्म किया था। हालांकि एक बार फिर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष कमनलाथ ने दिग्विजय सिंह पर नाराज़ कार्यकर्ताओं को मनाने की जिम्मेदारी दी है। जाहिर है दिग्विजय सिंह के इस बयान के बाद उनके समर्थक उन्हें कांग्रेस का नीलकंठ कहने लगे हैं।

 

ये भी पढ़े-  Hera Pheri 3:  फिर हंसाने आएगी ‘हेरा फेरी’ की तिगड़ी, अक्षय नहीं बनना चाहते थे फिल्म का हिस्सा, लेकिन अब…

 

Digvijay singh: मध्यप्रदेश के नगरीय निकाय चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशियों को बंटे टिकट को लेकर कार्यकर्ताओं में भारी नाराजगी है। जिसके चलते आज पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने टिकट को लेकर कहा कि पार्टी में जिस-जिस के भी टिकट कटे है वो मैंने काटे है, और जितने भी टिकट बांटे गए है वो पीसीसी चीफ कमलनाथ ने बांटे है। इसलिए जिस भी कार्यकर्ता को नाराजगी है वो उन पर नाराजगी निकाले लेकिन, पार्टी के लिए काम करें। आगे उन्होंने कहा कि मैं और कमलनाथ दोनों मिलकर चुनाव लड़ रहे है। आप सभी को भी मिलकर एकसाथ खड़े होना पड़ेगा। क्योंकि ये चुनाव किसी एक मात्र व्यक्ति का नहीं बल्कि पार्टी का चुनाव है, और इसे जिताने में कोई कोर कसर नहीं छोड़नी है।

 

#HarGharTiranga