Staff nurse took out the female patient suffering from cancer from the ward

Damoh news: स्टॉफ नर्स ने कैंसर पीड़ित मरीज के साथ की ऐसी हरकत, गुस्साए परिजनों ने किया जमकर हंगामा, लगाए गंभीर आरोप

स्टॉफ नर्स ने कैंसर पीड़ित मरीज के साथ की ऐसी हरकत Staff nurse took out the female patient suffering from cancer from the ward

Edited By :   May 30, 2023 / 11:52 AM IST

Staff nurse took out the female patient suffering from cancer from the ward

दमोह। हमेशा से सुर्खियों मे छाई जिला अस्पताल का देर रात एक और कारनामा सामने आया है, जहां पर एक स्टॉफ नर्स के द्वारा एक कैंसर पीड़ित महिला मरीज को बार्ड से बाहर निकल दिया, जिसके बाद मौके पर पहुंचे परिजनों ने जमकर हंगामा किया। यह हंगामा करीब घंटो चलता रहा, मगर जिला अस्पताल का एक भी वरिष्ठ अधिकारी मौके पर नहीं आया, उसके बाद परिजन मरीज को स्ट्रेचर पर रखकर बाहर लाये, और मरीज को प्राइवेट अस्पताल ले गए।

Read More: तेज रफ्तार का कहर.. दशगात्र कार्यक्रम में आए कार सवारों को हाइवा ने मारी ठोकर, चार लोगों की हालत गंभीर

महिला को कोई भी डॉक्टर देखने नहीं पंहुचा

मामले मे जानकारी अनुसार बताया जा रहा है की घटना जिला अस्पताल के महिला वार्ड की है, जहां पर सोमवार को जिले के बटियागढ़ तहसील अंतर्गत आने वाले ग्राम सातपुर निवासी एक तिवारी परिवार की महिला कैंसर रोग से पीड़ित थी, जिसकी हालत काफ़ी गंभीर थी, मुँह से खून भी आ रहा था। सोमवार करीब 2 बजे से जिला अस्पताल के महिला वार्ड में भर्ती थी, मगर उसे कोई भी डॉक्टर देखने नहीं पंहुचा। औइस बीच महिला की हालत और बिगड़ती चली गई। परिजनों ने वार्ड में मौजूद स्टॉफ नर्स से बार-बार इस सम्बन्ध में बात भी की, मगर स्टॉफ नर्स अपने मोबाइल में व्यस्त रही। इस बीच  परिजनों का गुस्सा भड़क गया, जिसके बाद परिजनों ने जमकर हंगामा किया।

Read More: ड्यूटी से लौट रहे CMO पर जानलेवा हमला, नकाबपोश बदमाशों ने की लाठी-डंडों से पिटाई 

परिजनों ने स्टॉफ नर्स पर लगाए गंभीर आरोप

परिजनों ने स्टॉफ नर्स पर गंभीर आरोप लगाए है। उनका कहना है की, वे लोग अस्पताल के बाहर आये थे, तभी उनके मरीज को स्टॉफ नर्स के द्वारा बार्ड से बाहर निकाल दिया गया। जब परिजन वार्ड में पहुंचे तो, महिला वार्ड के बाहर गैलरी में पड़ी हुई थी और मुँह से काफ़ी खून आ रहा था, जिसे देख परिजनों का गुस्सा भड़क गया। हालांकि घंटो चले इस हंगामा में जिला अस्पताल का एक भी वरिष्ठ अधिकारी मौके पर नहीं पंहुचा। बाद में परिजन अपने मरीज को स्ट्रेचर पर रखकर अस्पताल से बाहर ले आये और प्राइवेट अस्पताल ले गए।

Read More: 26 गांवों के किसानों ने दी विधानसभा चुनाव का बहिष्कार करने की धमकी, जानिए वजह 

ज्ञात हो की जिला अस्पताल मे लगातार ही इस प्रकार के मामले सामने आते रहते हैं। यहाँ के डॉक्टर तथा नर्सो का मरीजों के प्रति बर्ताव चर्चा का विषय बना हुआ है, वहीं इस पर वरिष्ठ अधिकारी भी ध्यान नहीं दे रहे है। इस मामले मे अस्पताल प्रशासन कैमरे पर बोलने से बचता नजर आ रहा है। IBC24 से जितेंद्र कुमार गौतम की रिपोर्ट

IBC24 की अन्य बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

 
Flowers