मानसून में बंद हुए मध्य प्रदेश के छह बाघ अभयारण्य एक अक्टूबर से फिर से खुलेंगे |

मानसून में बंद हुए मध्य प्रदेश के छह बाघ अभयारण्य एक अक्टूबर से फिर से खुलेंगे

मानसून में बंद हुए मध्य प्रदेश के छह बाघ अभयारण्य एक अक्टूबर से फिर से खुलेंगे

: , November 29, 2022 / 08:09 PM IST

भोपाल, 29 सितंबर (भाषा) मध्य प्रदेश में मानसून के कारण तीन महीने तक बंद रहने के बाद छह बाघ अभयारण्य एक अक्टूबर से पर्यटकों के लिए खुल जाएंगे। एक अधिकारी ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी।

भारत में 52 बाघ अभयारण्य हैं। उनमें से छह अभयारण्य कान्हा, बांधवगढ़, सतपुड़ा, पेंच, पन्ना और संजय-दुबरी मध्य प्रदेश में हैं।

सतपुड़ा टाइगर रिजर्व के क्षेत्र निदेशक एल कृष्णमूर्ति ने पीटीआई-भाषा को बताया कि मानसून के तीन महीने की अवधि के दौरान अभयारण्य के मुख्य क्षेत्रों को बंद कर दिया जाता है जबकि पर्यटकों के लिए ‘बफर जोन’ चालू थे।

कृष्णमूर्ति ने कहा कि मानसून के समय अभ्यारण्य के मुख्य क्षेत्र को इसलिए बंद किया जाता है क्योंकि यह बाघों के लिए मिलन का मौसम होता है, इसके अलावा बारिश के कारण अभयारण्य के अंदर के रास्ते वाहन चलाने लायक नहीं रहते हैं।

उन्होंने कहा कि इस अवधि के दौरान जानवरों के लिए घास के मैदान आदि विकसित किए जाते हैं। अखिल भारतीय बाघ अनुमान रिपोर्ट 2018 के अनुसार, देश में 2,967 बाघ हैं। इनमें सबसे अधिक 526 मध्य प्रदेश में रहते हैं।

भाषा दिमो सुरभि

सुरभि

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)