लोगों के हक पर डाका, फर्जी सर्टिफिकेट बनवाकर UP के युवा हड़प रहे यहां की सरकारी नौकरी

लोगों के हक पर डाका, फर्जी सर्टिफिकेट बनवाकर UP के युवा हड़प रहे यहां की सरकारी नौकरीः UP's youth grabbing Madhya Pradesh government jobs

Edited By: , May 26, 2022 / 11:49 AM IST

Up’s Youth on Mp Govt jobs मध्यप्रदेश के पन्ना जिले में एक हैरान कर देने वाला फर्जीवाड़ा सामने आया है। यूपी के सरहदी इलाकों के लोग एमपी में फर्जी सर्टिफिकेट बनवाकर SC वर्ग के लोगों के हक पर डाका डाल रहे हैं। दरअसल पन्ना जिला यूपी से लगा हुआ है। यूपी में प्रजापति यानि कुम्हार OBC में आते हैं, जबकि एमपी में SC वर्ग में आते हैं और यही वजह है कि यूपी के युवाओं ने पन्ना जिले में रहकर अफसरों से मिलीभगत कर पहले एमपी से SC का सर्टिफिकेट बनवाया और फिर एमपी में निकली सरकारी नौकरी भी हासिल कर ली।

Read more :  अब मिलेगा फ्री वाई-फाई इंटरनेट, छत्तीसगढ़ में शुरू हुई PM-WANI योजना

बताया जा रहा है कि पन्ना में 186 लोगों ने फर्जी SC प्रमाण पत्र के जरिये नौकरी हासिल की लेकिन 61 पर जांच में पुष्टि हुई है और सरकारी नौकरी पाई है। जिसे लेकर अजयगढ़ के एक युवक ने उच्च न्यायालय में एक जनहित याचिका दायर की है, जिसमें बताया गया है कि किस तरह से फर्जीवाड़ा किया गया।

Read more :  मध्यप्रदेश के कई नगरीय निकायों में पूरी हुई आरक्षण प्रक्रिया, चुनावी तैयारियों में जुटी भाजपा और कांग्रेस 

इस फर्जीवाड़े का सबसे पहले खुलासा सूचना के अधिकार के तहत निकाले गए दस्तावेजों से हुआ था, जिसमें तत्कालीन कलेक्टर दीपाली रस्तोगी ने जांच कराकर ये सिद्द पाया था कि ऐसे करीब 61 लोग हैं, जो जांच में फर्जी रूप से जाति प्रमाण पत्र बनाकर नौकरी कर रहे हैं। जनहित याचिका के जरिये मामला हाईकोर्ट पहुंच गया है। मामले में अजयगढ़ SDOP अजय बाघमारे को जांच अधिकारी बनाया गया है। अफसर का कहना है कि जो भी अदालत का फैसला होगा। उसके अनुसार कार्रवाई करेंगे।

Read more :  बिलासपुर में होगी कांग्रेस की दो दिवसीय राज्य स्तरीय कार्यशाला, सीएम भूपेश समेत कई बड़े नेता होंगे शामिल 

सामाजिक रूप से पिछड़े लोगों को उठाने और बराबरी में लाने के लिए सरकार आरक्षण देती है। एमपी में कुम्हार भी पिछड़े हुए हैं और राज्य में SC वर्ग में आते हैं। लेकिन इनके हकों पर दूसरे राज्य के युवाओँ ने फर्जी सर्टिफिकेट के जरिये डाका डाल दिया। अब इस फर्जीवाड़े पर अदालत में जिरह होगी। अनुमान लगाया जा रहा है कि फर्जीवाड़े में शामिल लोगों के साथ वो अफसर भी नपेंगे जो इस फर्जीवाड़े में घूस लेकर अब तक मौज काटते आए हैं। एमपी के SC वर्ग के कुम्हारों को भी मामला अदालत पहुंचने पर न्याय की उम्मीद जगी है। SC वर्ग को पूरा भरोसा है कि अदालत दूध का दूध और पानी का पानी करेगी।